Thursday, Aug 18, 2022
-->
Pakistani drone dropped weapons in India search operation continues in the area PRSHNT

पाकिस्तानी ड्रोन ने भारत में गिराए हथियार, क्षेत्र में सर्च ऑपरेशन जारी, सुरक्षा एजेंसियां हुई सतर्क

  • Updated on 12/4/2020

नई दिल्ली/ टीम डिजिटल। पाकिस्तान (Pakistan) अपनी हरकतों से बाज नहीं आ रहा, हाल ही में पाकिस्तानी ड्रोन (drones) से भारत में हेरोइन और हथियारों की खेप उतारी है। भारतीय क्षेत्र में ड्रोन से रेकी करने पर बीएसएफ के जवानों द्वारा फायरिंग का मामला सामने आया है। जानकारी मिली है कि पाकिस्तान की खुफिया एजेंसी आइएसआइ (ISI) हेरोइन और हथियारों को भारतीय तस्करों के साथ मिलकर उसे ठिकाना लगाने की तैयारी में है।

वहीं पंजाब पुलिस (Punjab Police) और बीएसएफ (BSF) द्वारा बार्डर ऑब्जिर्विंग पोस्ट कोट रजादा और उसने आसपास लगते गांवों में तलाशी अभीयान चलाया जा रहा है। 

सुप्रीम कोर्ट ने लॉटरी, सट्टेबाजी, जुए पर GST लगाने को सही ठहराया

खुफिया एजेंसी ने दी जानकारी
दरअसल खुफिया एजेंसी ने जानकारी दी है कि पिछले तीन दिन में पाकिस्तानी ड्रोन भारतीय सीमा में चार बार आ चुका है। खुफिया एजेंसी के एक अधिकारी ने बताया कि आइएसआइ ड्रोन के जरिए हथियारों की बड़ी खेप भारत भेज चुकी है और उसे ठिकाने लगाने के लिए खालिस्तानी आतंकी सीमावर्ती गांवों में रहने वाले पुराने तस्करों का सहयोग ले रहे हैं।

अब सुरक्षा एजेंसियां तलाशी अभीयान चलाकर भारत पहुंची उक्त हथियारों की खेप को जल्द से जल्द कब्जे में करना चाहती हैं। इसलिए पुलिस, बीएसएफ और सुरक्षा एजेंसियां कोट रजादा और आसपास के क्षेत्रों में सर्च अभियान में लगी हैं।

GHMC में BJP को बढ़तः ओवैसी के गढ़ में BJP के लिए हैदराबाद की लड़ाई क्यों है अहम? 

ड्रोन गिराने के लिए जवानों ने की फायरिंग
बता दें कि 30 नवंबर को रात के अंधेरे और कोहरे का फायदा उठाते हुए बीओपी कोट रजादा के जरिए पाकिस्तानी ड्रोन 15 किलोमीटर अंदर आ गया था। बताया जा रहा है कि पहले दिन बीएसएफ की 73 बटालियन के जवानों ने 70 राउंड फायर भी किए थे, लेकिन ड्रोन को नहीं गिरा सके।

पाक ड्रोन को गिराने के लिए जवानों ने फायरिंग की, लेकिन वह पाक लौट गया। दरअसल मंगलवार की रात 11.15 से 11.17, 11.45 से 11.47 और 12.20 से 12.30 के बीच ड्रोन की कई बार आवाज सुनी गई। 

Surya Grahan 2020: इस दिन लगने जा रहा साल का आखिरी सूर्यग्रहण, सूतक काल को लेकर उठे सवाल

साल 2019 में क्रैश हुए पाकिस्तान ड्रोन के हिस्से हुए बरामद
बताया जा रहा है कि जो ड्रोन भारतीय क्षेत्र में रेकी करते देखा गया है। वह पांच से सात किलोग्राम तक का वजन उठाने में सक्षम है और दो किलोमीटर ऊपर उठकर उड़ सकता है।

सुरक्षा एजेंसियां साल 2019 में क्रैश हुए पाकिस्तानी ड्रोन के हिस्से बरामद कर चुकी है। वहीं आतंकियों को गिरफ्तार कर उनके कब्जे से एक टाइप की छह राइफलें, गोली-सिक्का, मैगजीन बरामद किए जा चुके हैं। 

यहां पढ़े अन्य बड़ी खबरें...

comments

.
.
.
.
.