Sunday, Oct 21, 2018

यरुशलम में हिंसा से नाराज फिलिस्तीनी राष्ट्रपति, अमेरिका में दूतावास को लगाया ताला

  • Updated on 5/16/2018

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। यरुशलम मुद्दे पर फिलिस्तीन और इजराइल का संघर्ष खत्म होने का नाम ही नहीं ले रहा है। हाल ही में इजराइल में अमेरिकी दूतावास के उद्घाटन बाद इस मामले ने तूल पकड़ लिया है। पहले फिलिस्तीनी और इजराइली के बीच हिंसा और अब फिलिस्तीनी राष्ट्रपति महमूद अब्बास द्वारा अमेरिका से अपने राजदूत को वापस बुलाए जाने से मामला गरमा गया है।

इजराइल में अमेरिकी दूतावास के उद्घाटन से नाराज फिलिस्तीनी राष्ट्रपति ने अपने राजदूत को वापस बुलाने का फैसला किया है। फलस्तीन पहले से ही इस बात का विरोध जता चुका था। यरुशलम को लेकर इजराइली और फलस्तीन दोनों ही अपना दावा ठोक चुके हैं। अमेरिका पहले ही यरुशलम को इजराइली की राजधानी बता चुका है जिसको लेकर फलस्तीन अमेरिका से नाराज है।

Navodayatimes

अमेरिका ने दी जानकारी, उ.कोरिया का परमाणु स्थल तोड़ने का कार्य जारी

फलस्तीन के विदेश मंत्रालय से राजदूत को वापस बुलाने का फैसला अमेरिकी दूतावास के उद्घाटन को लेकर शुरू हुए वरोध और हिंसा प्रदर्शन के एक दिन बाद लिया गया है। फिलिस्तीन लिबरेशन संगठन के प्रमुख हुसम जोमलोट ने कहा कि, वह आज यानि 16 मई को फलस्तीन लौट जायेंगे। ​हालांकि उन्होंने यह नहीं बताया कि उन्हें कितने दिनों के लिए वापस बुलाया गया है।

गौरतलब है कि तेल अवीव से अमेरिकी दूतावास यरुशलम में शिफ्ट करने को लेकर फिलिस्तीनी भड़के ​हुए थे जिसके चलते उन्होंने इजराइली सैनिकों के साथ मारपीट की। इस हिंसा के दौरान इजराइली बलों की गोलीबारी करीब 60 लोग मारे गये और 2400 से अधिक लोग घायल हो गए थे। इस मामले पर फिलीस्तीनी नेतृत्व के पूर्व सलाहकार खालिद एल्गीन्डी ने अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप को निशाना बनाया है।

Navodayatimes

अमरीका ने यरूशलम में खोला दूतावास, इजराइल-फिलिस्तीन संघर्ष में 52 की मौत

उन्होंने कहा कि, अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने इस मामले को शांत करने के लिए कुछ नहीं किया बल्कि वह सिर्फ तमाशा देख रहे थे। उन्हें कम से कम इजराइली सेना को गोलबारी करने से रोकना चाहिए था ताकि जो अतने फिलीस्तीनी मारे गए और घायल ​हुए वह ना होता। उधर अल कायदा आतंकी अयमान-अल-जवाहिरी ने कहा कि अब मुस्लिमों को अमेरिका के खिलाफ जिहाद करना चाहिए।

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.