Friday, Sep 30, 2022
-->
Parents performed yagya for the purification of intelligence of private schools and government

निजी स्कूलों व सरकार की बुद्धि शुद्धि के लिए अभिभावकों ने कराया यज्ञ

  • Updated on 9/22/2021

नई दिल्ली/टीम डिजीटल। कोरोना काल में निजी स्कूलों पर लूट व शिक्षा का व्यापारीकरण करने व इस मुद्दे पर केन्द्र और राज्य सरकारों द्वारा चुप्पी साधने के आरोप लगाते हुए बुधवार को गाजियाबाद पेरेंट्स एसोसिएशन ने जिला मुख्यालय पर बुद्धि-शुद्धि यज्ञ का आयोजन किया। जिसमे अभिभावको ने यज्ञ के हवन कुंड में प्रज्वलित अग्नि एवम मंत्रों के उच्चारण के साथ अपनी आहुति दी। जीपीए ने यज्ञ पूरा होने पर मुख्यमंत्री के नाम 10 सूत्रीय मांगों को लेकर जिलाधिकारी को ज्ञापन भी सौंपा।    

एसोसिएशन ने रखी यह दस मांगे 
पेरेंट्स एसोसिएशन की अध्यक्ष सीमा त्यागी ने बताया कि डीएम को सौंपे ज्ञापन में एसोसिएशन की ओर से 10 मांगे रखी गई हैं। जो इस प्रकार थीं
1- कोरोना काल स्कूल द्वारा वसूली फीस में से ऑन लाइन शिक्षा की निर्धारित फीस वापस की जाए
2- निजी स्कूलों की पिछले 10 साल की बैलेंस शीट की जांच कराई जाए
3-प्रदेश के सरकारी स्कूलो को विश्वस्तरीय बनाया जाए व प्रदेश मे सीबीएसई बोर्ड से मान्यतप्राप्त ज्यादा से ज्यादा सरकारी स्कूल खोले जांए
4- प्रदेश के प्रत्येक सांसद और विधायक को 5 सरकारी स्कूल गोद देकर उनकी दशा सुधार विश्वस्तरीय बनाने की जिम्मेदारी दी जाए
5-हर जिले में कम से कम एक-एक सैनिक स्कूल खोला जाए
6-बाल शिक्षा अधिकार के तहत चयनित बच्चो को एडमिशन नही दिए जाने पर ऐसे स्कूलो की मान्यता तत्काल प्रभाव से रद्द की जाए
7- जिले में गठित जिला स्तरीय शुल्क नियामक समिति के अध्य्क्ष जिलाधिकारी को सख्त आदेश कर वार्षिक शुल्क सहित अन्य शुल्कों को ट्यूशन फीस से अलग कर फीस बढ़ोतरी पर अंकुश लगाने का आदेश पारित कराया जाए
8-प्रदेश के प्रत्येक जिले मे जिला स्तरीय शुल्क नियामक समिति गठित करने के आदेश पारित कर उच्चस्तरीय निगरानी कमेटी का भी गठन किया जाए
9-छात्र व छात्राओ के मानसिक विकास में महत्वपूर्ण भूमिका अदा करने वाली सस्ती एवम सुलभ एनसीईआरटी की पुस्तकें मुहैया कराई जाएं
10- प्रदेश के निजी स्कूलो का रजिस्ट्रेशन सोसाइटी एक्ट से हटा कर कंपनी एक्ट में संशोधित करने का आदेश पारित किया जाए । 

इस मौके पर सतपाल चौधरी, अनिल सिंह , उषा , साधना सिंह , रजनी , नवीन राठौर , मनोज वर्मा , जसवीर रावत , नरेश कसोना , ललित कुमार , दिनेश खन्ना , निकुंज डोगरा , मनीष शर्मा , अमित चौधरी ,डॉ राजीव शर्मा , हरेंद्र नेगी , पुष्कर नेगी , जगदीश पटवाल , एवम भारी संख्या में अभिभावक मौजूद रहे।
 

comments

.
.
.
.
.