Saturday, Jul 31, 2021
-->
patanjali-coronil-not-allowed-for-sale-in-maharashtra-without-certificate-deshmukh-rkdsnt

पतंजलि की कोरोनिल को बिना सर्टिफिकेट महाराष्ट्र में बिक्री की इजाजत नहीं : देशमुख 

  • Updated on 2/23/2021

नई दिल्ली/ टीम डिजिटल। महाराष्ट्र के गृह मंत्री अनिल देशमुख ने कहा है कि बिना उचित प्रमाणन के राज्य में पतंजलि की कोरोनिल टैबलेट की बिक्री की अनुमति नहीं दी जाएगी। इससे पहले इंडियन मेडिकल एसोसिएशन (आईएमए) ने कोरोनिल के लिए विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) के प्रमाणन के ‘सफेद झूठ’ पर क्षोभ जताया था। इसके एक दिन बाद देशमुख का यह बयान आया है। पतंजलि ने दावा किया था कि यह कोविड-19 के इलाज की एक प्रमाण आधारित दवा है। 

उत्तर पूर्वी दिल्ली दंगों पर अल्पसंख्यक आयोग की फैक्ट फाइंडिंग रिपोर्ट के खिलाफ याचिका

आईएमए ने इस बारे में केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन से भी स्पष्टीकरण मांगा है। इस दवा को पेश किए जाने के मौके पर हर्षवर्धन भी मौजूद थे। वहीं डब्ल्यूएचओ ने स्पष्ट किया है कि उसने कोविड-19 के इलाज के लिए न तो किसी परंपरागत दवा की समीक्षा की है और न ही उसे प्रमाणन दिया है। 

किसान आंदोलन : नरेश टिकैत बोले- नहीं चलेगी मोदी सरकार की मनमानी

कोरोनिल पर पतंजलि के दावे से हैरान IMA ने स्वास्थ्य मंत्री हर्ष वर्धन से मांगा स्पष्टीकरण

देशमुख ने ट्विटर पर किसी का नाम लिए बिना कहा कि यह काफी खेद की बात है कि दो केंद्रीय मंत्री इस दवा का ‘समर्थन’ कर रहे हैं। देशमुख ने कहा कि आईएमए ने कोरोनिल के नैदानिक परीक्षण पर सवाल उठाया है जबकि डब्ल्यूएचओ ने पतंजलि के झूठे दावे को खारिज कर दिया है। 

यूपी के शाहजहांपुर में अधजली, नग्न अवस्था में मिली स्नातक की छात्रा


 

यहां पढ़े अन्य बड़ी खबरें... 

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.