Friday, Oct 30, 2020

Live Updates: Unlock 5- Day 30

Last Updated: Fri Oct 30 2020 10:35 PM

corona virus

Total Cases

8,112,263

Recovered

7,397,307

Deaths

121,344

  • INDIA8,112,263
  • MAHARASTRA1,666,668
  • ANDHRA PRADESH1,648,665
  • KARNATAKA816,809
  • TAMIL NADU719,403
  • UTTAR PRADESH477,895
  • KERALA418,485
  • NEW DELHI381,644
  • WEST BENGAL369,671
  • ARUNACHAL PRADESH325,396
  • ODISHA288,646
  • TELANGANA235,656
  • BIHAR214,946
  • ASSAM205,635
  • RAJASTHAN193,419
  • CHANDIGARH183,588
  • CHHATTISGARH183,588
  • GUJARAT171,040
  • MADHYA PRADESH169,999
  • HARYANA163,817
  • PUNJAB132,727
  • JHARKHAND100,964
  • JAMMU & KASHMIR92,677
  • UTTARAKHAND61,566
  • GOA42,747
  • PUDUCHERRY34,482
  • TRIPURA30,290
  • HIMACHAL PRADESH21,476
  • MANIPUR17,604
  • MEGHALAYA8,677
  • NAGALAND8,296
  • LADAKH5,840
  • ANDAMAN AND NICOBAR ISLANDS4,305
  • SIKKIM3,863
  • DADRA AND NAGAR HAVELI3,238
  • MIZORAM2,656
  • DAMAN AND DIU1,381
Central Helpline Number for CoronaVirus:+91-11-23978046 | Helpline Email Id: ncov2019 @gov.in, ncov219 @gmail.com
patanjali prepared the first corona medicine of ayurveda djsgnt

कोरोना की काट है कोरोनिल! जानें दुनिया का रक्षक कैसे बना पतंजलि

  • Updated on 6/23/2020

नई दिल्ली/ धीरज कुमार। योग गुरू बाबा रामदेव और उनकी पतंजलि ने दुनियाभर के वैज्ञानिकों व चिकित्सक सेवा से जुड़े लोगों को हैरान करते हुए कोरोना वायरस जैसी भयानक महामारी की दवा निकालने का दावा किया है। मंगलवार को बाबा रामदेव ने कोरोना की काट के रूप में कोरोनिल दवा को लॉन्च कर दिया।

Coronil

सौ फीसदी मरीज हुए ठीक
लॉन्चिंग प्रोग्राम में यह दावा किया गया कि इस कोरोनिल दवा से डेथ रेट शून्य फीसद है। पतंजलि आयुर्वेद की औषधि दिव्य कोरोनिल टैबलेट का कोरोना मरीजों पर क्लीनिकल ट्रायल किया गया था। जिसके परिणामों की घोषणा करते हुए आचार्य बालकृष्ण ने बताया कि दवा का प्रयोग 280 लोगों पर किया गया। इनमें से 69 फीसद मरीज केवल 3 दिन में ठीक हो गए। जबकि बाकि बचे मरीज सप्ताहभर के अंदर पॉजिटिव से निगेटिव हो गए।

इन संस्थानों में हो रहा शोध
ऐसे में लोगों के मन में सवाल उठ रहे होंगे कि जहां दुनियाभर के वैज्ञानिक, चिकित्सक सेवा से जुड़े तमाम लोग फेल साबित हो रहे हैं। वहां पर आयुर्वेद संजीवनी कैसे बना? पतंजलि योगपीठ के मुताबिक कोरोनिल टैबलेट पर हुआ यह शोध पतंजलि शोध रिसर्च इंस्टीट्यूट हरिद्वार और नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल साइंस जयपुर में संयुक्त रूप से शोध किया गया है।

पतंजलि ने लॉन्च किया कोरोना की दवा, 3 दिन में 69% प्रतिशत मरीज हुए रिकवर

चूहों पर किया गया परीक्षण
इस दवा का निर्माण दिव्य फार्मेसी और हरिद्वार के दिव्य पतंजलि आयुर्वेद लिमिटेड में किया गया। निर्माण के दौरान वैज्ञानिकों की टीम, शोधकर्ता और चिकित्सक भी मौजूद थे। बालकृष्ण ने दावा किया है कि पंतजलि अनुसंधान संस्थान में पांच माह तक शोध और चूहों पर कई दौर के सफल परीक्षण के बाद कोरोनिल दवा बनाने में सफलता मिली है।

Coronil

इन सब चीजों का मिश्रण है दवा
बालकृष्ण के अनुसार इस दवा में अश्वगंधा, गिलोय, तुलसी, श्वसारी रस व अणु तेल हैं। यह दवा अपने प्रयोग और प्रभाव के आधार पर दुनियाभर की प्रमुख मैग्जीन और संस्थान का सुर्खियां बटोर चुका है। अमेरिका के बायोमेडिसिन फार्मोकोथेरेपी इंटरनेशनल जर्नल में इस शोध का प्रकाशन भी हो चुका है।

कोरोना की पहली आयुर्वेदिक दवा कोरोनिल पतंजलि ने की तैयार, आज आचार्य बालकृष्ण करेंगे ऐलान

होम डिलिवरी की जाएगी दवा
इस दवा को मंगलवार से ही बाजार में उतारने का दावा किया गया है। बाबा रामदेव के मुताबिक सात दिन में ये दवा पतंजलि के स्टोर्स पर भी उपलब्ध हो जाएगी। साथ ही इसके अलावा इस दवा की डिलीवरी के लिए एक ऐप लॉन्च किया जाएगा। जिससे लोगों को सहूलियत हो और ऑर्डर करने के तीन दिन के भीतर ही दवा होम डिलिवरी कर दी जाएगी।

comments

.
.
.
.
.