Saturday, Dec 03, 2022
-->
patients came to aiims for treatment now stuck in lockdown covid19 pragnt

दिल्ली AIIMS में इलाज कराने आए मरीज लॉकडाउन की वजह से फंसे, बयां किया अपना दर्द

  • Updated on 4/20/2020

नई दिल्ली/ टीम डिजिटल। पूरे देश में इस समय कोरोना वायरस (Coronavirus) का आतंक छाया हुआ है। इस घातक वायरस के संक्रमण से निपटने के लिए 25 मार्च से देशव्यापी लॉकडाउन (Lockdown) घोषित है। जिसके कारण देश के कई इलाकों में लोग जहां-तहां फंसे हैं। ऐसा ही एक मामला राजधानी दिल्ली (Delhi) के एम्स (AIIMS) का है। यहां इलाज के लिए आए विभिन्न राज्यों के मरीज फंसे हुए हैं, इसके साथ ही उनके परिजन भी इस बंद के बीच फंस गए हैं।

कोविड-19 मरीजों के लिए वैज्ञानिकों ने बनाए उच्च प्रोटीन बिस्किट

एक मरीज ने बयां की अपनी कहानी
लॉकडाउन की वजह से फंसे बिहार (Bihar) के मरीजों में से एक जयप्रकाश ने कहा, 'मैं 13 मार्च को आया था और मेरा ऑपरेशन 30 मार्च को निर्धारित किया गया था, लेकिन डॉक्टरों ने इसे तब तक के लिए टाल दिया है जब तक कि लॉकडाउन पूरी तरह से हटा नहीं जाता है।' बता दें कि लॉकडाउन के कारण किसी तरह के कोई यातायात के साधन न मिलने के कारण दिल्ली में कई लोग फंस गए हैं।

उत्तरप्रदेश: मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के पिता की तबीयत बिगड़ी, रखा गया वेंटिलेटर पर

AIIMS में आज से ओपीडी ऑनलाइन सेवा शुरू
बता दें कि देश में बढ़ते कोरोना के खतरे के बीच दिल्ली के तीन अस्पतालों में ओपीडी सुविधा शुरू कर दिया जाएगा। करीब 26 दिन बाद पुराने मरीजों को राहत देते हुए सोमवार से एम्स ऑनलाइन सेवा शुरू करने जा रही है। इसके अलावा दिल्ली राज्य कैंसर संस्थान में मंगलवार से ओपीडी की सुविधा शुरू कर दी जाएगी। वहीं पूर्वी दिल्ली में दिल्ली सरकार के सबसे बड़े अस्पताल ज़ीटीवी में भी ओपीडी सेवा शुरू होगी, जिसका समय 2 घंटे तय किया गया है। हालांकि इस दौरान अस्पताल में सोशल डिस्टेंसिंग का पूरा ख्याल रखा जाएगा।

लॉकडाउन के दौरान मानवता को जोड़ने वाले कई किस्से आ रहे हैं सामने 

ऑनलाइन पंजीयन के कहा सकते है पूराने मरिज
हाल ही में इस पर फैसला लेते हुए कि समय के साथ मरीजों की संख्या ज्यादा ना हो इसके लिए भी पंजीयन के दौरान ध्यान रखा जाना आवश्यक है एवं प्रबंधन के अनुसार पुराने मरीज वेबसाइट पर लॉगइन कर पंजीयन करा सकते हैं।

पंजीयन के बाद अस्पताल में समय और दिन मिलने के बाद डॉक्टर की तरफ से मरीज को कॉल फोन कॉल कर दिया जाएगा लगभग 28 लोगों के संक्रमित होने से बंद दिल्ली राज्य कैंसर संस्थान मंगलवार से मरीजों के लिए शुरू होने जा रहा है जिसमें 21 अप्रैल से कैंसर ओपीडी की शुरुआत हो जाएगी

पालघर मॉब लिंचिंग मामले में उद्धव ठाकरे ने लिया बड़ा एक्शन, 101 लोगों को किया गिरफ्तार

फिलहाल मरिजों को भर्ती नहीं किया जाएगा
हालांकि इस दौरान मरीजों को भर्ती कराने के लिए फिलहाल अस्पताल प्रबंधन ने 24 अप्रैल तक का वक्त मांगा है, ज़ीटीवी अस्पताल प्रबंधन ने सोमवार से सुबह 8:00 वजह से 10:30 बजे तक ओपीडी सेवा खोली है, इसके साथ ही मरीजों की संख्या नियंत्रित रखने के लिए पंजीयन भी सीमित ही रखी जाएगी।

कोरोना संकट: G 20 देशों के साथ संवाद में डॉ हर्षवर्धन ने कहा- एकजुट होकर लड़ना होगा

दिल्ली में अबतक 2003 संक्रमित
बता दें कि दिल्ली में कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या लगातार बढ़ रही है। कोरोना के 110 नए मामले सामने आए हैं और 2 मरीजों की मौत होने के बाद मृतकों की संख्या बढ़कर 45 हो गई है। हालांकि बढ़ती मरीजों की संख्याओं के बीच एक राहत भरी खबर यह है कि यहां 83 मरीज ठीक होकर अस्पताल से अपने घर चले गए हैं। कोरोना पॉजिटिव मरीजों की संख्या दिल्ली में अब बढ़कर 2003 हो गई है। 

दिल्ली में AIIMS समेत तीन अस्पतालों में आज से ओपीडी ऑनलाइन सेवा शुरू

देशभर में 3 मई तक बढ़ाया गया लॉकडाउन 
गौरतलब है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) ने कोरोना वायरस को फैलने से रोकने के लिए लागू देशव्यापी लॉकडाउन को 3 मई तक बढ़ाने की 14 अप्रैल को घोषणा करते हुए कहा कि इस महामारी को परास्त करने के लिए यह जरूरी है। प्रधानमंत्री ने राष्ट्र के नाम संबोधन में कहा कि राज्यों एवं विशेषज्ञों से चर्चा और वैश्विक स्थिति को ध्यान में रखते हुए भारत में लॉकडाउन को अब 3 मई तक और बढ़ाने का फैसला किया गया है। गौरतलब है कि कोरोना वायरस को फैलने से रोकने के लिए लागू 21 दिन के लॉकडाउन का वर्तमान चरण आज (14अप्रैल) समाप्त हो रहा है।

यहां पढ़ें कोरोना से जुड़ी महत्वपूर्ण खबरें...

comments

.
.
.
.
.