Friday, Dec 09, 2022
-->
patients-with-neuromuscular-disease-at-high-risk-of-severe-coronavirus-prsgnt

नर्वस सिस्टम की समस्या से जूझ रहे लोगों को कोरोना का गंभीर खतरा- नए शोध में हुआ खुलासा

  • Updated on 8/5/2020

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। कोरोना वायरस कमजोर इम्युनिटी वाले लोगों और बीमार लोगों को अपना शिकार बनाता है ये पहले से ज्ञात है। हाल ही में एक और स्वास्थ्य समस्या के कारण भी कोरोना का खतरा होने के लक्षण मिले है।

हालिया हुए एक शोध में पता चला है कि नर्वस सिस्टम से जुड़ी न्यूरोमस्कुलर डिजीज होने से कोरोना का संक्रमण होने का खतरा बढ़ता है। शोधकर्ताओं का कहना है कि नर्वस सिस्टम की प्रॉब्लम से जूझ रहे लोगों में कोरोना संक्रमण ज्यादा गंभीर हो सकता है।

इस बारे में विशेषज्ञों का कहना है कि नर्वस सिस्टम से सम्बंधित न्यूरोमस्कुलर बीमारी एक बीमारी है, जिसमें मांसपेशियों और केंद्रीय तंत्रिका तंत्र के बीच कोआर्डिनेट करने वाली नर्व प्रभावित हो जाती है और व्यक्ति आंशिक रूप से लकवे का शिकार हो जाता है।

राम मंदिर शिलांन्यास पूजन से पहले शाह के बाद मंत्री धर्मेंद्र प्रधान भी कोरोना पॉजिटिव

ये शोध आरआरएनएमएफ न्यूरोमस्कुलर पत्रिका में पब्लिश हुआ है। इस शोध में न्यूरोमस्कुलर के गंभीर केसों और कोरोना वायरस संक्रमण के चलते सामने आए नतीजों का विश्लेषण किया गया है।

बताया जा रहा है कि ये इस शोध से जुड़े विशेषज्ञों का कहना है कि पहले इस तरह डॉक्टर्स का ध्यान नहीं गया था लेकिन अब दुनिए भर के कई देशों से मरीजों में इस तरह की समस्या देखने को मिल रही है।

जल्द खुलेंगे जिम, जिम जाएं तो पहले स्लॉट बुक करवाएं

विशेषज्ञों के अनुसार, इस बीमारी से पीड़ित मरीज की फ़िलहाल अभी तक मौत होने की कोई खबर नहीं मिली है। जबकि इस बीमारी से ग्रस्त 16 या 59 % मरीज इससे पूरी तरह से ठीक हो चुके हैं। वहीँ, पहले सामने आ चुके शोधों में भी ये बात सामने आ चुकी है कि किसी बीमारी से जूझ रहे लोगों में कोरोना गंभीर रूप ले लेता है।

इससे पहले आंखों में होने वाली समस्या मैक्युलर डीजनरेशन के मरीजों में भी कोरोना संक्रमण के गंभीर परिणाम देखे गये हैं। बताते चले कि दुनियाभर में कोरोना संक्रमित लोगों की संख्या बढ़कर एक करोड़ 84 लाख से ज्यादा हो गई है और अब तक करीब 7 लाख लोगों की मौत हो चुकी है।

यहां पढ़ें कोरोना से जुड़ी महत्वपूर्ण खबरें-

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.