Saturday, Jan 25, 2020
payal-rohatgi-social-media-congress-rahul-gandhi-ashok-gehlot-amit-shah

गांधी-नेहरु परिवार के खिलाफ सोशल मीडिया पर टिप्पणी को लेकर पायल रोहतगी हुई गिरफ्तार

  • Updated on 12/15/2019

नई दिल्ली/ टीम डिजिटल। गांधी-नेहरू परिवार के खिलाफ सोशल मीडिया (Social Media) पर कथित रूप से आपत्तिजनक सामग्री पोस्ट करने के मामले में पूछताछ करने के लिए राजस्थान पुलिस ने बॉलीवुड अभिनेत्री पायल रोहतगी (Payal Rohatgi) को उनके अहमदाबाद स्थित आवास से रविवार सुबह हिरासत में ले लिया। बूंदी  पुलिस ने मोतीलाल नेहरु, जवाहरलाल नेहरु, इंदिरा गांधी और गांधी-नेहरू परिवार के अन्य सदस्यों के खिलाफ आपत्तिजनक सामग्री  के लिए अभिनेत्री के खिलाफ 10 अक्टूबर को सूचना प्रौद्योगिकी (IT) कानून के तहत मामला दर्ज किया था।     
जामिया हिंसा: कुमार विश्नास ने ट्वीट कर केजरीवाल पर साधा निशाना, कहा- होगा तेरा हिसाब

उन्हें इस महीने की शुरूआत में एक नोटिस दिया गया था और इस संबंध में जवाब देने के लिए कहा गया था। पायल रोहतगी ने ट्वीट किया, ‘‘मोतीलाल नेहरु पर एक वीडियो बनाने के चलते मुझे राजस्थान पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है जिसे मैंने गूगल से सूचना एकत्र कर बनाया था। अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता एक मजाक है पीएमओइंडिया (PMO india)।      
जांच में नहीं कर रही थी सहयोग
बूंदी पुलिस अधीक्षक ममता गुप्ता ने  से कहा, ‘‘पुलिस ने रविवार सुबह पायल रोहतगी को आईटी कानून के तहत एक मामले में पूछताछ के लिए अहमदाबाद स्थित उनके आवास से हिरासत में लिया। उन्हें पूछताछ के लिए बूंदी लाया जा रहा है।’’ पुलिस अधीक्षक ने कहा कि चूंकि अभिनेत्री जांच में सहयोगी नहीं कर रही थीं, इसलिए पुलिस की एक टीम उन्हें बूंदी ला रही है। पुलिस अधीक्षक ने यह भी स्पष्ट किया कि अभिनेत्री को ‘‘औपचारिक रूप से गिरफ्तार’’ नहीं किया गया है। उनकी औपचारिक गिरफ्तारी पूछताछ के बाद किये जाने की संभावना है। उन्होंने कहा, ‘‘हमारी टीम मामले की जांच के लिए वहां थी लेकिन वह सहयोग नहीं कर रही थी।’’      
टाइगर श्रॉफ ने शेयर किया अपनी एक फैन का Video, बोली- Love You Tiger, मेरे पास आ जाओ

अग्रिम जमानत के लिए दी थी अर्जी 
अभिनेत्री ने बृहस्पतिवार को अपनी अग्रिम जमानत के लिए अर्जी दी थी और इस पर सुनवाई सोमवार को होने का कार्यक्रम है। प्रदेश युवा कांग्रेस (youth congress)  महासचिव एवं बूंदी निवासी चर्मेश शर्मा ने आपत्तिजनक सामग्री की प्रतियों के साथ एक शिकायत दर्ज कराई थी, जिसके बाद अभिनेत्री के खिलाफ एक मामला दर्ज किया गया था।       रोहतगी ने छह सितम्बर और 21 सितम्बर को अपने सोशल मीडिया अकाउंट फेसबुक, इंस्टाग्राम और ट्विटर पर आपत्तिजनक सामग्री पोस्ट की थी। शर्मा ने अभिनेत्री के खिलाफ अपनी शिकायत में आरोप लगाया था कि आपत्तिजनक सामग्री से देश की छवि धूमिल हुई, अश्लीलता और धार्मिक घृणा फैली तथा इसके अलावा एक महिला की छवि को नुकसान भी पहुंचा।  इस महीने की शुरूआत में अभिनेत्री ने ट्विटर (Twitter) पर आरोप लगाया था कि गांधी परिवार के दबाव में राजस्थान के मुख्यमंत्री उनके खिलाफ काम कर रहे हैं।     
क्या इनसाइड एज का किरदार ‘भाईसाहब’ शरद पवार पर आधारित है ?

मांफी मांगनी चाहिए
अभिनेत्री ने ट्विटर पर लिखा कि चूंकि उन्होंने लेखक को नहीं पढ़ा था, इसलिए उनका मानना है कि उन्हें माफी मांगनी चाहिए क्योंकि किसी पर भी निजी हमला करना गलत है। रोहतगी ने कहा कि उन्होंने वीडियो (Video) तब बनाया जब तीन तलाक पर संसद में चर्चा चल रही थी और उन्होंने महसूस किया कि कांग्रेस विधेयक का समर्थन नहीं कर रही है।      उन्होंने इस महीने की शुरूआत में ट्वीट किया था, ‘‘एक निष्पक्ष व्यक्ति के तौर पर मैं देश की राजनीति को समझने का प्रयास कर रही हूं।’’ गत 11 दिसम्बर को एक ट्वीट में अभिनेत्री ने कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी (Sonia Gandhi) से कहा था कि वे चर्मेश शर्मा  से कहें कि वह उनके खिलाफ मामला वापस ले लें।  

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.