Tuesday, Oct 04, 2022
-->
people-should-know-their-constitutional-rights-duties-cji-ramana

लोगों को अपने संवैधानिक अधिकारों, कर्तव्यों का पता होना चाहिए: CJI रमण

  • Updated on 8/10/2022

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। प्रधान न्यायाधीश (सीजेआई) एन वी रमण ने बुधवार को कहा कि यह दुर्भाग्यपूर्ण है कि आजादी के 75 साल बाद भी कुछ ही लोग संवैधानिक प्रावधानों के बारे में जानते हैं। उन्होंने इस बात पर जोर दिया कि जनता को अपने संवैधानिक अधिकारों और कर्तव्यों के बारे में पता होना चाहिए। 

केजरीवाल ने किया गुजरात की महिलाओं के लिए मासिक भत्ते देने का वादा 

न्यायमूर्ति रमण ‘सुप्रीम कोर्ट केसेस (एससीसी) प्री-1969’ के विमोचन का जश्न मनाने के लिए ‘ईस्टर्न बुक कंपनी’ द्वारा आयोजित एक कार्यक्रम में मुख्य अतिथि के तौर पर शामिल हुए। उन्होंने कहा कि न्याय अंतत: जनता के लिए है और इसलिए उन्होंने न्यायाधीशों द्वारा निर्णय को ‘‘सरल’’ भाषा में लिखे जाने तथा उच्चतम न्यायालय एवं उच्च न्यायालय के अहम आदेशों को विधि पत्रिकाओं में क्षेत्रीय भाषाओं में प्रकाशित किए जाने का आह्वान किया। 

गिरिराज का लालू पर कटाक्ष : सांप आपके घर में घुस गया है

उन्होंने कहा कि पश्चिमी देशों में एक ‘‘छोटा स्कूली बच्चा’’ भी अपने संविधान एवं कानूनों से अवगत है और ‘‘हमें भी उस तरह की संस्कृति की आवश्यकता है।’’ सीजेआई रमण ने कहा, ‘‘वकीलों और जनता को संवैधानिक प्रावधानों और संविधान को जानना चाहिए। यह दुर्भाग्यपूर्ण है कि हम अब स्वतंत्रता के 75 वर्ष मना रहे हैं, लेकिन अभी भी शहरी क्षेत्रों में कुछ चुङ्क्षनदा लोग या कानूनी पेशेवर ही संवैधानिक अधिकारों एवं कर्तव्यों और संवैधानिक सिद्धांतों से अवगत हैं।’’ 

महाराष्ट्र मंत्रिमंडल विस्तार : 18 मंत्रियों ने ली शपथ, संजय राठौर पर बवाल

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.