Saturday, Apr 20, 2019

पर्सनल टीवी बच्चों के लिए होती है नुकसानदायक- शोध

  • Updated on 3/18/2019

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। एक शोध के अनुसार प्रसनल टीवी से बच्चों के शरीर पर कैसा साकारात्मक प्रभाव पड़ता है इस बारे में हम आपको बताने जा रहा हैं। जैसा कि हम लोग जानते हैं कि बचपन में हम जो सीखते हैं, उसी को अपनी आदत में शुमार कर लेते हैं।

यदि नहीं बचे महुए के पेड़ तो उससे जुड़ा जनजीवन सबकुछ प्रभावित होगा

आजकल बच्चे खेलने के बजाय घंटों-घंटों तक टीवी देखने में मशगूल होते हैं। यूं टीवी देखना बुरी आदत नहीं है, लेकिन हर चीज की अति बुरी होती है। पेडियाट्रिक रिसर्च जर्नल में प्रकाशित एक शोध में सम्मलित शोधकर्ताओं ने लगभग 1859 बच्चों का डेटा लिया जो 1997 से 1998 के बीच पैदा हुए थे। इस स्टडी में पाया गया कि छोटी उम्र में ज्यादा टीवी देखने से बच्चों के मानसिक और शारीरिक विकास पर असर पड़ता है, जिसके चलते आने वाले भविष्य में बेहद नुकसान उठाने पड़ सकते हैं।

वीकेंड पर ज्यादा सोना हो सकता है हानिकारक, हुआ ये चौंका देने वाला खुलासा

 इसके अलावा उन्होंने 13 साल तक के बच्चों की सेहत का भी एक अध्ययन किया। इन बच्चों का अध्ययन करते समय कुछ जरूरी पहलुओं पर जोर दिया गया। जैसे उनकी खाने, टीचर से उनका व्यवहार तथा उनकी संगति भी उनके व्यक्तित्व पर काफी प्रभाव डालती है। 

स्टडी की मुख्य शोधकर्ता लिंडा पगानि के अनुसार परिणाम बिल्कुल भी संतोषजनक नहीं दिखे। स्टडी के मुताबिक जिन घरों में लोगों ने अपने छोटे बच्चों के बेडरूम में पर्सनल टीवी लगाए हुए हैं, उन बच्चों के विकास पर गलत प्रभाव पड़ रहा था। उन बच्चों में भविष्य में हाई बीएमआई, जंक फूड की तरफ आकर्षण, डिप्रेशन आदि की समस्या देखी गई।

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.