Tuesday, Jan 18, 2022
-->
petrol and diesel rahul gandhi said modi bjp govt playing abusive jokes with our people rkdsnt

पेट्रोल-डीजल को लेकर राहुल गांधी बोले- हमारी जनता के साथ घिनौना मजाक कर रही है केंद्र सरकार

  • Updated on 10/21/2021

नई दिल्ली, टीम डिजिटल। पेट्रोल-डीजल की रिकॉर्ड स्तर पर बढ़ती कीमतों को लेकर कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने केंद्र की मोदी सरकार पर हमला बोला है। राहुल ने जहां बढ़ती कीमतों को लेकर कहा है कि केंद्र सरकार जनता के साथ घिनौना मजाक कर रही है, वहीं इसे टैक्स उगाही (Tax Extortion) की संज्ञा दी है। इतना ही नहीं राहुल गांधी ने अपने ट्वीट में एक इमेज भी शेयर की है, जिसमें लिखा है, ईंधन लूट में मोदी सरकार आभार! इस इमेज में fillionaire शब्द का भी इस्तेमाल किया गया है। इसका अर्थ है - वो भारतीय जो अपना ईंधन टैंक पूरा भरवाता है। इस फोटो में ईंधन मीटर पर एक शख्स टैंक की खाली होती सूई से जूझता नजर आ रहा है।

बता दें कि केंद्र सरकार ने कोरोना काल में भी एक्साइज ड्यूटी में इजाफा किया है। इसके बाद अंतरराष्ट्रीय स्तर पर क्रूड ऑयल के दामों में इजाफा हुआ है। इसकी वजह से पेट्रोल डीजल रिकॉर्ड ऊंचाई पर पहुंच गए हैं। इससे महंगाई में जबरदस्त इजाफा देखने को मिल रहा है। 

मंदिरों पर सरकारी कंट्रोल : भागवत के बयान के बाद VHP हुई सक्रिय, चलाएगी अभियान

केंद्र सरकार अंतरराष्ट्रीय मंच पर क्रूड ऑयल के दामों में इजाफे का मुद्दा उठाती है, लेकिन अपने टैक्स में कटौती नहीं कर रही है। हालात यह हैं कि सड़क पर चलने वाले वाहनों के ईंधन हवाई जहाजों के ईंधन से महंगे हो गए हैं। सरकारी खुदरा ईंधन विक्रेताओं की मूल्य अधिसूचना के अनुसार, दिल्ली में पेट्रोल की कीमत 106.19 रुपये प्रति लीटर और मुंबई में 112.11 रुपये प्रति लीटर के रिकॉर्ड स्तर पर पहुंच गई है।  

AAP का दावा- पीएम मोदी के इशारे पर अमरिंदर सिंह ने अपनी पार्टी बनाने का किया फैसला


वहीं मुंबई में, डीजल अब 102.89 रुपये प्रति लीटर मिल रहा है, जबकि दिल्ली में इसकी कीमत 94.92 रुपये प्रति लीटर है। इससे पहले पिछले दो दिन कीमतों में कोई बदलाव नहीं किया गया था। जबकि उससे पहले, लगातार चार दिन कीमतों में 35 पैसे प्रति लीटर की हर दिन बढ़ोतरी की गयी थी। इस वृद्धि के साथ, पेट्रोल अब सभी राज्यों की राजधानियों में 100 रुपये प्रति लीटर या उससे अधिक हो गया है, जबकि डीजल एक दर्जन से अधिक राज्यों में सैकड़े के स्तर को छू गया है। पणजी और रांची में भी डीजल ने 100 रुपये प्रति लीटर का आंकड़ा पार कर लिया। 

लखीमपुर खीरी हिंसा मामले में धीमी जांच को लेकर सुप्रीम कोर्ट ने लगाई फटकार

सबसे महंगा ईंधन राजस्थान के सीमावर्ती शहर गंगानगर में है जहां पेट्रोल 118.23 रुपये प्रति लीटर और डीजल 109.04 रुपये प्रति लीटर मिल रहा है। सितंबर के अंतिम सप्ताह में कीमतों में बदलाव में तीन सप्ताह के लंबे अंतराल को समाप्त करने के बाद से, पेट्रोल की कीमतों में यह 17वीं वृद्धि है और डीजल की कीमतों में 20वीं बार वृद्धि हुई है। जहां देश के ज्यादातर हिस्सों में पेट्रोल की कीमत पहले से ही 100 रुपये प्रति लीटर से ऊपर है, डीजल की दरें मध्य प्रदेश, राजस्थान, ओडिशा, आंध्र प्रदेश, तेलंगाना, गुजरात, महाराष्ट्र, छत्तीसगढ़, बिहार, केरल, कर्नाटक, झारखंड, गोवा और लद्दाख सहित एक दर्जन से अधिक राज्यों/केंद्रशासित क्षेत्रों में उस स्तर को पार कर गयी हैं। 

मंत्री तोमर के साथ निहंग बाबा की फोटो वायरल, कांग्रेस और SKM ने उठाए सवाल

स्थानीय करों के आधार पर कीमतें राज्यों में अलग-अलग होती हैं। अंतरराष्ट्रीय बेंचमार्क ब्रेंट क्रूड सात साल में पहली बार बुधवार को 84.43 डॉलर प्रति बैरल पर कारोबार कर रहा है। एक महीने पहले ब्रेंट की कीमत 73.92 डॉलर प्रति बैरल थी। तेल का शुद्ध आयातक होने के नाते, भारत पेट्रोल और डीजल की कीमतें अंतरराष्ट्रीय कीमतों के बराबर दरों पर रखता है। अंतरराष्ट्रीय तेल की कीमतों में वृद्धि की वजह से पेट्रोल के लिए 28 सितंबर और डीजल के लिए 24 सितंबर को दर संशोधन में तीन सप्ताह का अंतराल खत्म हो गया था।      तब से डीजल की कीमत में कुल 6.50 रुपये और पेट्रोल की कीमत में पांच रुपये प्रति लीटर का इजाफा हुआ है।  

रिकॉर्ड ऊंचाई पर पेट्रोल, डीजल की कीमतें, महंगाई से जनता त्रस्त

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।

comments

.
.
.
.
.