Friday, Sep 30, 2022
-->
pks taunt on congress said power is not available by hard work for four days albsnt

यूपी हिंसा: कांग्रेस की अतिसक्रियता पर PK का तंज,कहा- 'चार दिन की मेहनत' से नहीं मिलती सत्ता

  • Updated on 10/8/2021

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। जब से उत्तरप्रदेश के लखीमपुर खीरी में चार लोग समेत आठ लोगों की मौत कार से कुचलकर मौत हुई है तब से कांग्रेस प्रदेश में सक्रिय नजर आ रही है। प्रदेश के विपक्षी दल सपा हो या बसपा-सब को पीछे छोड़ते हुए कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने जिस तेजी से लखीपुर घटना को लेकर यात्रा की,वो चर्चा में बनी रही। इसी कड़ी में अब राजनीतिक रणनीतिकार प्रशांत किशोर ने एक ट्वीट किया है। जिसमें उन्होंने कांग्रेस की लखीमपुर हिंसा पर अतिसक्रियता से पार्टी को जबरदस्त फायदे होने को खारिज कर दिया है।

लखीमपुर कांड: आशीष मिश्रा नहीं हुए पुलिस पूछताछ में पेश, गृह राज्य मंत्री टेनी ने दी सफाई 

बता दें कि पीके का यह ट्वीट इसलिए भी महत्वपूर्ण है कि अभी कुछ ही दिन पहले उनके कांग्रेस में शामिल होने की चर्चा चल रही थी। लेकिन किसी कारणवश यह परवान नहीं चढ़ सका। अब उनके इस ट्वीट से यह साफ है कि कांग्रेस में उनके जाने का रास्ता फिलहाल बंद है। प्रशांत ने लिखा कि ग्रेंड ओल्ड पार्टी में समस्या गहरी है,इसका तात्कालिक समाधान किसी मुद्दे पर अतिसक्रियता से नहीं हो सकता।

पप्पू यादव ने जेल से निकलते ही दिखाए तेवर, गृह मंत्री/राज्यमंत्री और आईबी के रोल पर उठाए सवाल

मालूम हो कि प्रशांत किशोर बंगाल विधानसभा चुनाव में ममता बनर्जी से जुड़े हुए थे। उस समय उनका यह बयान काफी चर्चा मे रहा जब उन्होंने दावा किया कि बंगाल में बीजेपी 100 का अंक भी पार नहीं करेगी। प्रशांत किशोर का दावा चुनाव परिणाम में सच साबित हुआ। उसके बाद प्रशांत किशोर के काग्रेंस में शामिल होने की चर्चा भी गर्म रही लेकिन अब साफ हो गया कि वे देश के सबसे पुराने दल से दूर ही रहेंगे। उन्होंने कांग्रेस के वर्तमान कलेवर पर तंज कसते हुए कहा कि ऐसा लगता है कि मोदी और बीजेपी के मुकाबले में विपक्ष में कोई नेता और पार्टी ही नही है।

comments

.
.
.
.
.