Thursday, Apr 15, 2021
-->
pm modi birthday now national unemployment day how is possible know here prsgnt

और इसलिए बन गया पीएम मोदी का जन्मदिवस युवाओं का 'राष्ट्रीय बेरोज़गार दिवस'.....

  • Updated on 9/17/2020

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। 17 सितंबर 2020 को इतिहास में अब राष्ट्रीय बेरोजगार दिवस के रूप में जाना जाएगा। इसका कारण है भारत में बढ़ती नौकरियों की समस्या, काम की कमी, कारोबार का ठप्प होना और सरकारी संस्थानों का निजी हाथों में चले जाना। घटते रोजगार ने कोरोना काल में भारत की 14 करोड़ से ज्यादा आबादी को बेरोजगार बना दिया, जिसका परिणाम है 'राष्ट्रीय बेरोजगार दिवस'।

वहीँ, आज इस दिवस को मनाने का एक और बड़ा कारण है वो है प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का जन्मदिन का होना। देश की युवा जनता आज पीएम मोदी को उनके जन्मदिन की बधाई के साथ-साथ देश में बढ़ती बेरोजगारी के लिए भी चेता रही है और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का जन्मदिन 70वें जन्मदिन के दिन #NationalUnemploymentDay या #राष्ट्रीय_बेरोजगार_दिवस सोशल मीडिया पर ट्रेंड होने लगा है। 

सोशल मीडिया पर आज पीएम मोदी को देश में बढ़ते बेरोजगारी के स्तर के लिए जिम्मेदार माना जा रहा है। हालांकि आंकड़े भी यही कहते हैं। 

PM मोदी के जन्मदिन पर BJP ने दिया तोहफा, लॉन्च की ई-बुक और साइट

सरकार की नाकामी 
भारत के युवाओं, छात्रों द्वारा किए जा रहे विरोध और भारत की तेजी से गिरी जीडीपी देश की खस्ता हालत का सबूत है, जिसके पीछे सरकार की कमजोर नीतियां, असफल योजनाएं, जुमलानीति आदि कारण रहे हैं। इसके अलावा अगर सेंटर फ़ॉर मॉनिटरिंग इंडियन इकॉनमी सीएमआईई के आँकड़ों को देखें तो सितंबर में भारत की शहरी बेरोज़गारी दर 8.32 फ़ीसदी के स्तर पर आ गई। 

केंद्र ने कोरोना महामारी के देश में आने पर लापरवाही दिखाई और सुस्त रवैय के चलते जल्दबाज़ी में लॉकडाउन लगाया जिससे देश में आर्थिक सुस्ती बढ़ गई और लाखों लोगों अपनी नौकरियों गंवा दीं। इस बारे में सीएमआईई के आकड़ों के अनुसार, मार्च के लॉकडाउन के बाद क़रीब 12 करोड़ लोगों का रोजगार छूट चुका था। ये लोग ज्यादातर असंगठित और ग्रामीण क्षेत्र से थे। 

सीएमआईई के आंकड़े बताते हैं कि सैलरी पर काम करने वाले संगठित क्षेत्र में 1.9 करोड़ लोगों की नौकरियां लॉकडाउन में गईं।

जब पीएम मोदी ने बोला था मेरे पास कार के किराए के नहीं हैं पैसे, मगर डिबेट में आने को हूं तैयार

युवाओं ने पहले भी दिखाया अपना गुस्सा 
सिर्फ आज पीएम के जन्मदिन पर ही नहीं बल्कि युवाओं और छात्रों ने अपना गुस्सा पहले भी पीएम के सामने जाहिर किया था जब प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के रेडियो कार्यक्रम मन की बात पर रिकॉर्ड तोड़ डिसलाइक मिले थे। ये पहली बार था जब युवाओं ने ऐसे अपनी नाराजगी पीएम के खिलाफ जाहिर की थी। इसके बाद युवाओं और छात्रों ने बीजेपी के कई वीडियोज को यूट्यूब पर भारी संख्या में डिसलाइक्स किया।

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।

comments

.
.
.
.
.