Friday, Feb 26, 2021
-->
pm-modi-congratulates-countrymen-on-makar-sankranti-pongal-magh-bihu-pragnt

PM मोदी ने देशवासियों को मकर संक्रांति, पोंगल, माघ बिहू समेत अन्य सभी त्योहारों की दी बधाई

  • Updated on 1/14/2021

नई दिल्ली/ टीम डिजिटल। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) ने मकर संक्रांति, पोंगल और माघ बिहू के अवसर पर देशवासियों को शुभकामनाएं दीं और कामना की कि ये पर्व हर किसी के जीवन में सुख एवं समृद्धि के साथ नयी ऊर्जा और उत्साह का संचार करें।

शरद पवार की शरण में अभिनेता सोनू सूद, बीएमसी ने अपनाया कड़ा रुख

PM मोदी ने देशवासियों को सभी त्योहारों की दी बधाई
पीएम मोदी ने ट्वीट किया, 'देशवासियों को मकर संक्रांति की बहुत-बहुत बधाई। मेरी कामना है कि उत्तरायण सूर्यदेव सभी के जीवन में नई ऊर्जा और नए उत्साह का संचार करें।' पोंगल की शुभकामनाएं देते हुए प्रधानमंत्री ने कहा कि यह त्योहार तमिल संस्कृति की सर्वश्रेष्ठ झलक प्रस्तुत करता है।

उन्होंने कहा, 'यह त्योहार हमें प्रकृति के साथ तालमेल बैठाकर जीने की प्रेरणा देता रहे और हर किसी में करुणा एवं दया का भाव मजबूत करता रहे।' माघ बिहू पर प्रधानमंत्री ने देशवासियों के सुख एवं समृद्धि की कामना की। उन्होंने गुजरात के लोगों को उत्तरायण की शुभकामनाएं दीं।

'संक्रांतियों में विशेष महत्व है मकर संक्रांति का'

राष्ट्रपति ने दी शुभकामनाएं
राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद (President Ram Nath Kovind) ने इस खास अवसर पर ट्वीट कर लिखा, 'लोहड़ी, मकर संक्रान्ति, पोंगल, भोगाली बिहू, उत्‍तरायण और पौष पर्व के अवसर पर सभी को हार्दिक शुभकामनाएं देता हूं। मेरी कामना है कि इन त्‍योहारों के माध्‍यम से हमारे समाज में प्रेम, स्‍नेह और सौहार्द का बंधन मजबूत हो तथा देश में समृद्धि और खुशहाली बढ़े।'

नेटफ्लिक्स सीरीज ‘बैड ब्वॉय बिलेनयरीज’ मामले में कोर्ट की चोकसी की याचिका पर टिप्पणी

देश में अलग-अलग नामों से जाना जाता है मकर संक्रांति
मकर संक्रांति एक ऐसा त्यौहार है जो अलग-अलग राज्यों में अलग-अलग नाम और तरीकों से मनाया जाता है। उत्तर भारत में इसे मकर संक्रांति कहा जाता है। इसे तमिलनाडु में पोंगल के नाम से जाना जाता है। असम में इसे माघ बिहू और गुजरात में इसे उत्तरायण कहते हैं। पंजाब और हरियाणा में इस समय नई फसल का स्वागत किया जाता है और लोहड़ी पर्व मनाया जाता है। इस दिन पतंग उड़ाने का भी विशेष महत्व होता है और लोग बेहद आनंद और उल्लास के साथ पतंगबाजी करते हैं। गुजरात में इस दिन पतंगबाजी के बड़े-बड़े आयोजन किए जाते हैं।

यहां पढ़े अन्य बड़ी खबरें...

comments

.
.
.
.
.