Tuesday, Jul 05, 2022
-->
pm modi lays foundation of buddhist cultural centre in lumbini nepal kmbsnt

PM Modi Nepal Visit: पीएम मोदी ने लुंबिनी में रखी बौद्ध सांस्कृतिक केंद्र की नींव

  • Updated on 5/16/2022

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज  नेपाल के प्रधान मंत्री शेर बहादुर देउबा के साथ लुंबिनी मठ क्षेत्र के भीतर अंतर्राष्ट्रीय बौद्ध परिसंघ (आईबीसी), दिल्ली से संबंधित एक भूखंड में बौद्ध संस्कृति और विरासत के लिए एक केंद्र के निर्माण की आधारशिला रखी।

अंतर्राष्ट्रीय बौद्ध परिसंघ से संबंधित बौद्ध संस्कृति और विरासत केंद्र की नींव रखने के बाद, प्रधान मंत्री मोदी ने नेपाल के प्रधान मंत्री शेर बहादुर देउबा के साथ लुंबिनी, नेपाल में मंत्रोच्चारण में भाग लिया। 

सर्वेक्षण के खिलाफ ज्ञानवापी मस्जिद कमेटी की याचिका पर सुनवाई करेगा सुप्रीम कोर्ट 

पीएम मोदी ने किया महामायादेवी मंदिर का दौरा
नेपाल के प्रधानमंत्री शेर बहादुर देउबा ने लुंबिनी पहुंचने पर पीएम नरेंद्र मोदी की अगवानी की। आज बुद्धपूर्णिमा पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने नेपाल के लुंबिनी में महामायादेवी मंदिर का दौरा किया। पीएम नरेंद्र मोदी और नेपाल के पीएम शेर बहादुर देउबा ने नेपाल के लुंबिनी में महामायादेवी मंदिर में पूजा-अर्चना की।

पीएम मोदी और नेपाल के पीएम शेर बहादुर देउबा और उनकी पत्नी डॉ आरजू राणा देउबा ने माया देवी मंदिर परिसर के अंदर मार्कर स्टोन पर श्रद्धांजलि अर्पित की, जो भगवान बुद्ध के सटीक जन्म स्थान को इंगित करता है। वे बौद्ध रीति-रिवाजों के अनुसार आयोजित पूजा में शामिल हुए। 

सुनील जाखड़ के बचाव में उतरे सिद्धू, कांग्रेस को दी नसीहत

पीएम मोदी ने अशोक स्तंभ के पास दीप जलाए
नेपाल के लुंबिनी में भारतीय समुदाय ने पीएम मोदी का गर्मजोशी से स्वागत किया। इसके साथ ही पीएम मोदी ने उन्हें और भगवान बुद्ध को चित्रित करते हुए एक स्केच को ऑटोग्राफ किया। वहीं पीएम मोदी और नेपाल के पीएम शेर बहादुर देउबा ने भी मंदिर से सटे अशोक स्तंभ के पास दीप जलाए। 249 ईसा पूर्व में सम्राट अशोक द्वारा बनवाया गया स्तंभ, लुंबिनी के भगवान बुद्ध का जन्मस्थान होने का पहला पुरालेख है।

 

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.