Monday, Jun 21, 2021
-->
pm modi spoke to the people of varanasi who helped people during the lockdown  musrnt

लोगों के परिश्रम और पराक्रम ने कोरोना की तमाम आशंकाओं को किया ध्वस्तः PM मोदी

  • Updated on 7/9/2020

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बृहस्पतिवार को कहा कि जब कोरोना संकट सामने आया तो भारत में इससे होने वाले नुकसान को लेकर बड़े- बड़े विशेषज्ञ तमाम तरह की आशंकाएं प्रकट कर रहे थे, लेकिन यहां के लोगों ने इस संकट का मजबूती से मुकाबला कर उनकी तमाम आशंकाओं को निर्मूल साबित कर दिखाया। मोदी ने अपने संसदीय क्षेत्र वाराणसी के विभिन्न सामाजिक, धार्मिक और गैर सरकारी संगठनों के प्रतिनिधियों से बातचीत के दौरान उक्त बातें कही।

उन्होंने कोरोना महामारी के परिणाम स्वरूप देश भर में लागू किए गए लॉकडाउन के दौरान उत्तर प्रदेश व वाराणसी में किए गए विभिन्न संगठनों के सेवा  भाव को ‘अभूतपूर्व’ बताया और संकट काल में लोगों तक भोजन एवं अन्य तरह की सहायता पहुंचाने के लिए सरकार के विभागों की सराहना की। मोदी ने कोविड-19 संकट का मुकाबला करने और इससे अधिक से अधिक लोगों की जान बचाने के लिए उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की भी सराहना की।

उन्होंने कहा, ‘आपने सुना होगा 100 साल पहले ऐसी ही भयानक महामारी हुई थी। तब भारत में इतनी जनसंख्या नहीं थी। कम लोग थे। लेकिन उस समय इस महामारी में दुनिया में जहां सबसे अधिक लोग मारे गए, उसमें हमारा हिंदुस्तान भी था। करोड़ों लोग मर गए थे।’ मोदी ने कहा कि इसलिए जब इस बार महामारी आई तो सारी दुनिया भारत को लेकर आशंकित हो गई। लोगों को डर लगता था कि 100 साल पहले भारत में इतनी बर्बादी हुई थी, इतने लोग मारे गए थे, तो आज भारत की क्या स्थिति होगी जबिक आबादी इतनी है और साथ में चुनौतियों का अंबार भी।

उन्होंने कहा, ‘बड़े- बड़े विशेषज्ञ यह कह रहे थे और भारत पर सवाल खड़ा करने लगे थे कि इस बार भी हालत बिगड़ जाएगी। लेकिन आपने देखा होगा। 23-24 करोड़ की आबादी वाले हमारे उत्तर प्रदेश को लेकर ढेर सारी आशंकाएं थी। कैसे बचेगा। कोई कहता था प्रदेश में गरीबी बहुत है। प्रवासी कामगार बहुत हैं। दो गज की दूरी का पालन कैसे कर पाएंगे? भूख से मर जाएंगे?’

प्रधानमंत्री ने कहा कि जनता के सहयोग और उत्तर प्रदेश के लोगों के परिश्रम व पराक्रम ने सारी आशंकाओं को ध्वस्त कर दिया। उन्होंने कहा, ‘ब्राजील जैसे बड़े देश में, जिसकी आबादी उत्तर प्रदेश जितनी ही है, 65000 से अधिक लोगों की मृत्यु हुई जबिक हमारे उत्तर प्रदेश में 800 लोगों की मृत्यु हुई। उत्तर प्रदेश में हजारों जिंदगियां, जिनके मरने की संभावना जताई जा रही थी, उन्हें बचा लिया गया।’

मोदी ने कहा कि आज स्थिति यह है कि उत्तर प्रदेश ने न सिर्फ संक्रमण की गति को काबू में किया है बल्कि जिन्हें कोरोना हुआ है, वो भी तेजी से ठीक हो रहे हैं। प्रधानमंत्री ने इसके लिए जनता की जागरूकता और उनके द्वारा किए गए सेवा भाव की सराहना की। उन्होंने कहा, ‘आप जैसे धार्मिक व सामाजिक संगठनों का सेवा भाव है, संकल्प जो आपके संस्कारों में है, जिसने इस कठिन से कठिन दौर में समाज के हर व्यक्ति को कोरोना के खिलाफ लड़ाई लड़ने की ताकत दी है। बहुत बड़ी मदद की है।’

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।

comments

.
.
.
.
.