Tuesday, Oct 04, 2022
-->
pm narendra modi address un general assembly pragnt

UN में PM मोदी ने सुनाई खरी खोटी, बोले- कोरोना से निपटने के प्रयासों में कहां है संयुक्त राष्ट्र?

  • Updated on 9/26/2020

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। कोरोना वायरस (Coronavirus) महामारी के बीच आज प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) संयुक्त राष्ट्र महासभा (UNGA) के 75वें सत्र में आम सभा को संबोधित किया। इस दौरान पीएम मोदी ने यूएन (UN) पर हमला बोलते हुए कहा कि पिछले 8-9 महीने से पूरा विश्व कोरोना वैश्विक महामारी से संघर्ष कर रहा है। इस वैश्विक महामारी से निपटने के प्रयासों में संयुक्त राष्ट्र कहां है? एक प्रभावशाली रेस्पॉन्स कहां है?

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शनिवार को संयुक्त राष्ट्र में सुधार की भारत की मांग को पुरजोर तरीके से उठाते हुए इसे समय की मांग बताया और सवाल उठाया कि आखिरकार विश्व के सबसे बड़े इस लोकतंत्र को इस वैश्विक संस्था की निर्णय प्रक्रिया से कब तक अलग रखा जाएगा। 

Update:

  • संयुक्त राष्ट्र महासभा को पीएम मोदी की खरी-खरी, बोले- UN में भारत की निर्णायक भूमिका कब?
  • पीएम मोदी ने कोरोना वैक्सीन को लेकर दुनिया को आश्वासन दिया
  • UN महासभा में दिखा मोदी का सख्त तेवर, 'आखिर कब तक भारत को इंतजार करना पड़ेगा'
  • 2025 तक टीबी से नागरिकों को मुक्त करने के लिए भारत अभियान चला रहा है: PM मोदी
  • वैश्विक महामारी से निपटने के प्रयासों में संयुक्त राष्ट्र कहां है?- PM मोदी
  • हम विश्व को मानते हैं परिवार की तरह- पीएम मोदी
  • UN की 75वीं वर्षगाठ पर पीएम मोदी ने दी बधाई
  • संयुक्त राष्ट्र में पीएम नरेंद्र मोदी दे रहे हैं संबोधन

कोरोना को लेकर ट्रंप ने साधा चीन पर निशाना, कहा- कहां से आया वायरस कभी नहीं भूलूंगा

UN की 75वीं वर्षगाठ पर पीएम मोदी ने दी बधाई
प्रधानमंत्री मोदी ने संयुक्त राष्ट्र महासभा को संबोधित करते हुए कहा कि संयुक्त राष्ट्र की 75वीं वर्षगांठ पर भारत के 130 करोड़ से ज्यादा लोगों की तरफ से प्रत्येक सदस्य देश को बहुत-बहुत बधाई देता हूं। भारत को इस बात का बहुत गर्व है कि वो संयुक्त राष्ट्र के संस्थापक देशों में से एक है। पीएम ने कहा कि ये बात सही है कि कहने को तो तीसरा विश्व युद्ध नहीं हुआ, लेकिन इस बात को नकार नहीं सकते कि अनेकों युद्ध हुए, अनेकों गृहयुद्ध भी हुए। कितने ही आतंकी हमले हुए। इन युद्धों में, इन हमलों में, जो मारे गए, वो हमारी-आपकी तरह इंसान ही थे।

कोरोना से भारत में चीन से 23 गुना ज़्यादा हुई मौतें, अर्थशास्त्री ने सरकार को ऐसे दिखाया आईना

कोरोना से निपटने में कहां है संयुक्त राष्ट्र?-PM
उन्होंने कहा, 'पिछले 8-9 महीने से विश्व कोरोना वैश्विक महामारी से संघर्ष कर रहा है। इस वैश्विक महामारी से निपटने के प्रयासों में संयुक्त राष्ट्र कहां है? एक प्रभावशाली प्रतिक्रिया कहां है? संयुक्त राष्ट्र की प्रतिक्रियाओं में, व्यवस्थाओं में बदलाव, स्वरूप में बदलाव, आज समय की मांग है।' पीएम मोदी ने कहा, 'भारत के लोग संयुक्त राष्ट्र के सुधारों को लेकर जो प्रक्रिया चल रही है, उसके पूरा होने का लंबे समय से इंतजार कर रहे हैं। भारत के लोग चिंतित हैं कि क्या ये प्रक्रिया तार्किक अंत तक पहुंच पाएगी। आखिर कब तक भारत को संयुक्त राष्ट्र के डिसीजन मेकिंग स्ट्रक्चर से अलग रखा जाएगा।'

कृषि बिल के खिलाफ कांग्रेस ने शुरू किया सोशल मीडिया पर अभियान, राहुल बोले- सब उठाएं आवाज

PM ने वैक्सीन को लेकर दुनिया को दिया आश्वासन
प्रधानमंत्री ने कहा, 'महामारी के इस मुश्किल समय में भी भारत की फार्मा इंडस्ट्री ने 150 से अधिक देशों को जरूरी दवाइयां भेजीं हैं।' उन्होंने कहा, 'विश्व के सबसे बड़े वैक्सीन उत्पादक देश के तौर पर आज मैं वैश्विक समुदाय को एक और आश्वासन देना चाहता हूं। भारत की वैक्सीन का उत्पादन और वैक्सीन वितरण क्षमता पूरी मानवता को इस संकट से बाहर निकालने के लिए काम आएगी।'

आपको बता दें कोविड के कारण ये महासभा ऑनलाइल हो रही है। सूत्रों की मानें तो इस बार पीएम मोदी का भाषण भारत की प्राथमिकता आतंकवाद के खिलाफ वैश्विक कार्रवाई को और मजबूत करने पर जोर देने के लिए होगा। 

कोरोना से जुड़ी बड़ी खबरों को यहां पढ़ें...

comments

.
.
.
.
.