Wednesday, May 12, 2021
-->
pm narendra modi appeal kumbh mela should now only be symbolic kmbsnt

कुंभ पर कोरोना प्रकोप का असर! PM मोदी ने संतो से की महाकुंभ को प्रतिकात्मक रखने की अपील

  • Updated on 4/17/2021

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। देश में कोरोना संक्रमण की दूसरी लहर ने कहर ढाया हुआ है। बीते 24 घंटे में 2 लाक 34 हजार से ज्यादा केस सामने आए हैं। ऐसे में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अब संतों से अपील की है कि कुंभ मेले को केवल प्रतिकात्मक ही रखा जाए। उन्होंने अपने आधिकारिक ट्विटर हैंडल से ट्वीट कर बताया कि मैंने प्रार्थना की है कि दो शाही स्नान हो चुके हैं और अब कुंभ को कोरोना के संकट के चलते प्रतीकात्मक ही रखा जाए। इससे इस संकट से लड़ाई को एक ताकत मिलेगी।

पीएम मोदी ने एक अन्य ट्वीट में कहा है कि आचार्य महामंडलेश्वर पूज्य स्वामी अवधेशानंद गिरि जी से आज फोन पर बात की। सभी संतों के स्वास्थ्य का हाल जाना। सभी संतगण प्रशासन को हर प्रकार का सहयोग कर रहे हैं। मैंने इसके लिए संत जगत का आभार व्यक्त किया।

दिल्ली में सोमवार सुबह 5 बजे तक वीकेंड कर्फ्यू, बेवजह घर से बाहर निकले तो जाना पड़ेगा जेल

कुंभ में बड़ी संख्या में संत संक्रमित
बता दें कि देश में कोरोना संक्रमण की दूसरी लहर ने कहर ढाया हुआ है। आज भी कोरोना के 2 लाख 34 हजार से ज्यादा केस सामने आए हैं। वहीं इस बीच हरिद्वार में चल रहे महाकुंभ के कारण भी संक्रमण के प्रसार का खतरा बना हुआ है। कुंभ से काफी संख्या में साधु-संतो के अलावा श्रद्धालुओं के संक्रमित होने की पुष्टि के बाद खलबली मच गई है। 

वहीं बैरागी अखाड़े ने एक बयान में कोरोना फैलने के लिये सन्यासी अखाड़ों पर आरोप मढ़ दिया है। मालूम हो कि हरिद्वार में बढ़ते केस को देखते हुए निरंजनी अखाड़े ने कुंभ समाप्ति की घोषणा कर दी है।

वीकेंड कर्फ्यू में 15-30 मिनट के अंतराल पर चलेगी दिल्ली मेट्रो, ऐसे करनी होगी यात्रा

बैरागी अखाड़े ने सन्यासी अखाड़े पर लगाया ये आरोप 
एक बयान में निरंजनी अखाड़े ने कहा है कि 14 अप्रैल को ही सबसे महत्वपूर्ण शाही स्नान हो चुका है। जिसके बाद कोरोना केस को देखते हुए यह फैसला लिया गया है। बैरागी अखाड़े ने साफ कहा है कि सन्यासी अखाड़े के कारण ही आज कुंभ में कोरोना संक्रमितों की संख्या बढ़ी है। उधर उत्तराखंड सरकार ने धार्मिक नेताओं के साथ बैठक के बाद साफ किया है कि कुंभ 30 अप्रैल  तक जारी रहेगी।

ये भी पढ़ें:

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।

comments

.
.
.
.
.