Friday, Dec 03, 2021
-->
pm narendra modi inaugurates national metrology conclave sohsnt

पीएम मोदी ने नेशनल मेट्रोलॉजी कॉन्क्लेव का किया उद्धाटन, भारतीय वैज्ञानिकों को लेकर कही ये बात

  • Updated on 1/4/2021

नई दिल्ली/ टीम डिजिटल। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra modi) ने आज वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए 'नेशनल मेट्रोलॉजी कॉन्क्लेव' (National Metrology Conclave) का उद्घाटन किया। इसके साथ ही उन्होंने प्रधानमंत्री 'नेशनल एटॉमिक टाइमस्‍केल' (National Atomic Timescale) और ‘भारतीय निर्देशक द्रव्य’ राष्ट्र को समर्पित किया और नेशनल एनवायरमेंटल स्टैंडर्ड लैबोरेट्री की भी आधारशिला रखी। 

राजस्थान: CM के सामने लगे 'सचिन पायलट जिंदाबाद' के नारे, भड़के गहलोत


भारत के वैज्ञानिकों ने वैक्सीन विकसित करने पाई सफलता- पीएम
इस मौके पर पीएम मोदी ने कहा, 'भारत के वैज्ञानिकों ने एक नहीं दो मेड इन इंडिया कोविड वैक्सीन विकसित करने में सफलता पाई है। भारत में दुनिया का सबसे बड़ा कोविड वैक्सीन कार्यक्रम शुरू होने जा रहा है। इसके लिए देश को  अपने वैज्ञानिकों के योगदान पर बहुत गर्व है।'  उन्होंने कहा, 'देश वर्ष 2022 में अपनी स्वतंत्रता के 75 वर्ष पूरे कर रहा है और 2047 में हमारी आज़ादी के 100 वर्ष होंगे।'

PDP नेता की गिरफ्तारी पर भड़कीं महबूबा मुफ्ती, कहा- और कितना नीचे गिरेंगे

पीेएम ने भविष्य के निर्माण को लेकर कही ये बात 
आत्मनिर्भर भारत का जिक्र करते हुए पीएम ने कहा, 'इस दौरान हमें आत्मनिर्भर भारत के नए संकल्पों को ध्यान में रखते हुए नए मानकों को गढ़ने की दिशा में आगे बढ़ना ही है।' उन्होंने कहा, CSIR-NPL भारत का 'टाइम कीपर' है यानी भारत के समय की देखरेख और व्यवस्था आपके ही जिम्मे है। जब समय की जिम्मेदारी आपकी है तो समय का बदलाव भी आप से ही शुरू होगा। नए समय का, नए भविष्य का निर्माण भी आप से ही दिशा पाएगा।'

कैलाश विजयवर्गीय के ट्वीट पर भड़की TMC, कहा- BJP ने फिर दिखाया अपना रंग

देश आत्मनिर्भर भारत के साथ बढ़ रहा है- पीएम 
उन्होंने कहा, 'आज जब देश 'आत्मनिर्भर भारत' का संकल्प लेकर आगे बढ़ रहा है तो हमें याद रखना है कि इसका लक्ष्य क्वांटिटी भी है, लेकिन साथ-साथ क्वालिट भी उतनी ही महत्वपूर्ण है। हमें दुनिया को केवल भारतीय उत्पादों से भरना नहीं है, हमें भारतीय उत्पादों को खरीदने वाले हर ग्राहक का दिल भी जीतना है।'

हमने कांग्रेस की तुलना में दोगुनी खरीद की MSP था, है और रहेगा : अनुराग ठाकुर

भारत को अपने स्टैंडर्ड को नई ऊंचाई देनी होगी
पीएम ने कहा, टहमारा देश दशकों से क्वालिटी और मापने के लिए विदेशी स्टैंडर्ड पर निर्भर रहा है लेकिन इस दशक में भारत को अपने स्टैंडर्ड को नई ऊंचाई देनी होगी। इस दशक में भारत की गति, प्रगति, उत्थान, छवि, सामर्थ्य, हमारी क्षमता का निर्माण हमारे स्टैंडर्ड से ही तय होंगे। आज भारत ग्लोबल इनोवेशन रैंकिंग में दुनिया के टॉप 50 देशों में पहुंच गया है, आज बेसिक रिसर्च पर भी जोर दिया जा रहा है।'

यहां पढ़े कोरोना से जुड़ी बड़ी खबरें...

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.