Wednesday, Apr 14, 2021
-->
pm narendra modi picture at petrol pump ec orders this on tmc complaint pragnt

पेट्रोल पंप पर PM मोदी की तस्वीर से मचा बवाल, TMC की शिकायत पर EC ने दिया ये आदेश

  • Updated on 3/4/2021

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। पश्चिम बंगाल (West Bengal) में विधानसभा चुनाव की तारीखों की घोषणा होते ही राज्य में सियासी संग्राम तेज हो गया है। इस बीच बंगाल में पेट्रोल पंपों में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) की तस्वीर को लेकर बवाल खड़ा हो गया है। चुनाव आयोग (EC) ने एक्शन लेते हुए अगले 72 घंटे में पेट्रोल पंपों पर लगी केंद्र सरकार की योजनाओं के विज्ञापन वाली होर्डिंग्स को हटाने का आदेश दिया है। आयोग ने ममता बनर्जी की अगुवाई वाली तृणमूल कांग्रेस (Trinamool Congress) की शिकायत पर ये आदेश दिया है। खुद आयोग ने इसे सरकारी योजनाओं से जुड़े इन विज्ञापनों को आदर्श आचार संहिता का उल्लंघन माना है।

देश में बुधवार को कुल टीकाकरण 1.63 करोड़ के पार, भारत बायोटेक का कोविद शॉट 81% प्रभावी

TMC ने चुनाव आयोग से की शिकायत
आपको बता दें कि तृणमूल कांग्रेस नेताओं के एक प्रतिनिधिमंडल ने बुधवार को यहां चुनाव आयोग के अधिकारियों से मुलाकात की और आरोप लगाया कि केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय द्वारा वितरित कोविड टीकाकरण प्रमाणपत्रों और विभिन्न केन्द्रीय योजनाओं के विज्ञापनों पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की तस्वीर का इस्तेमाल आदर्श आचार संहिता का उल्लंघन है। राज्य के मंत्री फरहाद हाकिम ने चुनाव आयोग के अधिकारियों से बैठक के बाद कहा कि तृणमूल कांग्रेस ने इसे 'सरकारी मशीनरी का जबरदस्त दुरुपयोग' बताया है और पेट्रोल पंपों पर लगी केन्द्र सरकार की योजनाओं के विज्ञापन वाली होर्डिंग्स को हटाने के लिए चुनाव आयोग से हस्तक्षेप करने की मांग की है।

राहुल गांधी के पुशअप वीडियो की कायल हुईं स्वरा भास्कर, कहा- ये बंदा सच में है खिलाड़ी

PM की तस्वीर को बताया आचार संहिता का उल्लंघन
उन्होंने कहा, 'प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी इस विधानसभा चुनाव में भाजपा के स्टार प्रचारक रहने वाले है। एक राजनेता के रूप में, वह रैलियों के दौरान अपनी पार्टी के लिए समर्थन मांग रहे हैं। इस स्थिति में, टीकाकरण प्रमाणपत्रों में उनकी तस्वीर का इस्तेमाल मतदाताओं को प्रभावित करने और आदर्श आचार संहिता का उल्लंघन करने जैसा है।' हाकिम ने कहा, 'हमने पेट्रोल पंपों पर केंद्रीय योजनाओं के विज्ञापन वाली होर्डिंग्स में उनकी (मोदी) तस्वीर हटाने के लिए चुनाव आयोग के हस्तक्षेप की मांग की है।'

असम में BJP और सहयोगी दलों के बीच सीट शेयरिंग पर बनी सहमति, आज होगी घोषणा

BJP ने आरोपों को बताया आधारहीन
उन्होंने मंगलवार को ट्विटर पर कहा था, 'चुनावों की घोषणा हो चुकी है। प्रधानमंत्री की तस्वीर कोविड-19 दस्तावेजों पर अभी भी दिखाई दे रही है। तृणमूल कांग्रेस चुनाव आयोग के समक्ष इसे मजबूती के साथ उठा रही है।' इन आरोपों पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष दिलीप घोष ने इन्हें 'आधारहीन' बताया और कहा कि चुनाव की तारीखों की घोषणा से पहले टीकाकरण अभियान शुरू हो गया था।

फरवरी 2021 में 30-40 डिग्री पर आखिर क्यों पहुंच गया तापमान? ये है कारण

BJP प्रदेश अध्यक्ष ने कहा ये
दिलीप घोष ने कहा, 'यदि कोई सरकारी परियोजना चुनाव की घोषणा से पहले शुरू होती है, तो यह उसी रूप में जारी रह सकती है। पेट्रोल पंपों पर, होर्डिंग्स में केंद्र की कई कल्याणकारी परियोजनाओं का विज्ञापन किया गया हैं।' उन्होंने कहा कि चुनाव आयोग इस मुद्दे को देखेगा। गौरतलब है कि पश्चिम बंगाल में आठ चरणों में विधानसभा चुनाव होंगे जिसकी शुरूआत 27 मार्च से होगी। मतगणना दो मई को होगी।

यहां पढ़े अन्य बड़ी खबरें... 

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.