Saturday, Jul 24, 2021
-->
PM Narendra Modi reviews Air Force  corona virus campaign rkdsnt

पीएम मोदी ने की वायु सेना के कोरोना संबंधी अभियान की समीक्षा

  • Updated on 4/28/2021


नई दिल्ली/टीम डिजिटल।  प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बुधवार को कोविड-19 से जारी देश की लड़ाई में भारतीय वायु सेना द्वारा चलाए जा रहे अभियान की समीक्षा की और इस दौरान ऑक्सजन टैंकरों तथा अन्य आवश्यक उपकरणों के परिवहन में सुरक्षा का ध्यान रखते हुए तेजी लाने पर बल दिया। 

ऑक्सीजन को लेकर पीएम मोदी युद्ध स्तर पर कर रहे हैं निगरानी : सुप्रीम कोर्ट में केंद्र का हलफनामा

वायु सेना प्रमुख आर के एस भदौरिया ने आज प्रधानमंत्री से मुलाकात की और देश में कोविड-19 की ताजा स्थिति में सुधार के लिए वायु सेना द्वारा किए जा रहे प्रयासों से उन्हें अवगत कराया। प्रधानमंत्री कार्यालय (पीएमओ) की ओर से जारी किए गए बयान के मुताबिक भदौरिया ने प्रधानमंत्री को बताया कि भारतीय वायु सेना देश की कोविड-19 संबंधी जरूरतों को पूरी करने के लिए 24 घंटे प्रयासरत है। 

ऑक्सीजन को लेकर पीएम मोदी युद्ध स्तर पर कर रहे हैं निगरानी : सुप्रीम कोर्ट में केंद्र का हलफनामा

बयान में कहा गया, ‘‘प्रधानमंत्री ने ऑक्सीजन टैंकरों और अन्य आवश्यक वस्तुओं के परिवहन ऑपरेशन की गति तेज करने, उसका स्तर बढ़ाने और उसकी सुरक्षा पर ध्यान देने की आवश्यकता पर बल दिया।’’ प्रधानमंत्री ने इस दौरान इस अभियान की सुरक्षा के साथ-साथ इसमें जुटे वायु सेना के र्किमयों की संक्रमण से सुरक्षा सुनिश्चित करने पर जोर दिया। 

जनता ऑक्सीजन के लिए भटक रही, योगी सरकार ‘झूठ’ बोल रही : अखिलेश यादव

बयान के मुताबिक भदौरिया ने प्रधानमंत्री को बताया कि इस अभियान में बड़े और छोटे हवाई जहाजों का उपयोग किया जा रहा है ताकि देश के हर क्षेत्र में आवश्यक वस्तुओं की आपूर्ति की जा सके। प्रधानमंत्री ने इस दौरान वायु सेनाकर्मियों और उनके परिजनों के स्वास्थ्य के बारे में पता किया। भदौरिया ने उन्हें बताया कि वायु सेना के अधिकांश कर्मियों का टीकाकरण हो चुका है। 

प्रधानमंत्री मोदी की चाची नर्मदाबेन नहीं रहीं, गुजरात में कोरोना से निधन

भदौरिया ने प्रधानमंत्री को यह भी बताया कि वायु सेना ने अपने अस्पतालों में कोविड-19 से संबंधित सुविधाओं में इजाफा किया है और जहां संभव हो रहा है वहां सामान्य नागरिकों की भी देखभाल की जा रही है।

 

यहां पढ़े अन्य बड़ी खबरें... 


 

comments

.
.
.
.
.