Wednesday, Nov 25, 2020

Live Updates: Unlock 6- Day 25

Last Updated: Wed Nov 25 2020 08:10 AM

corona virus

Total Cases

9,221,998

Recovered

8,641,404

Deaths

134,743

  • INDIA9,221,998
  • MAHARASTRA1,784,361
  • ANDHRA PRADESH1,648,665
  • KARNATAKA871,342
  • TAMIL NADU768,340
  • KERALA557,442
  • NEW DELHI534,317
  • UTTAR PRADESH528,833
  • WEST BENGAL526,780
  • ARUNACHAL PRADESH325,396
  • ODISHA315,271
  • TELANGANA263,526
  • RAJASTHAN240,676
  • BIHAR230,247
  • CHHATTISGARH221,688
  • HARYANA215,021
  • ASSAM211,427
  • GUJARAT194,402
  • MADHYA PRADESH188,018
  • CHANDIGARH183,588
  • PUNJAB145,667
  • JHARKHAND104,940
  • JAMMU & KASHMIR104,715
  • UTTARAKHAND70,790
  • GOA45,389
  • PUDUCHERRY36,000
  • HIMACHAL PRADESH33,700
  • TRIPURA32,412
  • MANIPUR23,018
  • MEGHALAYA11,269
  • NAGALAND10,674
  • LADAKH7,866
  • SIKKIM4,691
  • ANDAMAN AND NICOBAR ISLANDS4,631
  • MIZORAM3,647
  • DADRA AND NAGAR HAVELI3,312
  • DAMAN AND DIU1,381
Central Helpline Number for CoronaVirus:+91-11-23978046 | Helpline Email Id: ncov2019 @gov.in, ncov219 @gmail.com
pm nrendra modi speaks in gujarat aims to get rid of single use plastic by 2022

गुजरात में बोले PM मोदी, 2022 तक सिंगल यूज प्लास्टिक से भारत को मुक्त करने का लक्ष्य

  • Updated on 10/3/2019

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) ने बुधवार को कहा कि भारत (India) 2022 तक सिंगल यूज प्लास्टिक से मुक्ति का लक्ष्य लेकर चलेगा और इसके लिए पूरे देश को प्रयास करने होंगे। साथ ही मोदी ने घोषणा की कि भारत अब खुले में शौच से मुक्त हो गया है। मोदी ने साथ ही कहा कि विश्व मंच पर भारत की प्रतिष्ठा बढ़ रही है। मोदी ने ये टिप्पणी दो अलग-अलग कार्यक्रमों में कही। उन्होंने यह भी कहा कि विश्वस्तर पर भारत का जो सम्मान है उसकी झलक ह्यूस्टन में ‘हाउडी मोदी’ कार्यक्रम में देखने को मिली थी।

गांधी संदेश यात्रा में शामिल हुई प्रियंका, #BJP को दी गांधी के रास्ते पर चलने की नसीहत

विदेशों में बढ़ा देश का सम्मान

PM मोदी ने कहा कि अमरीकी राष्ट्रपति वहां भारतीय समारोह में आए और इतने लम्बे समय तक रहे, यह बड़ी बात है। भाषणों के बाद जब मैंने उनसे आग्रह किया तब वे सुरक्षा प्रोटोकाल की चिंता किये बिना स्टेडियम का चक्कर लगाने आए। मैं इस कार्यक्रम का आयोजन करने वालों को धन्यवाद देता हूं। बाद में उन्होंने शाम को अहमदाबाद में ‘स्वच्छ भारत दिवस’ कार्यक्रम में कहा कि आज ग्रामीण भारत और उसके गांवों ने स्वयं को ‘खुले में शौच’ से मुक्त घोषित कर दिया है।

हरियाणा चुनाव: कांग्रेस ने जारी की 84 उम्मीदवारों की लिस्ट, जानें किसे कहां से मिला टिकट

2022 तक देश से ‘एकल-उपयोग प्लास्टिक’ को मिटाने का लक्ष्य 

मोदी ने यह घोषणा 2022 तक सिंगल एक रिमोट का बटन दबाकर की जिससे खुले में शौच से मुक्त होने का भारत के एक मानचित्र का अनावरण हो गया। उन्होंने कहा कि हालांकि, यह उपलब्धि सिर्फ एक मील का पत्थर है और हमें यहां नहीं रुकना चाहिए। आंदोलन जारी रखना है। उन्होंने कहा कि प्लास्टिक उन सभी के लिए एक बड़ा खतरा है, इसलिए हमें 2022 तक देश से ‘एकल-उपयोग प्लास्टिक’ को मिटाने का लक्ष्य प्राप्त करना होगा। मोदी ने देश के 20,000 गांवों के ग्राम प्रधानों को संबोधित करते हुए कहा कि आज, ग्रामीण भारत ने खुद को खुले में शौच से मुक्त घोषित कर दिया है। यह स्वच्छ भारत आंदोलन की एक बड़ी उपलब्धि है, जिसमें लोगों की भागीदारी है। 

मुस्लिमों और हिंदुओं के चरमपंथीकरण की तुलना पर फंसे दिग्विजय सिंह

महात्मा गांधी को उनकी 150वीं जयंती

उन्होंने कहा, ‘‘स्वतंत्रता आंदोलन के दौरान महात्मा गांधी के आह्वान पर देश के लोग ‘सत्याग्रह’ के लिए एकजुट हो गए और उन्होंने अब ‘स्वच्छआग्रह’ के लिए वही किया। इससे पहले मोदी ने महात्मा गांधी को उनकी 150वीं जयंती पर साबरमती आश्रम में श्रद्धांजलि दी। उन्होंने आगंतुक पुस्तिका में अपने विचार लिखे, ‘‘मैं संतुष्ट हूं कि गांधीजी की 150वीं जयंती के अवसर पर हम ‘स्वच्छ भारत’ के उनके सपने को पूरा करते हुए देख रहे हैं। मैं इसको लेकर सौभाग्यशाली महसूस कर रहा हूं जब भारत ने खुले में शौच को सफलतापूर्वक रोक दिया है, मैं यहां आश्रम में हूं। गांधी ने 1917 में दक्षिण अफ्रीका से लौटने के बाद आश्रम की स्थापना की थी और वह वहां 1930 तक वहीं रहे। मोदी ने गांधी की 150वीं जयंती के अवसर पर 150 रुपये के स्मारक सिक्के भी जारी किए।     

 

 

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।

comments

.
.
.
.
.