Monday, Dec 06, 2021
-->
pm-oli-ordered-ayodhyapuri-dham-to-be-built-in-nepal-40-acres-of-land-allotted-prshnt

PM ओली ने दिया आदेश, नेपाल में बनेगा अयोध्यापुरी धाम, 40 एकड़ जमीन की आवंटित

  • Updated on 10/1/2020

नई दिल्ली/ टीम डीजिटल। अयोध्या के नेपाल (Nepal) में होने का दावा करने वाले नेपाल के प्रधानमंत्री के पी शर्मा ओली (K. P. Sharma Oli) ने नेपाल में अयोध्यापुरी धाम निर्माण करने का फैसला किया है। यह अयोध्यापुरी धाम नेपाल के चितवन जिले की नगरपालिका में 40 एकड़ की जमीन पर बनाई जाएगी। चितवन जिले की माडी नगरपालिका ने अयोध्या पुरी धाम बनाने के लिए 40 एकड़ जमीन आवंटित करने का एलान कर दिया है। नेपाल के पीएम के पी ओली के दावे के मुताबिक नेपाल के चितवन में ही भगवान राम का जन्म हुआ था।

थोड़ी देर में हाथरस पीड़िता के परिवार से मिलने जाएंगे राहुल-प्रियंका, जिले की सीमा सील

सांस्कृतिक विरासत पर कब्जा करने का आरोप
नेपाल नेशनल न्यूज़ एजेंसी से मंडी के मेयर ठाकुर प्रसाद धाकड़ ने कहा कि 29 सितंबर को हुई बैठक में धाम को लेकर चितवन जिले में बनने वाले अयोध्या पुरी धाम को लेकर फैसला किया गया है।

हाल ही में पीएम केपी ओली ने भारत पर सांस्कृतिक विरासत पर कब्जा करने का आरोप लगाते हुए भारत में मौजूद अयोध्या को नकली बताया था और कहा था कि असली अयोध्या नेपाल के चितवन जिले में है। ओली के बयान के बाद से ही भारत और नेपाल में काफी विवाद हुआ और ओली के इस बयान की काफी आलोचना भी हुई।

हाथरस गैंगरेप केस: सोनिया गांधी ने यूपी सरकार पर साधा निशाना, कहा- गुस्से में हैं करोड़ों लोग

अयोध्यापुरी धाम के लिए मास्टर प्लान तैयार
अयोध्यापुरी धाम को लेकर मंडी के मियां धाकड़ का कहना है कि हमने वर्तमान में अयोध्या पुरी पार्क की 40 एकड़ जमीन अयोध्या पुरी धाम के लिए आवंटित कर दी है। भगवान राम की जन्मभूमि के नेपाल में होने का दावा करने के बाद ओली ने मान ली नगरपालिका के साथ बैठक की थी।

इतना ही नहीं बोली ने सबूत जुटाने के लिए पुरातात्विक खुदाई करने का भी निर्देश दिया था मेरा धाकड़ ने बताया कि उनके पास 50 बीघा अतिरिक्त जमीन है, अगर कोई तकनीकी परेशानी होती है, तो इस जमीन का भी इस्तेमाल किया जा सकता है। अयोध्यापुरी धाम के लिए मास्टर प्लान तैयार कर लिया गया है और जल्द ही एक रिपोर्ट पेश की जाएगी।

बिहार विधानसभा चुनाव: पहले चरण की 71 सीटों पर नामांकन आज से, 12 अक्टूबर नाम वापसी की अंतिम तारीख

नेपाल के विदेश मंत्रालय ने दी थी स्पष्टीकरण
अयोध्या को नेपाल में बताने वाले होली के विवादित बयान के बाद उनकी पार्टी में ही उनकी आलोचना हुई थी, इसके अलावा अयोध्या के साधु-संतों समेत बीजेपी ने भी ओली के बयान को लेकर नाराजगी जाहिर की थी। जिसके बाद नेपाल के विदेश मंत्रालय को इसे लेकर स्पष्टीकरण भी जारी करना पड़ा था, जिसमें कहा गया था कि ओली के बयान का मकसद किसी की धार्मिक भावनाओं को आहत करने या अयोध्या के महत्व को कम करने की नहीं था। ओली सिर्फ नेपाल की सांस्कृतिक विरासत के बारे में ज्यादा जानकारी जुटाने की बात कर रहे थे।

उत्तर प्रदेश: हाथरस के बाद अब बलरामपुर में छात्रा के साथ गैंगरेप, पीड़िता ने तोड़ा दम

रामायण से जुड़े आसपास के क्षेत्रों को भी विकसित करने का आदेश
पीएम मोदी ने दशहरे में रामनवमी के अवसर पर भूमि पूजन करते हुए मंदिर निर्माण का काम शुरू करने का करने और 2 साल बाद की रामनवमी पर मूर्ति का अनावरण करने के हिसाब से काम को आगे बढ़ाने को कहा है। अयोध्या पुरी धाम के साथ ही रामायण से जुड़े आसपास के क्षेत्रों को भी विकसित करने का आदेश जारी किया गया है मंडी के पास रहे वाल्मीकि आश्रम सीता के वनवास के दौरान रह जंगल लव कुश का जन्म स्थान आदि इन सभी क्षेत्रों का विकास क्षेत्रों को विकसित किया जाएगा।

यहां पढ़ें अन्य बड़ी खबरें

 

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.