Monday, Mar 01, 2021
-->
police take action comment on political leaders and officers of bihar on social media prsgnt

नीतीश सरकार के खिलाफ Social Media पर लिखना पड़ेगा भारी, ADG से विभागों को लिखा पत्र

  • Updated on 1/22/2021

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार (Nitish Kumar) हमेशा से ही सोशल मीडिया (Social Media) के खिलाफ रहे हैं। उन्होंने अपने समर्थकों से भी हमेशा कहा है कि वो सोशल मीडिया पर प्रसारित पोस्ट पर भरोसा न करें। लेकिन इसके बाद भी लगातार सरकार के खिलाफ लगातार कुप्रचार सामने आने के बाद अब नीतीश सरकार ने भ्रामक पोस्ट लिखने वालों पर कार्रवाई करने का फैसला लिया है। 

बताया जा रहा है कि नीतीश सरकार सोशल मीडिया पर सरकार के खिलाफ लिखने वालों पर नियंत्रण लगाने के लिए क़ानूनी कार्रवाई करने का फैसला लिया है। इस मामलों में जो लोग दोषी पाए जाएंगे उन्हें जेल भी हो सकती है। 

लालू यादव की तबीयत बिगड़ी, सांस लेने में हो रही दिक्कत

पत्र लिख दी चेतावनी 
इस बारे में राज्य की आर्थिक अपराध शाखा (Economic offence wing) के अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक (ADG) नैयर हसनैन खान ने पत्र लिखकर सरकार के सभी अधिकारियों, मंत्री, सांसद, विधायक आदि गणमान्य के बारे में या उनकी छवि को धूमिल करने को लेकर कोई पोस्ट सोशल मीडिया पर लिखी गई तो उसके खिलाफ मामला दर्ज किया जाएगा। 

आईजी ने सभी विभागों के प्रधान सचिव और सचिव को यह पत्र लिखा है। इस पत्र में लिखा गया है कि अगर आपके विभाग से जुड़ा इस तरह का कोई मामला सामने आता है तो आर्थिक अपराध इकाई को इस बारे में पूरी डिटेल दी जाए ताकि दोषियों पर तुरंत और उचित कार्रवाई की जा सके।

आसमान छू रहे पेट्रोल-डीजल के दाम, जानिए अपने शहर का दाम

आईजी ने कहा....
आर्थिक अपराध इकाई के आईजी एडीजी नैयर खान का इस बारे में कहना है कि सोशल मीडिया पर भ्रामक या गलत पोस्ट डालना साइबर क्राइम के दायरे में आता है। अगर कोई सरकार के खिलाफ या किसी मंत्री, सांसद, विधायक या सरकारी अफसर के खिलाफ आपत्तिजनक टिप्पणी या पोस्ट डालना है तो निश्चित ही उस व्यक्ति के खिलाफ साइबर अपराध के तहत जांच की जाएगी और सख्त कार्रवाई भी होगी।

उत्तर प्रदेश के दो दिवसीय दौरे पर लखनऊ पहुंचे भाजपा अध्यक्ष नड्डा 

बता दें, आर्थिक अपराध इकाई साइबर अपराध की नोडल एजेंसी है जो सोशल मीडिया प्लेटफार्म पर अश्लीलता, साइबर बुलिंग, साइबर उत्पीड़न और साइबर क्राइम जैसे मामले देखती है।

पढ़ें अन्य बड़ी खबरें...

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।

comments

.
.
.
.
.