Sunday, Apr 18, 2021
-->
politics intensified on bharat bandh, javadekar opposition that supports is hypocritical prshnt

भारत बंद को लेकर तेज हुई राजनीति, जावड़ेकर ने कहा- समर्थन देने वाला विपक्ष है ढोंगी

  • Updated on 12/8/2020

नई दिल्ली/ टीम डिजिटल। नए कृषि कानूनों (Farmer Bill) का लगभग 13 दिन से विरोध कर रहे किसानों ने आज भारत बंद किया है। ऐसे में देशभर में सुबह 11 बजे से ही कई सेवाएं पर असर देखा गया। वहीं कल यानि बुधवार को केंद्र सरकार और किसानों के बीच छठे दौर की वार्ता होगी। 

भारत बंद को कई विपक्षी पार्टियों का समर्थन मिला है। इसी बीच केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने कहा कि कांग्रेस ने अपने घोषणापत्र में इन कृषि कानूनों का उल्‍लेख किया है और वहीं इन कानूनों की वापसी की मांग करने वाला विपक्ष ढोंगी है। उन्होंने कहा अपनी सत्‍ता के दौरान उन्‍होंने कंट्रैक्‍ट कृषि कानूनों को पारित किया था, इस तरह की पेशकश कभी नहीं की, किसानों ने लागत के अतिरिक्त लाभ की मांग की थी और हम उन्हें पहले ही लागत से 50 फीसद अधिक दे रहे हैं।

Coronavirus: ओडिशा में कोरोना के 349 से ज्यादा नए केस, 600 से ज्यादा लोग ठीक

देश की छवि को खराब करने की साजिश
वहीं केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह ने किसान आंदोलन पर विदेशों के दखलंदाजी पर सवाल उठाते हुए कहा कि जिस तरह से इंग्लैंड के सांसदों, कनाडा के प्रधानमंत्री ने आतंरिक हस्तक्षेप किया, इस पर विपक्ष की ज़ुबान क्यों बंद है।

जबकि केंद्रीय मंत्री मुख्‍तार अब्‍बास नकवी ने कहा कि हर चीज पर लोगों को गुमराह करना, देश की छवि को खराब करने की साजिश करना विपक्षी दलों का पुराना तरीका रहा है। अपने शासन काल में कांग्रेस, एनसीपी, अकाली दल, लेफ्ट पार्टियां इस तरह के विधेयकों का सीना ठोक कर समर्थन करती रही हैं।

अपनी हरकतों से बाज नहीं आ रहा चीन, गुजरात सीमा के पास तैनात किए लड़ाकू विमान और सैनिक

अखिल भारतीय किसान सभा के महासचिव
बता दें कि केन्द्र के तीन नए कृषि कानूनों के खिलाफ मंगलवार को ‘भारत बंद’ का आह्वान करने वाले किसान संगठनों ने प्रमुख मार्ग और ‘टोल प्लाजा’ जाम करने की तैयारी शुरू कर दी है। अखिल भारतीय किसान सभा (एआईकेएस) के महासचिव हन्नान मोल्ला ने कहा कि ‘भारत बंद’ किसानों की ताकत दिखाने का एक जरिया है और उनकी जायज मांगों को देशभर के लोगों का समर्थन मिला है। प्रदर्शन कर रहे किसानों ने पूर्वाह्र 11 बजे से अपराह्न तीन बजे के बीच राष्ट्रीय राजमार्ग और ‘टोल प्लाजा’ जाम करने की चेतावनी दी है। इस दौरान आपातकालीन सेवाओं को छूट दी जाएगी। 

तेज हुआ किसान आंदोलन, 4 घंटे के लिए NH-24 किया गया ब्लॉक

मांगे पूरी नहीं हुई तो, अगले स्तर पर जाएगा आंदोलन
मोल्ला ने कहा, हम तीनों कानूनों की पूरी तरह वापसी की अपनी मांग पर अडिग हैं और किसी तरह के संशोधनों पर राजी नहीं होंगे। ये ऐसे काननू हैं, जिसमें संशोधन से कोई फर्क नहीं पड़ेगा। उन्होंने कहा, आज हमने बंद बुलाया है और अगर हमारी मांगे पूरी नहीं हुई तो, हम अपने आंदोलन को अगले स्तर पर ले जाने को तैयार हैं।‘भारत बंद’ के मद्देनजर दिल्ली पुलिस ने सभी सीमाओं पर सुरक्षा कड़ी कर दी और शहर में कानून एवं व्यवस्था बनाए रखने के पूरे इंतजाम किए हैं। 

भारत बंद का समर्थन करते हुए कुछ ऑटो रिक्शा और टैक्सी यूनियन के लोग भी आज राष्ट्रीय राजधानी में वाहन नहीं चलाएंगे। दिल्ली के सर्वोदय ड्राइवर एसोसिएशन के अध्यक्ष कमलजीत गिल ने उनके कई साथियों के आज हड़ताल पर होने का दावा किया। उन्होंने कहा, ‘‘ दिल्ली-एनसीआर में ‘एप’ आधारित करीब चार लाख कैब हैं। इनमें से अधिकतर हड़ताल पर हैं।

यहां पढ़े अन्य बड़ी खबरें...

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.