Thursday, Nov 14, 2019
politics on rafale know why there was a dispute over arms worship in congress

राफेल पर राजनीतिःजानें कांग्रेस में शस्त्र पूजा पर क्यों बढ़ी तकरार, संजय निरुपम ने किसे कहा नास्तिक

  • Updated on 10/9/2019

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। राफेल पर राजनीति जमकर हो रही है तबसे जबसे इसके डील को लेकर कांग्रेस (congress) के पूर्व अध्य़क्ष राहुल गांधी (rahul gandhi) ने सवाल उठाये थे। लेकिन ताजा मामला रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह (rajnath singh) के फ्रांस (france से राफेल (rafel) विमान हासिल करने समय उनके शस्त्र पूजा को लेकर विरोधी दलों ने खुलकर विरोध जताना शुरु कर दिया है। हालांकि कांग्रेस इस मसले पर दो गुटों में बंटती नजर आ रही है।

राफेल की शस्त्र पूजा पर खड़गे ने जताई आपत्ति, बताया नौटंकी

कांग्रेस में राफेल पर बढ़ा रार

महाराष्ट्र (maharashtra) में विधानसभा चुनाव सर पर है लेकिन बागी संजय निरुपम (sanjay nirupam) ने राजनाथ सिंह (rajnath singh) के शस्त्र पूजा का बचाव किया है। उन्होंने अपने ही वरिष्ठ नेता मल्लिकार्जुन खडगे (malikarjun khadge) के राफेल के शस्त्र पूजा पर आपत्ति जताते हुए इतना तक कह दिया कि वे नास्तिक है। ऐसे कांग्रेस में मात्र 1 प्रतिशत ही नास्तिक है जो शस्त्र पूजा का विरोध करता है।
 

 

राफेल पर बोले गिरिराज- अब पाकिस्तान पर निर्भर करता है कि वह पहला गोला कब खाएगा

निरुपम ने खड़गे के बयान को बताया बेतुका

संजय निरुपम ने कहा है कि खडगे के बयान को बेतुका बताया है। उन्होंने कहा कि शस्त्र पूजा हमारे समृद्ध परंपरा का हिस्सा रहा है उसे ही रक्षा मंत्री ने किया है। उन्होंने उस मीटिंग का भी जिक्र किया है जिसमें खड़गे ने महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव के लिये बुलाई थी। जिसका जिक्र करते हुए संजय ने कहा कि खड़गे जैसे नेता ने महज 15 मिनट में मीटिंग को खत्म कर दिया।इससे ही उनकी चुनाव को लेकर प्रतिबद्धता जाहिर होती है। किसी भी नेता को बोलने का अवसर भी नहीं दिया गया।

पाक का F-16 हो या चीन का J-20, राफेल के आगे सब फेल, जानें इसकी खूबियां

खड़गे ने रक्षा मंत्री के शस्त्र पूजा पर किया था टिप्पणी 
इससे पहले कांग्रेस के वरिष्ठ नेता मल्लिार्जुन खड़गे ने रक्षा मंत्री के राफेल विमान के शस्त्र पूजा को अनुचित बताया था। उन्होंने इसे बीजेपी का नौटंकी बताया था। उन्होंने खुलकर कहा कि बीजेपी अंधविश्वास की पार्टी है। इस तरह के दिखावे से बचना चाहिये।

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।

comments

.
.
.
.
.