Wednesday, Aug 10, 2022
-->
politics-over-lord-parshuram-bjp-and-congress-face-to-face-due-to-councilor-dispute-arose

भगवान परशुराम पर सियासत : भाजपा एवं कांग्रेस आमने-सामने, पार्षद के कारण उभरी कलह

  • Updated on 4/26/2022

नई दिल्ली/टीम डिजीटल। अब भगवान परशुराम पर सियासत गरमा गई है। भव्य प्रवेश द्वार पर स्टील के शब्दों से भगवान परशुराम का नाम अंकित किए जाने का काम रूकने से भाजपाई बिफर पड़े हैं। भाजपा कार्यकर्ताओं ने कांग्रेस पार्षद पर निशाना साधा है। आरोप है कि पार्षद के दबाव में आकर नगर निगम ने बीच में यह कार्य रोक दिया है। 

नाम अंकित करने का काम रूका 
इस मुद्दे पर भाजपा और कांग्रेस आमने-सामने आ गए हैं। इस प्रकरण में भाजपाई बुधवार को महापौर से मुलाकात कर शिकायत करेंगे। गाजियाबाद नगर निगम के वार्ड संख्या-58 शिवपुरी में यह मामला प्रकाश में आया है। इस वार्ड के अंतर्गत मवई गांव आता है। गांव के प्रवेश द्वार का नामकरण भगवान परशुराम के नाम पर किया गया था। 

भाजपा कार्यकर्ताओं में आक्रोश
नगर निगम की बोर्ड बैठक से विगत 27 नवम्बर 2021 को इस संबंध में प्रस्ताव को मंजूरी दी गई थी। नामकरण होने के बाद से प्रवेश द्वार पर स्थाई रूप से भगवान परशुराम का नाम अंकित नहीं था। इसके लिए भाजपा के कुछ कार्यकर्ताओं ने 18 अप्रैल को महापौर आशा शर्मा से मुलाकात कर उन्हें पत्र सौंपा था। 

महापौर से मिली थी काम को मंजूरी
भाजपा नेता एवं अधिवक्ता मुकुल शर्मा के मुताबिक महापौर ने स्टील के शब्दों से प्रवेश द्वार पर नाम अंकित करने की अनुमति प्रदान कर दी थी। तदुपरांत विजय नगर जोन को कार्रवाई के निर्देश दिए गए थे। नगर निगम की टीम मंगलवार की दोपहर करीब साढ़े 3 बजे मौके पर पहुंची। प्रवेश द्वार पर स्टील के शब्दों से नाम अंकित किया जाना था। 

फोन आने पर बैरंग लौटी टीम
इस बीच कोई फोन आने पर यह कार्य रोक दिया गया। काम निपटाए बगैर टीम वापस लौट गई। भाजपा कार्यकर्ताओं का आरोप है कि क्षेत्रीय पार्षद विकास खारी ने जान-बूझकर इस काम में अड़ंगा लगवाया है। पार्षद के इशारे पर प्रवेश द्वार पर भगवान परशुराम का नाम अंकित नहीं हो सका। 

कांग्रेसी पार्षद को लेकर गुस्सा
भाजपाइयों ने पार्षद खारी पर परशुराम विरोधी मानसिकता अपनाने का भी आरोप लगाया है। देव नारायण शर्मा, संजय शर्मा, सुंदर लाल शर्मा, ललित शर्मा, राहुल शर्मा, तुषार, कपिल, तन्नू आदि इस मामले में बुधवार को महापौर से मुलाकात करेंगे। उधर, पार्षद विकास खारी से इस मामले में उनका पक्ष जानने के लिए फोन पर संपर्क करने की कोशिश की गई, मगर वह उपलब्ध नहीं हो सके।

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.