Monday, Mar 01, 2021
-->
possibility-of-coronavirus-reaching-third-phase-in-india-prsgnt

देश में तेजी से बढ़ते कोरोना संक्रमण के मामले, तीसरे फेज में पहुंचने को तैयार भारत!

  • Updated on 4/3/2020

नई दिल्ली/प्रियंका। दिल्ली के निजामुद्दीन मरकज में तब्‍लीगी जमात के लोगों के कोरोना संक्रमित होने के बाद देश में कोरोना के नए मरीज तेजी से सामने आ रहे हैं। जिसके बाद भारत के कुछ इलाकों में कोरोना के कम्युनिटी ट्रांसमिशन यानी फेज तीन में पहुंचने की आशंका बढ़ गई है।

इन्ही संभावनाओं को देखते हुए सरकार अब नई रणनीति अपनाने पर विचार कर रही है। जिसके तहत जिन इलाकों से ज्यादा मामले सामने आए हैं वहां अधिक जांच करने की तैयारी की जा रही है। इस बारे में आइसीएमआर नई गाइडलाइंस जारी करने जा रही है।

कई टेस्टों के बाद भी अगर आप हैं कोरोना निगेटिव तो हो जाएं सावधान! और पढ़ें ये रिपोर्ट

बड़े पैमाने पर होगी जांच
अनुमान है कि उस नई रणनीति के तहत सरकार कम्युनिटी ट्रांसमिशन की आशंका वाले इलाकों में घर-घर जाकर लोगों से संपर्क करेगी। इसके अलावा जिन लोगों में कोरोना के लक्षण हैं और जो उनके आस-पास के लोग हैं सभी की बड़े पैमाने पर जांच की जाएगी। इससे यह अनुमान लगाना आसान हो जायेगा कि कितने लोगों तक कोरोना वायरस फैला है। इस बारे में सरकार की तरफ से कहा गया है कि नई परिस्थिति को देखते हुए कोरोना वायरस के टेस्ट के दिशानिर्देशों को बदलने की भी तैयार की जा रही है।

JNCASR ने बनाई एंटी-कोरोना कोटिंग, कपड़ों और प्लास्टिक पर लगाने से मरेंगे कोरोना वायरस!

कोरोना हॉटस्‍पॉट इलाके
कोरोना वायरस को लेकर देश के कुछ इलाके हॉटस्पोर्ट बने हुए हैं, जहां से बड़ी संख्या में कोरोना संक्रमित लोग मिले हैं। इनमें मुंबई और दिल्ली के कुछ इलाके शामिल हैं। इन इलाकों के सैंकड़ों लोग आइसोलेशन में रखे गए हैं। अनुमान है कि इन इलाकों में कोरोना संक्रमित लोग लंबे समय से  इलाकों में खुलेआम घूम रहे थे, इसीलिए यहां कोरोना के एक बड़ी जनसंख्या में फैले होने की आशंका है।

अप्रैल पड़ेगा चीन पर भारी, फिर लौटेगा कोरोना वायरस का कहर! पढ़े रिपोर्ट

पकड़ पाना मुश्किल
लेकिन इस बीच मुश्किल यह भी है कि ऐसे इलाकों में भी कोरोना संक्रमित लोगों में बीमारी के लक्षण सामने आने में कई दिन लग जाते हैं। जिसकी वजह से यह वायरस बाकी लोगों में भी फैल जाता है। हालांकि ऐसा प्रूफ नहीं मिला है लेकिन यह वायरस फैलने की बड़ी संभावना जरुर है। वहीँ, लॉकडाउन के चलते भी ऐसा कम हो सकता है लेकिन फिर भी रोजाना जरूरतों के लिए बाहर निकलने वाले लोगों में ऐसा खतरा होने के चांस हो सकते हैं!

भारत में आने वाले दिनों में तय होगा कोरोना का भविष्य, पढ़ें स्पेशल रिपोर्ट

कम्युनिटी ट्रांसमिशन
लोगों तक जब कोरोना वायरस अनजाने में पहुंचता है तो इस स्टेज को कम्युनिटी ट्रांसमिशन का फेज या स्टेज कहा जाता है। इस स्टेज के बाद ही वायरस महामारी का रूप ले लेता है। ऐसा इटली, स्पेन, अमेरिका समेत दुनिया के कई देशों में हो चुका है। हालांकि भारत में लॉकडाउन समय से कर दिया गया वरना यहां भी सम्भावनाएं इन देशों की तरह ही बन रही थीं।

लेकिन अभी भी जिस तरह से दिल्ली का निजामुद्दीन मरकज कोरोना वायरस का हॉटस्पॉट बना है अगर उसी तरह के अन्य इलाके भी मिले तो फिर भारत में भी इस महामारी के बढ़ने के चांस दिखते हैं।

 

यहां पढ़ें कोरोना से जुड़ी महत्वपूर्ण खबरें

 

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.