Friday, Dec 02, 2022
-->
prabuddha-who-describes-himself-as-mayawati-nephew-merged-his-party-with-rld-rkdsnt

अपने को मायावती का भांजा बताने वाले प्रबुद्ध ने अपनी पार्टी का RLD में किया विलय 

  • Updated on 12/8/2021

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। उत्तर प्रदेश के विधानसभा चुनाव से पहले बहुजन समाज पार्टी प्रमुख मायावती के ‘भांजे’ प्रबुद्ध कुमार ने अपने राजनीतिक दल का विलय सपा-रालोद गठबंधन में करने का फैसला किया हैं। भारतीय बहुजन परिवर्तन पार्टी का नेतृत्व करने वाले प्रबुद्ध कुमार ने दावा किया है कि उनकी मां (सरस्वती देवी) मायावती की बड़ी बहन हैं। उन्होंने बताया कि उनकी पार्टी ने मंगलवार को मेरठ में सपा रालोद की रैली में रालोद में विलय कर लिया हैं। 

यूपी विधानसभा चुनाव : सपा-रालोद ने की गठबंधन की औपचारिक घोषणा

प्रबुद्ध ने पीटीआई-भाषा को बताया कि उनकी पार्टी 2016 में पंजीकृत हुई थी और 2017 के उप्र विधानसभा चुनावों में उन्होंने राज्य की लगभग 40 सीटों पर चुनाव लड़ा जिनमें से ज्यादातर पश्चिमी उप्र से थी। उन्होंने कहा कि पार्टी ने भाजपा को सत्ता में आने से रोकने के लिए काम करने करने का फैसला किया है । 39 वर्षीय कुमार ने कहा कि‘‘चूंकि हम पश्चिमी उप्र में रहते हैं, हमें लगता है कि यहां रालोद है, जो भाजपा को रोक सकती है। यहां रालोद मजबूत है। मैंने जयंत चौधरी (रालोद प्रमुख) से मुलाकात की है ,वह एक युवा नेता हैं, जो सभी की सुनते है और सभी को सम्मान देते हैं।' 

Army हेलीकॉप्टर हादसा: जनरल रावत समेत 11 लोगों की मौत पर नेताओं ने जाहिर की संवेदनाएं

उन्होंने कहा कि रालोद का पक्ष लेने का एक और कारण यह है कि बाबासाहेब अम्बेडकर और पूर्व प्रधान मंत्री चौधरी चरण सिंह के विचार काफी समान हैं। यह पूछे जाने पर कि वह बसपा में शामिल क्यों नहीं हुए, प्रबुद्ध ने कहा, 'शायद मुझमें कुछ कमियां रही होंगी, जिसके कारण मायावती जी ने कहा था कि परिवार से कोई भी राजनीति में शामिल नहीं होगा या पार्टी में जिम्मेदारी का पद नहीं लेगा।' 

सीडीएस रावत को ले जा रहे हेलीकॉप्टर हादसे की ‘कोर्ट ऑफ इंक्वायरी’ के आदेश दिए

उन्होंने यह भी कहा, 'बेशक, बाबासाहेब अम्बेडकर और कांशीराम द्वारा शुरू की गई यात्रा को बहनजी (मायावती) ने और अधिक ऊंचाइयों तक पहुंचाया। उन्होंने दलितों को सम्मान देने का काम किया है। आगामी चुनावों में बसपा के प्रदर्शन पर, उन्होंने कहा, 'हमारी शुभकामनाएं बसपा के साथ हैं। हम उनके उज्ज्वल भविष्य के लिए प्रार्थना करते हैं, और कामना करते हैं कि बहन जी :मायावती: प्रधान मंत्री बनें।'

विराट कोहली से छिनी वनडे की कप्तानी, रोहित शर्मा बनाए गए नए कप्तान

comments

.
.
.
.
.