Monday, Nov 18, 2019
prakash javadekarreviews measures to reduce pollution in delhi

दिल्ली: प्रदूषण कम करने के उपायों की जावड़ेकर ने की समीक्षा, कहा- युद्धस्तर पर प्रयास करें सरकारें

  • Updated on 11/9/2019

नई दिल्ली/ टीम डिजिटल। पर्यावरण, वन एवं जलवायु परिवर्तन मंत्री प्रकाश जावड़ेकर (Prakash Javadekar) ने दिल्ली (Delhi) में वायु प्रदूषण (Air Pollution) से निपटने के लिए राज्य सरकारों द्वारा किये जा रहे उपायों की शनिवार को समीक्षा की। जावड़ेकर ने दिल्ली, पंजाब, हरियाणा, राजस्थान और उत्तर प्रदेश सरकार के प्रतिनिधियों के साथ उच्च स्तरीय बैठक में दिल्ली की वायु गुणवत्ता बहुत खराब स्थिति में होने पर चिंता व्यक्त की और राज्य सरकारों से युद्धस्तर पर प्रयास तेज करने को कहा। 

हालांकि जावड़ेकर ने सभी राज्य सरकारों के प्रयासों पर संतोष व्यक्त करते हुए कहा कि पंजाब और हरियाणा में जल रही पराली से दिल्ली के प्रदूषण में इसकी 35 फीसदी हिस्सेदारी घटकर अब मात्र तीन फीसदी तक रह गई है। उन्होंने बताया कि इस मामले में सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद दिल्ली के वायु प्रदूषण की समस्या से निपटने के लिए केंद्र और राज्य सरकारों के बीच आपसी समन्वय कायम करने के लिए लगातार उच्च स्तरीय बैठकें की जा रही हैं।   

प्रदूषण पर राजनीति तेज, साइकिल पर सवार हो सिसोदिया के घर पराली भेंट करने पहुंचे विजय गोयल

ये मंत्री रहे बैठक में मौजूद
बैठक में दिल्ली के पर्यावरण मंत्री कैलाश गहलोत और पंजाब, राजस्थान, उत्तर प्रदेश एवं हरियाणा के वरिष्ठ अधिकारी मौजूद थे। उल्लेखनीय है कि दिल्ली में दीपावली के बाद हुई वायु प्रदूषण की बेहद गम्भीर स्थिति में अब मामूली सुधार हुआ है और पिछले दो दिनों से वायु गुणवत्ता सूचकांक 250 के स्तर पर बहुत खराब श्रेणी में है। 

आज Even दिन है और मेरे पास Odd नंबर की गाड़ी, तो मैं साइकिल से चला Office- सिसोदिया

तत्काल नियंत्रण के उपाय सुनिश्चित करे दिल्ली सरकार
इससे पहले प्रधानमंत्री कार्यालय और स्वयं प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने इस सप्ताह प्रदूषण के मामले पर दिल्ली एनसीआर के सभी संबद्ध राज्यों के साथ बैठक कर स्थिति की समीक्षा की थी। जावड़ेकर ने कहा कि सभी राज्यों से, खासकर दिल्ली सरकार से वायु प्रदूषण के स्थानीय कारणों पर तत्काल नियंत्रण के उपाय सुनिश्चित करने को कहा गया है ताकि दिल्ली को इस संकट से प्रभावी रूप से राहत दिलायी जा सके।    

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.