Saturday, Dec 03, 2022
-->
pranab mukherjee former president is no more treatment was going military hospital rkdsnt

पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी नहीं रहे, सैन्य अस्पताल में चल रहा था इलाज

  • Updated on 8/31/2020


नई दिल्ली/टीम डिजिटल। पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी अब इस दुनिया में नहीं रहे। उनका स्वास्थ्य आज और भी ज्यादा खराब हो गया था। फेफड़े में संक्रमण की वजह से उन्हें सेप्टिक शॉक लगा था। सेप्टिक शॉक एक ऐसी गंभीर स्थिति है, जिसमें रक्तचाप काम करना बंद कर देता है और शरीर के अंग पर्याप्त ऑक्सीजन प्राप्त करने में विफल हो जाते हैं। इसके साथ ही राजनीतिक गलियारों में शोक की लहर फैल गई है। 

नहीं रहे भारत के 13वें राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी, जानिए उनके जीवन से जुड़ी खास बातें....

84 वर्षीय मुखर्जी का इलाज सेना के अनुसंधान एवं रेफरल अस्पताल में चल रहा था। वह वेंटिलेटर पर गहरे कोमा में थे। मुखर्जी का इलाज विशेषज्ञों की एक टीम कर रही थी। पूर्व राष्ट्रपति को 10 अगस्त को यहां अस्पताल में भर्ती कराया गया था और उनकी मस्तिष्क की सर्जरी की गई थी। बाद में उनके फेफड़ों में भी संक्रमण हो गया था। मुखर्जी के स्वास्थ्य में लगातार गिरावट आ रही थी। मुखर्जी 2012 से 2017 के बीच 13वें राष्ट्रपति थे। 

कांग्रेस ने बिहार चुनाव की तैयारियां पूरी की, 100 वर्चुअल रैलियां करेंगे राहुल

मुखर्जी को गत 10 अगस्त को अस्पताल में भर्ती कराया गया था और आज सुबह जारी एक स्वास्थ्य बुलेटिन में कहा गया कि वह गहरे कोमा में हैं और उन्हें वेंटीलेटर पर रखा गया है। मुखर्जी के पुत्र अभिजीत मुखर्जी ने ट्वीट किया, ‘‘भारी मन से आपको सूचित करना है कि मेरे पिता श्री प्रणब मुखर्जी का अभी कुछ समय पहले निधन हो गया। आरआर अस्पताल के डॉक्टरों के सर्वोत्तम प्रयासों और पूरे भारत के लोगों की प्रार्थनाओं और दुआओं के लिए मैं आप सभी को हाथ जोड़कर धन्यवाद देता हूं।’’ 
 

कोर्ट का प्रशांत भूषण को सजा देना जरूरी नहीं था : पूर्व कानून मंत्री मोइली

 

 

 

यहां पढ़ें सुशांत सिंह राजपूत से जुड़ी कुछ अहम खबरें 

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।

comments

.
.
.
.
.