चीफ जस्टिस गोगोई के निशाने पर क्यों आए प्रशांत भूषण?

  • Updated on 1/17/2019

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। सुप्रीम कोर्ट में लोकपाल मामले की सुनवाई के दौरान जब वरिष्ठ वकील प्रशांत भूषण कुछ अहम सवाल उठाए तो चीफ जस्टिस रंजन गोगोई गर्म हो गए। बता दें कि प्रशांत भूषण इन दिनों न्यायिक प्रणाली में चल रही खामियों को भी बराबर उजागर कर रहे हैं। इस वजह से चीफ जस्टिस नाराज बताए जा रहे हैं, जिसकी खीज आज सुनवाई को दौरान भी देखने को मिली।

बता दें कि भूषण सोशल मीडिया पर भी सुप्रीम कोर्ट की कार्यवाही को लेकर भी सवाल उठाते रहे हैं। फिर चाहे राफेल का मुद्दा हो या फिर सीबीआई के पूर्व निदेशक आलोक वर्मा का मामला हो। हाल ही में सुप्रीम कोर्ट में दो जजों की नियुक्ति को लेकर भी भूषण सोशल मीडिया पर एक्टिव नजर आए। 

अरुणाचल के पूर्व CM अपांग ने भाजपा छोड़ी, मोदी-शाह पर उठाए सवाल

आम्रपाली ग्रुप फॉरेंसिक आडिट में फंसा, चौंकाने वाले हैं खुलासे

दरअसल, प्रशांत भूषण ने लोकपाल सर्च कमेटी पर संदेह जाहिर किया था, जिस पर सीजेआई गोगोई ने उन्हें सकारात्मक रुख अपनाने की सीख दी। चीफ जस्टिस ने तल्ख लहजे में कहा कि ऐसा लगता है कि आप ही जजों से भी बेहतर जानते हैं। बता दें कि लोकपाल नियुक्ति को लेकर मामला टलता जा रहा है। मोदी सरकार इस मामले को किसी न किसी वजह से लटकाती आ रही है। इसको लेकर प्रशांत भूषण लगातार आवाज भी उठा रहे हैं। 

BCI ने जस्टिस खन्ना को सुप्रीम कोर्ट का न्यायाधीश बनाने का किया विरोध

गणतंत्र दिवस समारोह: AAP का राष्ट्रपति पर सौतेला रवैया अपनाने का आरोप

लोकपाल विधेयक पर चली सुनवाई के दौरान प्रशांत भूषण को चीफ जस्टिस ने खूब खरी-खरी सुनाई। खबरों के मुताबिक सीजेआई ने गर्म मिजाज में भूषण से कहा कि ऐसा प्रतीत होता है कि आप ही जजों से भी ज्यादा जानते हैं। कोर्ट ने इस मामले की सुनवाई के लिए अगली तारीख 7 मार्च 2019 तय की है। इसके साथ ही मोदी सरकार से सर्च कमेटी को काम पूरे करने का निर्देश भी दिया है। 

राफेल डील के ऑडिट पर CAG ने तोड़ी चुप्पी, संसद विशेषाधिकार की दी दुहाई

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।

comments

.
.
.
.
.