Saturday, Jul 11, 2020

Live Updates: Unlock 2- Day 10

Last Updated: Fri Jul 10 2020 09:39 PM

corona virus

Total Cases

818,647

Recovered

513,503

Deaths

22,122

  • INDIA7,843,243
  • MAHARASTRA238,461
  • TAMIL NADU114,978
  • NEW DELHI109,140
  • GUJARAT40,155
  • UTTAR PRADESH33,700
  • TELANGANA25,733
  • ANDHRA PRADESH25,422
  • KARNATAKA25,317
  • RAJASTHAN23,814
  • WEST BENGAL22,987
  • HARYANA19,736
  • MADHYA PRADESH15,284
  • BIHAR14,330
  • ASSAM11,737
  • ODISHA10,624
  • JAMMU & KASHMIR8,675
  • PUNJAB6,491
  • KERALA5,623
  • CHHATTISGARH3,305
  • UTTARAKHAND3,161
  • JHARKHAND2,854
  • GOA1,813
  • TRIPURA1,580
  • MANIPUR1,390
  • HIMACHAL PRADESH1,077
  • PUDUCHERRY1,011
  • LADAKH1,005
  • NAGALAND625
  • CHANDIGARH490
  • DADRA AND NAGAR HAVELI373
  • ARUNACHAL PRADESH270
  • DAMAN AND DIU207
  • MIZORAM197
  • ANDAMAN AND NICOBAR ISLANDS141
  • SIKKIM125
  • MEGHALAYA88
Central Helpline Number for CoronaVirus:+91-11-23978046 | Helpline Email Id: ncov2019 @gov.in, ncov219 @gmail.com
prassthanam movie review in hindi

Movie Review: पारिवारिक ड्रामा के साथ भरपूर मसालेदार है संजय दत्त की 'प्रस्थानम'

  • Updated on 9/20/2019

फिल्म -  प्रस्थानम /Prassthanam
निर्देशक - देव कट्टा (Deva Katta)
स्टारकास्ट - संजय दत्त (Sanjay Dutt) , मनीषा कोइराला( Manisha Koirala) , जैकी श्रॉफ(Jackie Shroff), अली फजल(Ali Fazal), सत्यजीत दुबे(Satyajit Dubey), अमायरा दस्तूर(Amaira Dastur), चंकी पांडे (Chunky Pandey)
रेटिंग - 3/5 स्टार

नई दिल्ली/अनुज श्रीवास्तव। राजनीति एक ऐसी नीति है जो बनी हुई सरकार को गिरा सकती है तो वहीं गिरती हुई सरकार को बचा भी सकती है। ऐसे ही एक परिवार की कहानी ‘प्रस्थानम’ (Prassthanam) आज सिनेमाघरों में रिलीज हो रही है। जिसमें एक भाई राजगद्दी के लालच में दूसरे भाई के खून का प्यासा हो जाता है। देव कट्टा (Deva Katta) के निर्देशन में बनी इस फिल्म में बॉलीवुड के खलनायक संजय दत्त (Sanjay Dutt) मुख्य भूमिका निभा रहे हैं। उनके साथ ही फिल्म में अली फजल (Ali Fazal) ,जैकी श्रॉफ,अमायरा दस्तूर (Amyra Dastur), चंकी पांडे (Chunky Pandey), मनीषा कोईराला (Manisha Koirala) ने भी अपने अपने किरदार के साथ पूरा इंसाफ करते हुए सभी का दिल जीत लिया है। अगर आप भी ये फिल्म देखने का प्लान बना रहे हैं तो पहले पढ़ें ये मूवी रिव्यू (Movie Review)

Exclusive Interview: हक की लड़ाई है ‘प्रस्थानम’

कहानी (Story)
संजय दत्त के प्रॉडक्शन हाउस के बैनर तले बनी ये फिल्म यूपी (UP) की एक कहानी है जो एमएलए बलदेव प्रताप सिंह (संजय दत्त) और उनके परिवार व दो भाइयों की लड़ाई के इर्द- गिर्द घूमती हुई नजर आएगी। फिल्म में बलदेव प्रताप सिंह के दो बेटे हैं जिसमें आयुष (अली फजल) जो उनके सौतेले बेटे का किरदार निभा रहे हैं। उन पर बलदेव को पूरा भरोसा होता है क्योंकि वो जो भी काम करता है सब सोच समझ कर करता है। वहीं जबकि विवान (सत्यजीत दुबे) के गर्म दिमाग के कारण बलदेव प्रताप सिंह हमेशा सगे बेटे से काफी परेशान रहते हैं। फिल्म के फस्ट हॉफ तक सब सही चल रहा था लेकिन कहानी में ट्विस्ट तब आता है जब बलदेव प्रताप सिंह आयुष को एक जगह का लीडर बना देते हैं। ये बात विवान को बिल्कुल भी पंसद नहीं आती है और वो आयुष को मारने का प्लान बनाते हुए उसके पास जाता है लेकिन क्या वो उसे मार पाता है या नहीं। इसका पता लगाने के लिए आपको थियेटर में फिल्म देखने जाना ही पड़ेगा।

फिल्म 'प्रस्थानम' के निर्माताओं ने इस वजह से किया अली फजल का चयन

एक्टिंग (Acting)
फिल्म में संजय दत्त की एक्टिंग की बात करें तो उन्होंने अपने बेटों की हरकतों से एक परेशान पिता के रोल के साथ ही एक लीडर के रूप में दिखाया गया है। जो अपनी सियासत को बचाने के लिए किसी भी हद तक जा सकता है। वहीं अली फजल की बात करें तो वो एक परफेक्ट बेटे के रूप में नजर आए सौतेला बेटा होने के बावजूद उन्हें राजनीतिक वारिस माना जाता है। वहीं सत्यजीत दूबे एक बिगड़ैल बेटे के किरदार को निभाया है। अपने किरदार के साथ इंसाफ करते हुए वो फिल्म में काफी हिंसक बने हैं। वहीं इन सभी को संभालने वाली बलदेव प्रताप की पत्नी मनीषा कोइराला ने पूरे परिवार को एक साथ रखने में कोई कसर नहीं छोड़ी। वहीं चंकी पांडे को फिल्म में विलेन का रोल दिया गया है। 

संजय दत्त और मान्यता दत्त ने एक दूसरे के बारे में किए बड़े खुलासे, देखें exclusive video

म्यूजिक (Music)
फिल्म का म्यूजिक कोई खास प्रभाव नहीं डालता है। फिल्म में कई जगह गाने डालकर इसे इम्प्रेसिव बनाने की कोशिश की गई है लेकिन सॉन्ग बेहद स्लो होने के कारण वो सीन में जान नहीं फूंक पाते। बैकग्राउंड स्कोर की बात करें तो वो ठीक-ठाक हैं।

डायरेक्शन (Direction)
फिल्म के डायरेक्शन की बात करें तो देव कट्टा ने प्रस्थानम में अली फजल के किरदार को सही ढंग से दिखाया गया है। लेकिन कहीं न कहीं डायलॉग्स काफी ज्यादा फिल्मी हो गए हैं, जो वास्तविक से नहीं लगते। कहानी के बीच में गाने को भी गलत जगह पर डाला गया है, जिससे फिल्म देख रहे दर्शकों का फ्लों टूट जाता है। ऐसा कह सकते हैं दमदार कहानी के बावजूद कहीं न कहीं फिल्म का डायरेक्शन थोड़ा फीका रहा। 

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।

comments

.
.
.
.
.