Wednesday, Apr 08, 2020
pray in gurudwaras to escape coronavirus

कोरोना से निजात पाने के लिए गुरुद्वारों में करें अरदास- जत्थेदार

  • Updated on 3/5/2020

नई दिल्ली/ टीम डिजिटल। चीन (China) से दुनियाभर में फैला कोरोना वायरस (Coronavirus) अब भारत में भी अपने पैर पसारने लगा है। भारत में अब तक कोरोना वायरस के 31 मामले सामने आ चुके हैं। ऐसे में पंजाब (Punjab) के अमृतसर (Amritsar) में  श्री अकाल तख्त (Akal Takht) के जत्थेदार ज्ञानी हरप्रीत सिंह (Giani Harpreet Singh) ने इस घातक संक्रमण से निजात पाने के लिए दवाओं के साथ दुआ की भी जरूरत बताई।

Coronavirus: संसद में भी दिखा कोरोना का खौफ, AAP सांसद ने उठाई ये मांग

विश्व के सभी गुरुद्वारों में अरदास करने की जरूरत- सिंह
सिंह ने कहा कि दुनिया में फैले संक्रमण के प्रकोप से खुद को बचाने के लिए विश्व के सभी गुरुद्वारों में प्रार्थना करने की जरूरत है। उन्होंने जत्थेबंदियों की बैठक में कहा कि सिखों को इस संक्रमण से बचाव के लिए विश्व के सभी गुरुद्वारों में अरदास करनी चाहिए। उन्होंने कहा कि सभी की भलाई को ध्यान में रखते हुए जरूरी सावधानियां बरतने की जरूरत है। निहंग ने आगे कहा कि सिख हमेशा से अकाल तख्त साहब को समर्पित है और हमेशा सेवा में रहेंगे। 

कोरोना वायरस के खतरे को देख DMRC ने यात्रियों की सुरक्षा के लिए उठाए ये कदम

अधिकांश इलाकों हुई बारिश का वायरस पर कोई खास असर नहीं 
ऐसे में दिल्ली एनसीआर सहित उत्तर भारत के अधिकांश इलाकों में गुरुवार को हुई बारिश के कारण तापमान में गिरावट के बीच भारतीय चिकित्सा अनुसंधान परिषद के प्रमुख डा बलराम भार्गव ने कहा है कि मौसम के बदले मिजाज का इस वायरस की सक्रियता पर कोई खास असर नहीं होगा।

कोरोना वायरस से बचने के लिए इन 5 चीजों से करें परहेज

वायरस का प्रसार हवा के माध्यम से नहीं होता
उल्लेखनीय है कि दिल्ली सहित देश के अन्य इलाकों में कोरोना वायरस के संक्रमण के अब तक 31 मामलों की पुष्टि हो चुकी है। भार्गव ने पीटीआई भाषा को बताया कि तापमान में गिरावट का कोरोना वायरस के संक्रमण की गति बढऩे से कोई संबंध नहीं है। उन्होंने तापमान में गिरावट से इस वायरस का संक्रमण तेजी से होने की आशंकाओं को नकारते हुये कहा कि अब तक के अध्ययनों में इस तरह की कोई बात सामने नहीं आई है। उन्होंने कहा कि वैसे भी इस वायरस का प्रसार हवा के माध्यम से नहीं होता है। इसके संक्रमण का खतरा जीव जनित होता है। इसमें मरीजों अथवा संक्रमित जीवों के संपर्क में आने से इसके संक्रमण का खतरा अधिक होता है।

Coronavirus: RML अस्पताल में बड़ी खामियां! संभावित संक्रमित लोग लगे रहे कतार में

सर्दी, जुकाम और बुखार जैसी व्याधियों से बचें-डा भार्गव
डा भार्गव ने ठंडक बढने से लोगों को सर्दी, जुकाम और बुखार जैसी व्याधियों से बचने की सलाह देने के साथ ही वे सभी एहतियाती उपाय अपनाने का परामर्श दिया है जिनके कारण शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता बरकरार रहती है। गौरतलब है कि बुधवार को हिमालय क्षेत्र में पश्चिमी विक्षोभ सक्रिय होने के कारण गुरुवार को पंजाब, हरियाणा और दिल्ली एनसीआर सहित उत्तर एवं उत्तर पश्चिमी इलाकों में तेज बारिश होने के कारण अधिकतम और न्यूनतम तापमान में तीन से चार डिग्री सेल्सियस की गिरावट दर्ज की गयी है। मौसम विभाग के अनुसार दिल्ली एनसीआर क्षेत्र में गुरुवार देर शाम 30 से 40 किमी प्रतिघंटे की गति से तेज हवायें चलने से दिन के औसत तापमान में तेजी से गिरावट दर्ज की गयी है। 

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.