Monday, Jul 13, 2020

Live Updates: Unlock 2- Day 13

Last Updated: Mon Jul 13 2020 03:33 PM

corona virus

Total Cases

879,888

Recovered

554,888

Deaths

23,200

  • INDIA7,843,243
  • MAHARASTRA254,427
  • TAMIL NADU134,226
  • NEW DELHI112,494
  • GUJARAT41,906
  • UTTAR PRADESH36,476
  • KARNATAKA36,216
  • TELANGANA33,402
  • WEST BENGAL28,453
  • ANDHRA PRADESH27,235
  • RAJASTHAN24,487
  • HARYANA21,482
  • MADHYA PRADESH17,201
  • ASSAM16,072
  • BIHAR15,039
  • ODISHA13,737
  • JAMMU & KASHMIR10,156
  • PUNJAB7,587
  • KERALA7,439
  • CHHATTISGARH3,897
  • JHARKHAND3,774
  • UTTARAKHAND3,417
  • GOA2,368
  • TRIPURA1,962
  • MANIPUR1,593
  • PUDUCHERRY1,418
  • HIMACHAL PRADESH1,182
  • LADAKH1,077
  • NAGALAND771
  • CHANDIGARH549
  • DADRA AND NAGAR HAVELI482
  • ARUNACHAL PRADESH341
  • MEGHALAYA262
  • MIZORAM228
  • DAMAN AND DIU207
  • ANDAMAN AND NICOBAR ISLANDS163
  • SIKKIM160
Central Helpline Number for CoronaVirus:+91-11-23978046 | Helpline Email Id: ncov2019 @gov.in, ncov219 @gmail.com
private sector companies are estimated to create seven lakh jobs during new year 2020

#NewYear2020 में प्राइवेट सेक्टर में बंपर नौकरियों की आ सकती है बहार

  • Updated on 1/2/2020

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। निजी क्षेत्र की कंपनियों में नए साल (2020) के दौरान सात लाख नौकरियां पैदा होने का अनुमान है। निजी क्षेत्र की कंपनियों के वेतन में भी इस दौरान करीब आठ प्रतिशत वृद्धि की उम्मीद है। एक सर्वेक्षण में यह बात कही गई है।  मायहायरिंगक्लब डॉट कॉम और सरकारी - नौकरी डॉट इंफो के रोजगार रुझान सर्वेक्षण (एमएसईटीएस) 2020 में संकेत दिया गया है कि अधिकांश नियोक्ता भर्ती योजनाओं को लेकर आशावादी हैं। 

इलाहाबाद विश्वविद्यालय के कुलपति ने दिया भ्रष्टाचार के आरोपों को लेकर इस्तीफा

रोजगार संबंधी परामर्श देने वाली फर्म के सीईओ राजेश कुमार ने कहा, 'नए कैलेंडर वर्ष 2020 में करीब सात लाख नौकरियां सृजित होने की उम्मीद है। स्टार्टअप कंपनियां रोजगार सृजन में सबसे आगे बढ़कर योगदान देंगी। स्टार्ट अप कंपनियों के हर क्षेत्र में सबसे ज्यादा नौकरियां सृजित हो ने का अनुमान है।'

सुशील मोदी और प्रशांत किशोर में तकरार के बीच नीतीश कुमार ने दी सफाई

इस सर्वेक्षण में 42 प्रमुख शहरों के 12 उद्योग क्षेत्रों की 4,278 कंपनियों को शामिल किया गया। रोजगार सृजन वाले शीर्ष स्थानों में बेंगलुरू , मुंबई , दिल्ली - एनसीआर , चेन्नई , कोलकाता , हैदराबाद , अहमदाबाद और पुणे शामिल हैं।  ये कुल 5,14,900 नौकरियां सृजित करेंगी। बाकी रोजगार दूसरी और तीसरी श्रेणी के शहरों में सृजित होंगे। 

AMU खुलने से पहले छात्रों की सुरक्षा को लेकर VC ने की योगी सरकार से अपील

सर्वेक्षण में कहा गया है कि साल 2020 में सबसे ज्यादा रोजगार खुदरा एवं ई - कॉमर्स क्षेत्र (1,12,000) में सृजित होने की उम्मीद है।  इसके बाद सूचना प्रौद्योगिकी एवं आईटी आधारित सेवाओं में (1,05,500), स्वास्थ्यसेवा क्षेत्र में (98,300), एफएमसीजी (87,500), विनिर्माण (68,900) और बैंकिंग, वित्तीय सेवा एवं बीमा क्षेत्र में (59,700) रोजगार पैदा होने का अनुमान है। 

सेना के राजनीतिकरण के आरोपों पर CDS जनरल रावत ने दी पहली प्रतिक्रिया

इसी सर्वेक्षण के तहत समाप्त वर्ष 2019 की यदि बात की जाये तो वर्ष के दौरान 6.2 लाख रोजगार पैदा होने के अनुमान के मुकाबले 5.9 लाख रोजगार पैदा हुये।  नये केलेंडर वर्ष 2020 में भी देश के दक्षिणी हिस्से के सबसे आगे रहने का अनुमान व्यक्त किया गया है। देश के दक्षिणी हिस्से में 2,15,400 रोजगारों का सृजन होगा वहीं उत्तरी क्षेत्र में 1,95,700, पश्चिमी क्षेत्र में 1,65,700 और पूर्वी क्षेत्र में 1,25,800 रोजगार पैदा होने का अनुमान है।

#NewYear2020 की शुरुआत में महंगाई की मार, रसोई गैस सिलेंडर हुआ महंगा

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.