Monday, Aug 02, 2021
-->
Priyanka Gandhi attacked Yogi BJP government for increasing crime in UP Vikas Dubey rkdsnt

यूपी में बढ़ते अपराध को लेकर प्रियंका का योगी सरकार पर फिर हमला

  • Updated on 7/7/2020

नई दिल्ली/ब्यूरो। कांग्रेस महासचिव और उत्तर प्रदेश प्रभारी प्रियंका गांधी ने एक बार फिर योगी सरकार पर हमला किया है। उत्तर प्रदेश में बढ़ते अपराध को लेकर प्रियंका ने सवाल उठाया है। कानपुर एनकाउंटर में आठ पुलिस वालों की मौत और अपराधी विकास दूबे का अब तक न पकड़े जाने पर उत्तर प्रदेश की योगी सरकार और यूपी पुलिस की कार्यप्रणाली पर तमाम सवाल खड़े कर रहे हैं। कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने ट्वीट कर राज्य में कानून-व्यवस्था को लेकर सवाल उठाया है। 

चीनी सैनिकों की वापसी के बावजूद भारत जारी रखेगा उच्च स्तर की सतर्कता

कांग्रेस ने पीएम केयर्स फंड, वेंटीलेटर खरीद में गड़बड़झाले का लगाया आरोप

कहा, अपराध रोकने में यूपी सरकार पूरी तरह विफल

उन्होंने आरोप लगाया कि राज्य की योगी सरकार अपराध पर नियंत्रण करने में असफल साबित हुई है। उन्होंने कहा कि पिछले तीन साल में उत्तर प्रदेश अपराध में सबसे ऊपर है। औसतन 12 हत्याएं हर रोज प्रदेश में हो रही हैं। 2016-2018 में राज्य में बच्चों के खिलाफ 24 फीसद अपराध रहा। एक अन्य ट्वीट में उन्होंने पुलिस अधिकारी देवेंद्र मिश्रा द्वारा एसएसपी को लिखे गए पत्र का जिक्र किया, जो सरकारी रिकॉर्ड से गायब बताया जा रहा है। 

लॉकडाउन में रद्द उड़ानों के टिकटों की रकम वापसी मामले में मोदी सरकार को नोटिस

जीरो टालरेंस की नीति विकास दूबे से हुई उजागर
उन्होंने कहा कि यह राज्य के गृह विभाग की कार्यप्रणाली की पोल खोलता है।  प्रियंका ने कहा कि पुलिस वालों के हत्यारे गैंगस्टर की विभाग के भीतर लोगों से संबंध भी अब उजागर हो रहे हैं। सरकार की अपराध के खिलाफ जीरो टालरेंस की नीति विकास दूबे जैसे अपराधियों के खुले घूमते रहने से उजागर हो गई। मालूम हो कि विकास दूबे को पकड़ने के लिए यूपी पुलिस ने अब तक का सबसे बड़ा अभियान छेड़ रखा है। 

देवकमल विशेषांक प्रकरण : भाजपा की फजीहत कराने के बाद पर्दा डालने का खेल

राहुल गांधी ने लगाया मोदी सरकार पर आर्थिक कुप्रबंधन का आरोप

पुलिस ने दूबे के सिर पर ढाई करोड़ रुपये का इनाम घोषित किया है। मंगलवार को उत्तराखंड पुलिस को भी अलर्ट पर कर दिया गया है, इस संभावना पर कि विकास दूबे यूपी से भाग कर उत्तराखंड में छिप सकता है। यूपी पुलिस ने विकास दूबे को गिरफ्तार करने के लिए 40 टीमों का गठन किया है, जिसमें छह टीमें यूपीएसटीएफ की भी हैं। चार दिन बीत जाने के बाद भी पुलिस को अब तक विकास दूबे का कोई सुराग नहीं मिला है।

कुतुब मीनार सहित भारतीय पुरातत्व संरक्षित इमारतें पर्यटकों के लिए खुलीं

 

 

 

 

यहां पढ़ें कोरोना से जुड़ी महत्वपूर्ण खबरें...

comments

.
.
.
.
.