Monday, Dec 05, 2022
-->
priyanka gandhi congress jibe up yogi bjp govt for buses for migrant workers laborers rkdsnt

मजदूरों के लिए बसों को लेकर प्रियंका गांधी ने फिर साधा योगी सरकार पर निशाना

  • Updated on 5/20/2020

नई दिल्ली/ टीम डिजिटल। प्रवासी मजदूरों के लिए बसों को लेकर कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने फिर से यूपी की योगी सरकार पर निशाना साधा है। उन्होंने कहा है कि राजनीति से ऊपर उठकर बसों को चलने दिया जाए। उन्होंने कहा कि हमारी बसें चार बजे तक खड़ी हैं, योगी सरकार इसका इस्तेमाल कर सकती हैं। प्रियंका ने कहा कि भाजपा चाहे तो इन बसों पर अपने झंडे और पोस्टर लगाकर इस्तेमाल कर सकता है, लेकिन इन बसों का मजदूरों के हितों में इस्तेमाल जरूर करें। 

कन्हैया का भाजपा सरकार पर तंज, बोले- इनको इंसानों से ज्यादा 'कागज' की परवाह

यूपी में कांग्रेस प्रभारी प्रियंका ने कहा कि काफी समय से प्रवासी भाई-बहन विषम परिस्थितियों में, कड़ी धूप में, बगैर खाए पैदल अपने गाँव की ओर चल रहे हैं। ये लोग देशभर से आ रहे हैं। कई बहनें गर्भवती होने के बावजूद पैदल चल रही हैं। कई लोग बच्चों को गोद में लेकर जा रहे हैं।

उन्होंने आगे कहा कि ऐसे समय में हम सबको अपनी जिम्मेदारी समझनी पड़ेगी। ये भारत के वो लोग हैं, जो इस देश की रीढ़ हैं। जिनके खून-पसीने से ये देश चलता है।  इनके प्रति हम सबकी जिम्मेदारी है। सेवा भाव से ही यूपी कांग्रेस ने लॉकडाउन के अगले दिन हर जिले में "कांग्रेस के सिपाही" नाम से वॉलंटियर ग्रुप बनाए। हमने हर जिले में हेल्पलाइन नम्बर जारी किए।

मजदूरों को बिना देर, बिना शर्त और बिना खर्च घर पहुंचाए सरकार : योगेंद्र यादव

 इसके अलावा हमने "सांझी रसोइयां" खोली, हाइवे टास्क फोर्स बनाए। इन कार्यों के जरिए हमने 67 लाख लोगों की मदद की। इनमें से 60 लाख लोग यूपी में और 7 लाख बाहर फंसे हुए थे। हम सेंट्रल हेल्पलाइन के जरिए भी लगातार सामंजस्य स्थापित कर रहे हैं।
 

अजय कुमार लल्लू की गिरफ्तारी पर कांग्रेस बोली- जब नाश मनुज पर छाता है...
 

बता दें कि यूपी की योगी सरकार ने बसों को लेकर प्रियंका गांधी के प्रस्ताव को स्वीकार तो किया, लेकिन अभी तक बसों के इस्तेमाल को लेकर कोई आसार नजर नहीं आ रहे हैं। उल्टे कांग्रेस नेताओं के खिलाफ गलत जानकारी और विरोध-प्रदर्शन करने पर एफआईआर करा दी गई। इससे सियासत में और उबाल आ गया है। लेकिन, मजदूरों की बेबसी बढ़ती गई और बसों का कोई इस्तेमाल नहीं किया जा सका। इससे पहले यूपी के कांग्रेस नेता योगी सरकार पर अपने ट्वीट के जरिए निशाना साध चुके हैं।

बसों के मद्दे पर यूपी पुलिस ने प्रियंका गांधी के सचिव के खिलाफ दर्ज कराई FIR

कांग्रेस नेता आचार्य प्रमोद कृष्णन ने अपने ट्वीट में लिखा, 'डीज़ल तुम्हारा नहीं,ड्राइवर तुम्हारा नहीं,बसें तुम्हारी नहीं,अगर तुम्हारा कुछ था तो वो सिर्फ़ “काग़ज़” का एक टुकड़ा जिसे “परमीशन” कहते हैं,जो तुमने दिया नहीं, प्रियंका गांधी से “दुश्मनी” करो लेकिन मज़दूरों से मत करो,साधु को द्वेष शोभा नहीं देता। @UPGovt'

AAP सांसद संजय सिंह बोले- मजदूरों के लिए डंडा राज में बदला BJP राज

यूपी में कांग्रेस नेता इमरान प्रतापगढ़ी ने अपने ट्वीट में जहां मजदूरों की बेबसी का वीडियो शेयर किया है, वहीं लिखा हैं, 'कहॉं तो सरहदों के पार से लोग लाकर बसाये जाने थे कहॉं देश के ही लोगों के लिये सरहदें बना दी गईं ।'

अर्णब गोस्वामी को सुप्रीम कोर्ट ने दिया करारा झटका, उमर-प्रशांत ने जताई खुशी

इसी तरह कांग्रेस नेता पंखुड़ी पाठक ने अपने ट्वीट में लिखा, 'कांग्रेस पार्टी द्वारा लायी गयी यह बसें उत्तर प्रदेश की सीमाओं पर खड़ी हैं। वही सीमाएँ जिन पर लाखों प्रवासी अपने प्रदेश में आने के लिए बेसब्री से प्रतीक्षा कर रहे हैं। लेकिन खुद को योगी बताने वाले मुख्यमंत्री का घमंड तो देखो जो इन्हें अंदर आने की अनुमति नहीं दे रहे।'

कोरोना संक्रमण के मुद्दे पर सुधीर चौधरी और प्रशांत भूषण में छिड़ी जंग

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।

comments

.
.
.
.
.