Tuesday, Oct 26, 2021
-->
priyanka-gandhi-congress-targets-up-bjp-yogi-govt-over-farmers-problems-rkdsnt

प्रियंका ने किसानों की परेशानी को लेकर उप्र सरकार पर निशाना साधा

  • Updated on 9/22/2021
नई दिल्ली/टीम डिजिटल। कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाद्रा ने उत्तर प्रदेश में आलू की खरीद की कीमतों में कथित तौर पर गिरावट से किसानों के परेशान होने को लेकर बुधवार को राज्य की भाजपा सरकार पर निशाना साधा और आरोप लगाया कि विज्ञापनों में किसानों की आय दुगुनी करने का झूठ बोला जा रहा है। उन्होंने एक खबर का हवाला देते हुए ट्वीट किया, ‘‘अन्य किसानों की तरह उप्र के आलू किसान भी परेशान हैं। मेहनत से उगाया गया आलू उन्हें कौडिय़ों के भाव बेचना पड़ रहा है।’’ 

ब्रिटिश अधिकारियों ने कहा- कोविशील्ड नहीं, बल्कि टीका सर्टिफिकेट है मुद्दा

कांग्रेस की उत्तर प्रदेश प्रभारी ने दावा किया, ‘‘भाजपा सरकार मंचों पर व विज्ञापनों में किसानों की आय दुगनी करने जैसी झूठी बातें करती है, लेकिन आय दुगनी तो दूर; किसान फसल की लागत भी नहीं निकाल पा रहे हैं।’’ प्रियंका ने जिस खबर का हवाला दिया, उसमें कहा गया है कि आलू की उचित कीमत नहीं मिलने से किसान परेशान हैं। 

साधु सुरक्षित नहीं तो फिर योगी को सत्ता में रहने का अधिकार नहीं: कांग्रेस 
कांग्रेस ने अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद के अध्यक्ष महंत नरेंद्र गिरि की कथित आत्महत्या के मामले को लेकर बुधवार को उत्तर प्रदेश की भाजपा सरकार पर निशाना साधा और कहा कि अगर भगवा पहनने वाले साधु भी सुरक्षित नहीं हैं तो फिर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को सत्ता में बने रहने का कोई अधिकार नहीं है। पार्टी के मुख्य प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने सवाल किया कि भाजपा सरकार इस मामले पर ‘पर्दा डालने के लिए’ व्याकुल नजर क्यों आ रही है?     सुरजेवाला ने संवाददाताओं से कहा, ‘‘ जिस तरह से रहस्यमय परिस्थिति में महंत जी की मृत्यु हुई, इसमें से एक षडय़ंत्र की बू आती है। ये मैं नहीं कह रहा, वेदांती जी, जो भाजपा के भी सांसद रहे हैं, उन्होंने ये कहा कि ये आत्महत्या नहीं, हत्या है।’’  

लगातार वृद्धि के लिए स्वास्थ्य, बुनियादी ढांचा क्षेत्र में ज्यादा निवेश की जरूरत: RBI

उन्होंने सवाल किया, ‘‘क्या उत्तर प्रदेश के सारे संत और महंत साधु अपने आप को असुरक्षित नहीं महसूस कर रहे हैं? क्या ये हत्या है या आत्महत्या, इस षडय़ंत्र की जांच नहीं होनी चाहिए? क्या मुख्यमंत्री आदित्यनाथ जी बताएंगे कि महंत जी ने आदित्यनाथ सरकार से और अखाड़ा परिषद की ओर से कोई पत्राचार किया था?’’ कांग्रेस महासचिव ने यह पूछा, ‘‘क्या किसी ने महंत जी की गाड़ी को टक्कर मारकर उन्हें शारीरिक तौर से नुकसान पहुंचाने का प्रयास किया था? क्या ये सारे तथ्य एक आदरणीय महंत और संत की मृत्यु को संदेह के घेरे में नहीं ला देते? भाजपा की सरकार इस पूरे मामले पर पर्दा डालने के लिए व्याकुल क्यों है?’’ 

कैलाशानंद महाराज राजेंद्र गुप्ता का दावा- सुसाइड नोट में नरेंद्र गिरि की लिखावट नहीं

उन्होंने कहा, ‘‘मुख्यमंत्री आदित्यनाथ और भाजपा अध्यक्ष जेपी नड्डा, प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और गृह मंत्री अमित शाह जी को इन सवालों के जवाब देने चाहिए। अगर भगवा पहनने वाले साधु सुरक्षित नहीं, तो फिर आदित्यनाथ जी को सत्ता में बने रहने का अधिकार नहीं।’’ बिहार के उप मुख्यमंत्री तारकिशोर प्रसाद के करीबी रिश्तेदारों को करोड़ों रुपये का ठेका दिये जाने के आरोपों पर सुरजेवाला ने कहा कि प्रसाद को अपने पद पर बने रहने का कोई नैतिक अधिकार नहीं है। उन्होंने कहा कि इस मामले पर प्रधानमंत्री मोदी, बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार और भाजपा के शीर्ष नेतृत्व को चुप्पी तोडऩी चाहिए।
 

हेरोइन जब्ती के मुद्दे पर राहुल का मोदी सरकार पर हमला

 कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने गुजरात के मुंद्रा बंदरगाह पर करीब 3000 किलोग्राम हेरोइन बरामद किये जाने को लेकर बुधवार को केंद्र सरकार पर निशाना साधा और सवाल किया कि क्या इस जहर से सैकड़ों परिवारों के बर्बाद होने के लिए केंद्र सरकार जिम्मेदार नहीं है? उन्होंने ट्वीट किया, ‘‘देश को घुन लगा है और केंद्र सरकार मित्रों की गोद में सो रही है। क्या इस काहर से सैकड़ों परिवारों के बर्बाद होने के लिए केंद्र सरकार जिम्मेदार नहीं है? 

सुप्रीम कोर्ट ने खारिज की श्री पद्मनाभस्वामी मंदिर ट्रस्ट को ऑडिट से छूट देने की याचिका 

कांग्रेस नेता ने सरकार पर उस वक्त निशाना साधा है, जब अधिकारियों ने मंगलवार को बताया था कि राजस्व खुफिया निदेशालय (डीआरआई) ने गुजरात के कच्छ जिले में मुंद्रा बंदरगाह से 2,988.21 किलोग्राम हेरोइन जब्त की है, जिसकी कीमत 15000 करोड़ रुपये है। इस बंदरगाह के परिचालन का स्वामित्व अडाणी समूह के पास है। 

राष्ट्रीय इंडियन मिलिट्री कॉलेज में लड़कियों को दाखिला : सुप्रीम कोर्ट का मोदी सरकार को निर्देश

अडाणी समूह के एक प्रवक्ता ने इस घटनाक्रम पर मंगलवार को कहा था कि बदंरगाहों के परिचालन में परिचालक कंपनियों की भूमिका सीमित होती है तथा कंटेनरों की छानबीन एवं जब्ती का काम सरकारी एजेंसियां ही करती हैं, ऐसे में यह समूह आशा करता है कि सोशल मीडिया पर चलाये जा रहे ‘दुष्प्रचार’ पर विराम लगेगा। 

अमरिंदर सिंह ने अपनाए बगावती तेवर, राहुल, प्रियंका और सिद्धू के खिलाफ खोला मोर्चा

 इस मामले पर सरकार की तरफ से फिलहाल कोई प्रतिक्रिया नहीं आई है। राहुल गांधी ने एक अन्य ट्वीट में दावा किया, ‘‘ मोदी सरकार सिर्फ मित्रों के साथ है। लेकिन देश अधिकार और आत्मसम्मान के लिए सत्याग्रह कर रहे किसान-मजदूर-विद्यार्थी के साथ है। और मैं हमेशा देश के साथ हूं और रहूंगा।’’

 अडानी स्वामित्व वाले मुंद्रा पोर्ट से 3000 किलोग्राम हेरोइन बरामद, कांग्रेस ने उठाए सवाल

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.