Wednesday, Aug 04, 2021
-->
Protest In Srinagar Against New Land Laws Mehbooba Mufti Attacks On Centre Govt prsgnt

'चीन से थरथराते हैं और कश्मीर में लूटने का कानून', PDP का दफ्तर सील होने पर भड़कीं महबूबा मुफ्ती

  • Updated on 10/29/2020

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। जम्मू-कश्मीर (jammu Kashmir) में जमीन की खरीद फरोक्त करने के लिए केंद्र सरकार ने कानून में बदलाव कर नए नियमों को लागू कर दिया है। जिसके बाद जम्मू-कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती (Mahbooba Mufti) ने जबरदस्त विरोध प्रदर्शन किया है। 

प्रदर्शन में शामिल हुईं महबूबा मुफ़्ती समेत कई कार्यकर्ताओं को हिरासत में ले लिया गया। जिसके बाद पूर्व सीएम महबूबा मुफ्ती भड़क गईं और केंद्र सरकार के खिलाफ अपना गुस्सा जताने लगीं। 

हिरासत में लेने के बाद पूर्व मुख्यमंत्री ने कड़ी प्रतिक्रिया देते हुए सरकार के कार्यों पर सवाल खड़ किए हैं। उन्होंने ट्वीट करके कहा है कि श्री नगर में पीडीपी के ऑफिस को जम्मू-कश्मीर प्रशासन द्वारा सील कर दिया गया है। कार्यकर्ताओं को गिरफ्तार कर लिया गया है। जबकि वह शांतिपूर्ण प्रदर्शन कर रहे थे। अब दर्जनों कार्यकर्ताओं और नेताओं को गिरफ्तार कर लिया गया है।

महबूबा मुफ़्ती ने आरोप लगाया, 'ये लोग (बीजेपी) जम्मू-कश्मीर के संसाधन लूट के ले जाना चाहते हैं। बीजेपी ने गरीब को दो वक्त की रोटी नहीं दी, वो जम्मू-कश्मीर में ज़मीन क्या खरीदेगा? दिल्ली से रोज एक फ़रमान जारी होता है, अगर आपके पास इतनी ताकत है तो चीन को निकालो जिसने लद्दाख की ज़मीन खाई है, चीन का नाम लेने से थरथराते हैं।'

महबूबा ने कहा, 'J&K की ज़मीन को लूटने का जो कानून बीजेपी ने पास किया है उसके खिलाफ आज पीडीपी के लोग प्रदर्शन करने जा रहे थे, उनको गिरफ्तार किया, रात को घर से उठाया गया। मैंने थाने में उनसे मिलने की कोशिश की तो मुझे रोक दिया गया, जम्मू-कश्मीर को एक जेल में तब्दील किया गया है।'

मुफ़्ती ने एक वीडियो शेयर करते हुए लिखा, 'जम्मू-कश्मीर पुलिस ने पीडीपी के पारा वाहिद, खुर्शीद आलम, राउफ भट्ट, मोहसिन कय्यूम, ताहिर सईद, यासीन भट्ट और हामिद कोहसिन को गिरफ्तार किया है। ये लोग भूमि कानून का विरोध कर रहे थे, जो राज्य की जनता पर लाद दिया गया है। हमलोग एकजुट होकर अपनी आवाज उठाते रहेंगे और जनसांख्यिकी बदलने की केंद्र सरकार की कोशिश को बर्दाश्त नहीं करेंगे।'

श्रीनगर: जमीन कानून के विरोध के बाद हिरासत में ली गई महबूबा, बोलीं- यहीं है सामान्य हालात ?

बता दें, जम्मू-कश्मीर की पूर्व मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती बिहार चुनाव में धारा 370 को लेकर पीएम नरेंद्र मोदी के दिये बयान से बेहद खफा नजर आई। महबूबा नाराज इस कदर हुई कि उन्होंने घोषणा कर डाली कि जब तक जम्मू-कश्मीर में धारा 370 फिर से बहाल नहीं की जाती है,तब तक वो चुनाव नहीं लड़ेगी। इससे कश्मीर में खलबली मच गई है। उन्होंने भारतीय झंडे को भी खारिज कर दिया है।

comments

.
.
.
.
.