Monday, Jun 27, 2022
-->
punjab constitutes task force to increase the income of sugarcane farmers  cheema rkdsnt

पंजाब ने गन्ना किसानों की आय बढ़ाने के लिए टास्क फोर्स का गठन

  • Updated on 4/4/2022

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। पंजाब के सहकारिता मंत्री हरपाल सिंह चीमा ने सोमवार को एक कार्यबल (टास्क फोर्स) के गठन की घोषणा की, जो गन्ना किसानों की आय बढ़ाने के लिए एक व्यापक योजना तैयार करेगी। चीमा के पास वित्त विभाग भी है। उन्होंने कहा कि लुधियाना स्थित पंजाब कृषि विश्वविद्यालय, भारतीय कृषि अनुसंधान परिषद (आईसीएआर), कोयंबटूर स्थित गन्ना प्रजनन संस्थान, पंजाब शुगरफेड के प्रतिनिधि और अन्य विशेषज्ञ इस कार्यबल में शामिल होंगे।  

चंडीगढ़ को लेकर नवजोत सिंह सिद्धू ने खोला मोदी सरकार के खिलाफ मोर्चा

  यह समिति, गन्ने की प्रति एकड़ उपज बढ़ाने के तरीकों की तलाश करेगा, उन्होंने कहा कि कार्यबल तीन महीने में एक मसौदा तैयार करेगा।     एक सरकारी बयान के अनुसार चीमा ने कहा कि अगले दो वर्षों में गन्ने की पैदावार कम से कम 100 किंवटल प्रति एकड़ बढ़ाने का लक्ष्य रखा गया है, और इससे किसानों की आय 36,000 रुपये प्रति एकड़ तक बढ़ जाएगी।    

तोड़फोड़ करने के आरोप में संगीत सोम सेना के प्रमुख सहित 10 लोगों के खिलाफ मामला दर्ज

चीमा ने कहा कि गन्ना किसानों को बेहतर किस्मों के बीज उपलब्ध कराने के अलावा सरकार गन्ने की खेती में मशीनीकरण और आधुनिक तकनीकों का प्रशिक्षण भी देगी।     सहकारी चीनी मिलों को आत्मनिर्भर बनाने के लिए उनके आधुनिकीकरण की योजना का भी सरकार मसौदा तैयार करेगी।  

टेस्ला के CEO एलन मस्क ने खरीदी Twitter की 9.2 फीसदी हिस्सेदारी

  बयान में कहा गया है कि सहकारिता मंत्री ने अधिकारियों को पीएयू लुधियाना, भारतीय कृषि अनुसंधान परिषद, गन्ना प्रजनन संस्थान, कोयंबटूर और वसंतदादा इंस्टीट्यूट के परामर्श से एक प्रशिक्षण कार्यक्रम तैयार करने और आने वाले बुवाई के मौसम के लिए गन्ने की उच्च उपज देने वाली किस्मों के कम से कम 30 लाख पौधे तैयार रखने का निर्देश दिया है।  

किरण मजूमदार-शॉ ने BJP की कर्नाटक सरकार पर लगाया साम्प्रदायिक प्रतिरोध का आरोप

comments

.
.
.
.
.