Wednesday, Sep 18, 2019
punjab  fire gurdaspur fire pathaka factory navodayatimes

पंजाब के गुरदासपुर की पटाखा फैक्ट्री में धमाका, 23 लोगों की मौत, पीएम ने जताया दुख

  • Updated on 9/5/2019

नई दिल्ली/ टीम डिजिटल। पंजाब (Punjab) के गुरदासपुर (Gurdaspur) के बटाला (Batala) में एक पटाखा फैक्ट्री (Fire-Crackers Factory) में भीषण आग लग गई है, जिसमें 23 लोगों की मौत हो गई है। इसके अलावा इस हादसे में 20 लोग गंभीर रूप से घायल है। घटना की सूचना मिलते ही मौके पर दमकल की 10 गाड़ियां पहुंच गई थी। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) ने फैक्ट्री हादसे पर दुख जताया है और कहा कि मेरी संवेदनाएं मृतकों के परिजनों के साथ है।

शिक्षक दिवस के अवसर पर 'कवि राज' ने इस अंदाज में दिया सम्मान 

धमाका इतनी तेज था कि आस-पास के लोग भी इस धमाके से प्रभावित हुए हैं। बता दें कि मौके पर दमकल के कर्मी के साथ पुलिस के जवान भी पंहुच गए हैं और घायलों को अस्पताल पहंचाने में एक-दूसरे की मदद कर रहे हैं। बताया जा रहा है कि इस धमाके में अभी तक लाखों रुपए का नुकसान हो चुका है। इसके अलावा अभी यह भी नहीं पता कि यह फैक्ट्री वैध थी या अवैध। इस दर्दनाक घटना पर पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह (CM Amarinder Singh) ने मजिस्ट्रेट जांच के आदेश दिए हैं।

फिलहाल मलबे में अनेक लोगों के फंसे होने की आशंका है और राहत अभियान जारी है। वहीं राहत अभियान में राष्ट्रीय आपदा मोचन बल और राज्य आपदा मोचन बल की टीम लगाई गई है। जिला प्रशासन और पुलिस के वरिष्ठ अधिकारी मौके पर मौजूद हैं। जालंधर रोड स्थित हंसली पुल के निकट दुकानों में बनाई गई पटाखा फैक्ट्री में अचानक शाम को धमाका हो गया।

भारत और रूस किसी भी देश के आंतरिक मामलों में बाहरी दखल के खिलाफ हैं: PM मोदी

पुलिस ने देर शाम इस भीषण हादसे में 23 लोगों की मौत होने की पुष्टि की है तथा 4 गंभीर रूप से घायल हो गए, उन्हें अमृतसर मैडीकल कालेज अस्पताल भेजा गया है तथा 16 घायलों का इलाज नजदीकी अस्पताल में चल रहा है। चिंगारी से अचानक कुछ पटाखों में विस्फोट हुआ और तेजी से उसने पूरी फैक्ट्री में रखे विस्फोटक को अपनी चपेट में ले लिया जिससे भीषण विस्फोट से फैक्ट्री की इमारत पूरी तरह गिर गई तथा आसपास के घरों को क्षतिग्रस्त कर दिया।

बताया जाता है कि फैक्ट्री के आसपास की 2 इमारतें भी क्षतिग्रस्त हो गईं। पटाखा फैक्ट्री में हादसे के समय कम से कम 50 लोग काम कर रहे थे। इनमें से कुछ के मलबे में दबे होने की आशंका है। बताया जाता है कि 5 सितम्बर को गुरु नानक देव जी का विवाह पर्व है जिसे बड़ी धूमधाम से मनाया जाना है। गुरु नानक देव जी का विवाह बटाला में हुआ था। इस पर्व को मनाने की तैयारियों में शहर जुटा हुआ था तथा इन पटाखों का इस्तेमाल गुरु नानक देव जी के विवाह पर्व पर होना था। सुल्तानपुर लोधी से बारात कल बटाला पहुंचेगी।

INX मीडिया केस: चिदंबरम के भविष्य पर फैसला आज, मिलेगी राहत या होगी जेल

जिक्रयोग्य है कि 2 वर्ष पहले भी बटाला स्थित रिहायशी क्षेत्र में चल रही इस पटाखा फैक्ट्री में जबरदस्त धमाका हुआ था और उस समय भी जानी व माली नुक्सान हुआ था परंतु उससे प्रशासन ने सीख न लेते हुए पटाखे बनाने वाली फैक्ट्री को शहर से बाहर नहीं निकाला और अब दूसरी बार धमाका होने से भारी जानी व माली नुकसान हुआ है। विस्फोट होने की घटना में पुलिस ने अब तक 19 लोगों के मारे जाने की पुष्टि की है जबकि अपुष्ट रिपोर्ट के मुताबिक फैक्ट्री के मलबे में कइयों के दबे होने के कारण मृतकों की संख्या बढऩे की आशंका है। इस हादसे की मैजिस्ट्रेटी जांच के आदेश दे दिए गए हैं।

चिन्मयानंद मामला: सुप्रीम कोर्ट ने कहा छात्रा व उसके भाई का बदला जाए कॉलेज

CM ने दिए जांच के आदेश
पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने गादसे पर दुख जताते हुए कहा, 'बटाला में पटाखा फैक्ट्री में विस्फोट में लोगों की मौत की खबर से बेहद दुखी हूं। जिला उपायुक्त और वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक राहत अभियान का नेतृत्व कर रहे हैं।' 

सनी देओल ने जताया दुख
गुरदासपुर से सांसद सनी देओल ने कहा, 'बटाला में फैक्ट्री में विस्फोट की खबर सुनकर दुख पहुंचा है। एन.डी.आर.एफ और जिला प्रशासन की टीम राहत अभियान के लिए पहुंच गई हैं।'

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।

comments

.
.
.
.
.