Sunday, Sep 20, 2020

Live Updates: Unlock 4- Day 19

Last Updated: Sat Sep 19 2020 09:05 PM

corona virus

Total Cases

5,341,281

Recovered

4,237,955

Deaths

85,915

  • INDIA7,843,243
  • MAHARASTRA1,145,840
  • ANDHRA PRADESH617,776
  • TAMIL NADU536,477
  • KARNATAKA494,356
  • UTTAR PRADESH348,517
  • ARUNACHAL PRADESH325,396
  • NEW DELHI242,899
  • WEST BENGAL215,580
  • BIHAR180,788
  • ODISHA175,550
  • TELANGANA169,169
  • ASSAM148,969
  • KERALA131,027
  • GUJARAT121,930
  • RAJASTHAN109,473
  • HARYANA103,773
  • MADHYA PRADESH97,906
  • PUNJAB90,032
  • CHANDIGARH70,777
  • JAMMU & KASHMIR62,533
  • JHARKHAND56,897
  • CHHATTISGARH52,932
  • UTTARAKHAND27,211
  • GOA26,783
  • TRIPURA21,504
  • PUDUCHERRY18,536
  • HIMACHAL PRADESH9,229
  • MANIPUR7,470
  • NAGALAND4,636
  • ANDAMAN AND NICOBAR ISLANDS3,426
  • MEGHALAYA3,296
  • LADAKH3,177
  • DADRA AND NAGAR HAVELI2,658
  • SIKKIM1,989
  • DAMAN AND DIU1,381
  • MIZORAM1,333
Central Helpline Number for CoronaVirus:+91-11-23978046 | Helpline Email Id: ncov2019 @gov.in, ncov219 @gmail.com
Punjab Haryana present plan for stubble disposal prevention from Pollution KMBSNT

इस साल पराली के प्रदूषण से बच सकेगी दिल्ली! पंजाब हरियाण ने पेश की ये योजना

  • Updated on 8/17/2020

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। दिवाली नजदीक आ रही है और राजधानी में प्रदूषण की समस्या फिर बढ़ने की आशंका है। हर साल पराली जलाने को लेकर हंगामा होता है। इसके लिए हमेशा पड़ोसी राज्य हरियाणा और पंजाब को जिम्मेदार ठहराया जाता है। यही वजह है कि पंजाब और हरियाणा की सरकारों ने पराली जलाने पर नियंत्रण के लिए अपनी कार्ययोजना पर्यावरण प्रदूषण (रोकथाम और नियंत्रण) प्राधिकरण (ईपीसीए) को सौंप दी है।

दिल्ली में प्रदूषण के लिए पराली जलाने से निकलने वाला धुआं भी बड़ा कारक होता है। राज्यों ने पराली के प्रबंधन के लिए अत्याधुनिक उपकरण खरीदने में असमर्थ किसानों को किराए पर कृषि मशीनें देने के लिए कस्टम हायरिंग सेंटर की स्थापना का प्रस्ताव दिया है। 

यूपी में AAP के दफ्तर पर लगा ताला, पार्टी ने साधा योगी सरकार पर निशाना

दिल्ली प्रदूषण में पराली के धुएं का 44 प्रतिशत योगदान
इन मशीनों में पराली को दबाकर गांठ में बदल दिया जाता है। केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड के मुताबिक पिछले साल नवंबर में दिल्ली में वायु प्रदूषण में पराली के धुएं का योगदान 44% था। पंजाब सरकार ने पर्यावरण प्रदूषण रोकथाम और नियंत्रण प्राधिकरण (ईपीसीए) को बताया कि वह जैव इंधन आधारित बिजली संयंत्रों में पराली का इस्तेमाल कर रही है और विभिन्न जैव ईंधन आधारित और  सीएनजी परियोजनाओं पर काम चल रहा है।

प्रशांत भूषण मामला : जजों, वकीलों ने बार और पीठ के बीच सौहार्दपूर्ण रिश्तों की वकालत की

सौर जैव इंधन परियोजना शुरू करने का प्रस्ताव
राज्य ने अब 25 मेगा वाट का सौर जैव इंधन परियोजना शुरू करने का प्रस्ताव दिया है। पंजाब 7378 सीएचसी की स्थापना कर चुका है। लक्ष्य को पूरा करने के लिए इस साल 5200 और सीएचसी स्थापित किए जाएंगे। प्रत्येक गांव में सीएचसी खोलने का लक्ष्य है। हरियाणा सरकार ने ईपीसीए को बताया है कि जैव सीएनजी और जैव इथेनॉल परियोजना और जैव इंधन संयंत्रों की प्रगति पर गौर करने के लिए एक कमेटी का गठन किया गया है। राज्य ने 2879 सीएचसी स्थापित किए हैं और इस साल अक्टूबर तक 2000 और केंद्र बनाए जाएंगे। 

यहां पढ़ें कोरोना से जुड़ी महत्वपूर्ण खबरें-

comments

.
.
.
.
.