Thursday, Apr 02, 2020
punjab kesari group chairman vijay kumar chopra helped hindu refugees

पाक से आए हिंदुओं को रिफ्यूजी न कहें हम जानते हैं इस शब्द का दर्द- विजय चोपड़ा

  • Updated on 2/23/2020

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। अत्याचार से त्रस्त होकर पाकिस्तान (Pakistan) से भारत आए हिन्दुओं को रिफ्यूजी (Refugees) नहीं कहना चाहिए। इस शब्द का दर्द हमने सहा है। भावुक होकर यह बातें पंजाब केसरी समाचार पत्र समूह  (Punjab Kesari Group) के चेयरमैन और प्रधान संपादक पद्मश्री विजय कुमार चोपड़ा (Vijay Kumar Chopra) ने कहीं। वह पंजाब केसरी समूह और ढींगरा परिवार की तरफ से रोहिणी सेक्टर-11 स्थित हिन्दू शरणार्थी शिविर में आयोजित राहत वितरण कार्यक्रम में मुख्य अतिथि के रूप में मौजूद थे। 

विजय चोपड़ा ने कहा कि बंटवारे के बाद उनका परिवार भी पाकिस्तान से आया था। तब उनको जिस तरह से रिफ्यूजी कहा जाता था, तकलीफ होती थी। उन्होंने कहा कि मुझे आजादी के वक्त की याद ताजा हो गई है। जब जत्थे के जत्थे पाकिस्तान से भारत आ रहे थे। जिसमें बुजुर्ग, महिलाएं बच्चे वाहनों में भर-भरकर आ रहे थे। जब भारत के बॉर्डर पर पहुंचे तो मिट्टी को माथे से लगाकर लगा कि हां, अब हम भारत आ गए हैं। जो लोग किसी कारण से रह गए थे, अगर वो अब वापस आ रहे हैं तो उनकी पूरी मदद होनी चाहिए। 

'पाकिस्तान के हालात अच्छे नहीं हैं'
उन्होंने कहा कि पाकिस्तान के हालात अच्छे नहीं हैं। हिन्दुओं के साथ, उनकी बहन-बेटियों के साथ अच्छा बर्ताव नहीं हो रहा है। यह चिंता का विषय है। उन्होंने शरणार्थियों से कहा कि हम लोग, सरकार, संस्थाएं आपकी मदद कर रही हैं, लेकिन आपको भी मेहनत करके आमदनी बढ़ानी होगी। पुरुष काम कर रहे हैं साथ ही महिलाओं को भी काम करना होगा। इसके साथ बच्चों को पढ़ाना बहुत जरूरी है।

CAA के समर्थन में उतरे शरणार्थी, कहा- हमें भारत में ही रहने दें राजनीतिक दल

वितरित हुई राहत सामग्री
रोहिणी सेक्टर-11 में बने पाकिस्तानी हिन्दू शरणार्थी शिविर में पंजाब केसरी समाचार पत्र समूह के चेयरमैन और प्रधान संपादक विजय कुमार चोपड़ा ने राहत सामग्री वितरित की। इसमें रसोई की वस्तुएं थीं। अनोख चंद्र ढींगरा की प्रेरणा से उनके पुत्र विजय ढींगरा और अशोक ढींगरा के सहयोग से विभिन्न शिविरों से आए 300 परिवारों के बीच राहत सामग्री वितरित की गई। समारोह में विजय और अशोक की पत्नियां भी उपस्थित रहीं। कार्यक्रम में राजेन्द्र शर्मा, लुधियाना के राकेश जैन, विपिन जैन, बटाला से विजय प्रभाकर के अतिरिक्त रविन्द्र कुमार शर्मा, संजीव शर्मा, विरेन्द्र असीजा, केदार शर्मा, भारत प्रेम, रोहिणी कैंप के प्रधान हनुमान बागड़ी आदि भी मुख्य रूप से उपस्थित रहे। कार्यक्रम का संचालन राहत वितरण कार्यक्रम के संयोजक विरेन्द्र शर्मा ने किया।

वादा करते हैं पूरी मदद करेंगे: विजेन्द्र गुप्ता
रोहिणी से बीजेपी विधायक विजेन्द्र गुप्ता ने शरणार्थियों से कहा कि आप जिन हालातों के बीच से भारत आए हैं। हम उसको समझ सकते हैं। आपने अपनी इज्जत और धर्म को खत्म नहीं होने दिया। हम आप सबका सम्मान करते हैं। आप कहते हैं कि मर जाएंगे, लेकिन कभी वापस पाकिस्तान नहीं जाएंगे। इस पर हम भी वादा करते हैं कि आपके लिए हमारी भाजपा सरकार आगे बढ़कर बहुत सारा सहयोग करेगी। नागरिकता ही नहीं, सभी को मकान भी मिलेगा। आपके लिए सरकार के पास कुछ योजनाएं भी हैं। यह देश आपका है और आपका ही रहेगा।

दिल्लीः PM मोदी ने इंटरनेशल ज्यूडिशियल कॉन्फ्रेंस का किया उद्घाटन

सही देश में पहुंचे हैं आप, यहां मौके बहुत हैं: आभा चोपड़ा
कार्यक्रम में मुख्य रूप से उपस्थित पंजाब केसरी समूह की डायरेक्टर आभा चोपड़ा ने शरणार्थियों से कहा कि आप लोग हिम्मत करके पाकिस्तान से यहां आए हैं, आपका तहेदिल से स्वागत है। जो पीड़ा आपने वहां पर सही है, हमने भी वही दर्द सहा था। आप सभी सही देश में पहुंचे हैं। आपके पास असीमित जगहें हैं जहां आप जा सकते हैं, अब कई मौके हैं। आप उन मौकों का अपने लिए, अपने परिवार के लिए किस तरह से लाभ ले सकते हैं, यह आप पर निर्भर करता है। श्रीमती चोपड़ा ने शरणार्थी बस्ती का दौरा भी किया। इस दौरान महिलाओं ने उनको हाथ की सिंधी कढ़ाई की चादरें, तकिए के खोल आदि भी दिखाए। जिसकी तारीफ करते हुए उन्होंने कहा कि हुनर को प्रोत्साहित करने के लिए वह काम करेंगी।

मकान दिलाने का प्रयास करेंगे: हंस
समारोह में उपस्थित उत्तर-पश्चिम दिल्ली संसदीय क्षेत्र के भाजपा सांसद पद्मश्री हंसराज हंस ने कहा कि जिस तरह से हॉस्टल में बच्चे रहते हैं और उनके माता-पिता उनसे मिलने आते हैं, उसी तरह श्री विजय कुमार चोपड़ा जी और उनके साथी यहां आए हैं। उनके सहयोग से सभी को संबल मिलता है। हंस ने शरणार्थियों से कहा कि आप लोग अब अपने देश में आ गए हैं। यहां खुली हवा में चैन की सांस ले सकते हैं, बिना किसी डर के कहीं भी जा सकते हो। उन्होंने वादा किया कि झुग्गी में रह रहे लोगों को मकान दिलाने के लिए भी वह पूरा प्रयास करेंगे। मैं आपके बीते डर और अब यहां की खुशी को आपके चेहरे पर साफतौर पर देख सकता हूं। उन्होंने कहा कि आप लोगों ने अपने सनातन धर्म की रक्षा की है। बहुत सहा है। आप भारत आए हैं, हम आपके लिए जो भी संभव होगा सब करेंगे।

प्रदूषण से लड़ने के लिए पुराना नहीं, रीयल टाइम डेटा जरूरी- गोपाल राय

आपका भविष्य उज्ज्वल हो: हारुन
कांग्रेस के वरिष्ठ नेता हारुन यूसुफ ने कहा कि आप सबके चेहरे पर खुशी देखकर अच्छा लगता है। हम आपके लिए कुछ कर सकें, यह हमारी किस्मत होगी। आपका और आपके बच्चों का भविष्य उज्ज्वल हो, यहीं कामना करता हूं। यहां आकर अब आपको अपने भविष्य की तरफ देखना है। भविष्य कैसा बनाना है और किस तरह का बनाना है। वो अब आपके ऊपर है। हमसे जो भी होगा, वह मदद जरूर करेंगे।

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.