punjab ministers get approval from central government for visit to kartarpur corridor

केंद्र सरकार से पाक यात्रा के लिए एक हफ्ते पहले ही पंजाब के मंत्रियों को मिली मंजूरी

  • Updated on 8/8/2019

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। जम्मू कश्मीर(Jammu and Kashmir) से विशेष दर्जा वापस लेने के विरोध में पाकिस्तान की तरफ से भारत के साथ संबंधों को कमतर किये जाने से कई दिन पहले केंद्र सरकार ने पंजाब(Punjab) के एक प्रतिनिधिमंडल को करतारपुर गलियारा परियोजना(Kartarpur corridor) के सिलसिले में पाकिस्तान जाने की मंजूरी दे दी थी । पंजाब के जेल मंत्री सुखजिंदर सिंह रंधावा ने गुरूवार को कहा कि केंद्र सरकार ने पिछले हफ्ते पंजाब के शिष्टमंडल को पाकिस्तान जाने की अनुमति दी थी । 

सैमसंग ने लॉन्च किया Samsung Book S लैपटॉप, कार्ड स्लाट से बढ़ा सकेंगे मेमोरी

उन्होंने बताया कि प्रस्तावित यात्रा 22 से 27 अगस्त तक होनी है और इसका मकसद गलियारे के कामकाज का जायजा लेना है। इस गलियारे के माध्यम से भारतीय श्रद्धालुओं को पाक के करतारपुर स्थित गुरूद्वारा दरबार साहिब जाने में मदद मिलेगी । मंत्री के अनुसार पंजाब के मंत्रियों और विधायकों का यह शिष्टमंडल पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान(Imran Khan) एवं पाकिस्तानी पंजाब के मुख्यमंत्री से मिलेगा । 

वाई-फाई के वादे को निभाकर भी ट्रोल हुए केजरीवाल, भाजपा ने गिनाई खामियां

संविधान के अनुच्छेद 370 के तहत जम्मू कश्मीर को मिला विशेष दर्जा वापस लिये जाने के बाद भारत और पाकिस्तान के बीच तनाव बढ़ गया है । केंद्र के कदम के बाद पाकिस्तान ने भारत के साथ अपने संबंधों को कमतर कर लिया है । यह पूछे जाने पर कि क्या वीजा मिल पाएगा क्योंकि दोनों देशों के बीच तनाव का दौर जारी है, रंधावा ने कहा कि यह पाकिस्तान सरकार पर निर्भर होगा । 

कश्मीर को लेकर अपने ही बुने जाल में फंस सकता है पाकिस्तान!

मंत्री ने उम्मीद जतायी कि भारत के साथ राजनयिक संबंधों को कमतर करने के पाकिस्तान के निर्णय का असर करतारपुर गलियारे पर नहीं होगा । रंधावा ने कहा, ‘‘यह धार्मिक मामला है, राजनीतिक मुद्दा नहीं ।’’ उन्होंने कहा, ‘‘गलियारे के निर्माण में आम लोग कोई रूकावट नहीं चाहते हैं । यह शांति का मार्ग है ।’’

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.