Friday, Feb 26, 2021
-->
quarantine time extended to 31 january for travelers coming from uk prshnt

नए स्ट्रेन का खतरा बढ़ता देख UK से आने वाले यात्रियों के लिए क्वारंटीन का समय बढ़या

  • Updated on 1/15/2021

नई दिल्ली/ टीम डिजिटल। दुनिया भर में तेजी से कोरोना वायरस (Coronavirus) का नये स्ट्रेन के मामले बढ़ते जा रहे हैं ऐसे में  ब्रिटेन (Britain) से दिल्ली आ रहे यात्रियों के लिए दिल्ली सरकार ने अपने पिछले आदेश की समय सीमा को 31 जनवरी तक बढ़ाई है, अब भारत आने वाले यात्रियों के जरूरी क्वारंटीन को दिल्ली सरकार ने 31 जनवरी तक के लिए बढ़ा दिया है। ब्रिटेन से दिल्ली आने वाले यात्रियों के लिए 14 दिनों के अनिवार्य क्वारंटीन का आदेश है, पहले इसे ट्रायल बेसिस पर 14 जनवरी तक के लिए ही लागू किया गया था। वहीं ब्रिटेन से आने वाले सभी यात्रियों का दिल्ली एयरपोर्ट पर RT-PCR टेस्ट अनिवार्य रूप से किया जाएगा और इसका खर्चा यात्री ही देंगे।

वहीं टेय्ट में पॉजिटिव पाए जाने वाले लोगों को एक अलग इंस्टीट्यूशनल आइसोलेशन फैसिलिटी में रखा जाएगा, जो यात्री नेगटिव पाए जाएंगे उनको भी 7 दिन के लिए सरकारी क्वारंटीन में रखा जाएगा और फिर 7 दिन उन्हें होम क्वारंटीन में रहना होगा।

Army Day के मौके पर राष्ट्रपति, PM मोदी ने सेना के शौर्य को किया नमन, कही ये बात

यात्रियों को कोरोना टेस्ट
बता दें कि स्वास्थय मंत्रालय ने ब्रिटेन से आने और जाने वाले लोगों को लेकर कोरोना वायरस के नए स्ट्रेन की वजह से चेतावनी जारी की है। इसलिए अलावा मंत्रालय की ओर से कहा गया है कि ब्रिटेन से  8 जनवरी से 30 जनवरी तक आने और जाने वाले सभी यात्रियों को कोरोना टेस्ट कराना होगा। और इसके पैसे भी यात्रियों को खुद देने होंगे। गौरतलब है कि इसके लिए सरकार ने एकओपी भी जारी की है।

UP के सभी धार्मिक स्थलों की सरकार ने बढ़ाई सुरक्षा, मथुरा, काशी और अयोध्या में CO के नए पद बनाए

कोरोना रिपोर्ट लानी होगी साथ
सरकार ने अपने आदेश में कहा है कि ब्रिटेन से आने वाले सभी यात्रियों को अपने साथ कोरोना की रिपोर्ट लेकर आनी होगी और यह रिपोर्ट पिछले 72 घण्टों से कम समय में कराई गई होनी चाहिए। इससे पहले सरकार को याद हो कि 23 दिसंबर से 31 दिसंबर तक भारत और ब्रिटेन के बीच चलने वाली सभी फ्लाइट्स को कोरोना के नए स्ट्रेन की वजह से रद्द कर दिया गया था। 

कृषि कानूनः एक तरफ वार्ता, दूसरी तरफ कोर्ट में बोली सरकार, कानून वापसी स्वीकार्य नहीं

भारत में रोकना है स्ट्रेन
सरकार ने आदेश दिया है कि आने  वाले समय मैं वह यात्री यात्रा कर सकता है जो कोरोना वायरस की टेस्ट की निगेटिव रिपोर्ट अपने साथ लाए  और वह रिपोर्ट कम से कम 3 दिन पुरानी होनी चाहिए। बता दें यह जानकारी विमानन मंत्री हरदीप सिंह ने दी है। मंत्री का कहना था कि जो यात्री आरटी-पीसीआर रिपोर्ट का इंतजार करेंगे। उनके लिए पर्याप्त व्यवस्था की जाएगी। ऐसी स्थिति में  उनके लिए आइसोलेशन की व्यवस्था की जाएगी। इसके लिए उनसे सबंधित राज्यों के स्वास्थ्य विभाग से मदद ली जाएगी। ताकि नए कोरोना वायरस का स्ट्रेन भारत में तेजी से न फैले।  

राकेश टिकैत बोले- गतिरोध सुलझाने के लिए मोदी सरकार से बातचीत जारी रहना चाहते हैं किसान संघ

इन देशों में पहुंचा नया स्ट्रेन
ब्रिटेन में निकले वायरस के नए वैरिएंट का संक्रमण अब तक डेनमार्क, नीदरलैंड, ऑस्‍ट्रेलिया, इटली, स्‍वीडन, फ्रांस, स्‍पेन, स्‍विटजरलैंड, जर्मनी, कनाडा, जापान, लेबनान और सिंगापुर में फैल चुका है। निर्धारित अंतरराष्‍ट्रीय उड़ानों को 23 मार्च तक निरस्‍त किया गया है। हालांकि इस साल मई माह से वंदे भारत मिशन के तहत विशेष विमानों को आवाजाही जारी है। वहीं एयर बबल समझौते के तहत भारत ने ब्रिटेन समेत 24 देशों से डील की है। 

यहां पढ़े अन्य बड़ी खबरें...

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।

comments

.
.
.
.
.