Wednesday, Jan 27, 2021

Live Updates: Unlock 8- Day 26

Last Updated: Tue Jan 26 2021 10:47 AM

corona virus

Total Cases

10,677,710

Recovered

10,345,278

Deaths

153,624

  • INDIA10,677,710
  • MAHARASTRA2,009,106
  • ANDHRA PRADESH1,648,665
  • KARNATAKA936,051
  • KERALA911,382
  • TAMIL NADU834,740
  • NEW DELHI633,924
  • UTTAR PRADESH598,713
  • WEST BENGAL568,103
  • ODISHA334,300
  • ARUNACHAL PRADESH325,396
  • RAJASTHAN316,485
  • JHARKHAND310,675
  • CHHATTISGARH296,326
  • TELANGANA293,056
  • HARYANA267,203
  • BIHAR259,766
  • GUJARAT258,687
  • MADHYA PRADESH253,114
  • ASSAM216,976
  • CHANDIGARH183,588
  • PUNJAB171,930
  • JAMMU & KASHMIR123,946
  • UTTARAKHAND95,640
  • HIMACHAL PRADESH57,210
  • GOA49,362
  • PUDUCHERRY38,646
  • TRIPURA33,035
  • MANIPUR27,155
  • MEGHALAYA12,866
  • NAGALAND11,709
  • LADAKH9,155
  • SIKKIM6,068
  • ANDAMAN AND NICOBAR ISLANDS4,993
  • MIZORAM4,351
  • DADRA AND NAGAR HAVELI3,377
  • DAMAN AND DIU1,381
Central Helpline Number for CoronaVirus:+91-11-23978046 | Helpline Email Id: ncov2019 @gov.in, ncov219 @gmail.com
racism cas india expresses strong response icc asks for report pragnt

नस्लवाद मामला: भारत ने जाहिर की कड़ी प्रतिक्रिया, ICC ने मांगी रिपोर्ट

  • Updated on 1/11/2021

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। भारत ने आस्ट्रेलिया के खिलाफ तीसरे टेस्ट मैच के दौरान भारतीय क्रिकेटरों के खिलाफ की गई नस्ली टिप्पणियों पर कड़ी प्रतिक्रिया व्यक्त की है। वहीं भारतीय क्रिकेट बोर्ड (BCCI) के सचिव जय शाह ने भी इस मामले में कहा कि 'भेदभावपूर्ण हरकतों को बर्दाश्त नहीं किया जाएगा' क्योंकि खेल और समाज में नस्लवाद के लिए कोई जगह नहीं है।

नस्लीय टिप्पणी पर विराट के साथ आए सचिन, बोले- ऐसे लोगों के लिए मैदान में कोई जगह नहीं

BCCI सचिव ने की कड़ी निंदा
बीसीसीआई सचिव जय शाह ने उपद्रवी दर्शकों द्वारा तेज गेंदबाज मोहम्मद सिराज और जसप्रीत बुमराह के लिए की गई टिप्पणियों की कड़ी निंदा की। इन दर्शकों को बाद में स्टेडियम से बाहर कर दिया गया। शाह ने ट्वीट किया, 'हमारे इस खेल और हमारे समाज में नस्लवाद के लिये कोई स्थान नहीं है। मैंने क्रिकेट आस्ट्रेलिया के अधिकारियों से बात की और उन्होंने दोषियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई का आश्वासन दिया है। बीसीसीआई और क्रिकेट आस्ट्रेलिया दोनों एक साथ हैं। ऐसी भेदभावपूर्ण हरकतों को बर्दाश्त नहीं किया जाएगा।'

IND vs AUS: सिडनी में सिराज पर फिर से नस्लीय टिप्पणी, भारत ने दर्ज कराई शिकायत

10 मिनट के लिए रुका खेल
पहली बार आस्ट्रेलियाई दौरे पर गया 26 वर्षीय सिराज नियमों का पालन करते हुए तुरंत ही कप्तान अजिंक्य रहाणे और मैदानी अंपायरों के पास गया और उन्हें घटना से अवगत कराया। इससे खेल 10 मिनट तक रुका रहा। सुरक्षार्किमयों को बुलाया गया जिन्होंने छह दर्शकों को स्टेडियम से बाहर कर दिया। इससे पहले शनिवार को नशे में धुत एक व्यक्ति ने बुमराह और सिराज के लिए अपशब्दों का उपयोग किया था। क्रिकेट आस्ट्रेलिया और अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (ICC) ने भी मैच के तीसरे और चौथे दिन घटी इन घटनाओं की कड़ी निंदा की है। दुनिया भर के क्रिकेटरों ने भी एक स्वर में कहा कि किसी भी खेल में नस्लवाद के लिये कोई जगह नहीं है।

सौरव गांगुली को मिली अस्पताल से छुट्टी, 'दादा' ने स्वास्थ्य को लेकर कही ये बात

भारतीय खिलाड़ियों के खिलाफ नस्ली टिप्पणी
भारतीय क्रिकेटरों विशेषकर तेज गेंदबाज मोहम्मद सिराज को आस्ट्रेलिया के खिलाफ तीसरे टेस्ट क्रिकेट मैच में लगातार दूसरे दिन नस्ली टिप्पणियों का सामना करना पड़ा जिसके कारण चौथे दिन का खेल कुछ समय के लिये रुका रहा, कुछ दर्शकों को बाहर किया गया और क्रिकेट जगत ने इसकी कड़ी भर्त्सना की। बीसीसीआई के सूत्रों के अनुसार सिराज के लिये 'ब्राउन डॉग' और 'बिग मंकी' कहा गया। सिराज के पिता का हाल में निधन हुआ था और वह अब भी गमजदा हैं।

हिंदू महासभा ने भाजपा शासित प्रदेश में शुरू की गांधी के हत्यारे गोडसे की ‘ज्ञानशाला’

CA ने मांगी माफी
बीसीसीआई पहले ही अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (आईसीसी) के मैच रेफरी डेविड बून के पास इसकी शिकायत कर चुका है। क्रिकेट आस्ट्रेलिया (सीए) के इंटिग्रिटी एवं सुरक्षा प्रमुख सीन केरोल ने कहा, 'श्रृंखला का मेजबान होने के नाते हम भारतीय क्रिकेट टीम में अपने मित्रों से माफी मांगते हैं और उन्हें आश्वासन देते हैं कि हम इस मामले में कड़ी कार्रवाई करेंगे।' उन्होंने कहा, 'अगर आप नस्ली अपशब्द का इस्तेमाल करते हो तो आस्ट्रेलियाई क्रिकेट में आपका स्वागत नहीं है। सीए को शनिवार को सिडनी क्रिकेट मैदान पर की गई शिकायत के मामले में आईसीसी की जांच के नतीजे का इंतजार है।'

उत्तर प्रदेश : मथुरा में श्रीकृष्ण जन्मभूमि-ईदगाह विवाद में होगी कोर्ट सुनवाई

ICC ने मांगी रिपोर्ट
केरोल कहा, 'जिम्मेदार लोगों की पहचान होने के बाद सीए अपनी उत्पीड़न रोधी संहिता के तहत कड़े कदम उठाएगा जिसमें लंबे प्रतिबंध और न्यू साउथ वेल्स पुलिस के पास मामला भेजना भी शामिल है।' दुबई में आईसीसी ने भी बयान जारी करके इन घटनाओं की कड़ी निंदा की और सीए से कार्रवाई की रिपोर्ट मांगी। सीनियर ऑफ स्पिनर रविचंद्रन अश्विन ने दिन का खेल समाप्त होने के बाद ऑनलाइन संवाददाता सम्मेलन में कहा कि भारतीय खिलाड़ियों ने पहले भी सिडनी में नस्लवाद का सामना किया है।

तो क्या किसान आंदोलन को संजीवनी मान बैठी है कांग्रेस, पार्टी ने घोषित किए कई कार्यक्रम

सख्ती से निपटने की जरूरत- अश्विन 
अश्विन ने कहा, 'यह ऑस्ट्रेलिया का मेरा चौथा दौरा है। खासकर सिडनी में हमें अतीत में भी इसका सामना करना पड़ा है।' उन्होंने कहा, 'एक या दो बार खिलाड़ियों ने इस पर प्रतिक्रिया दी और वे मुश्किल में फंस गये क्योंकि वे खिलाड़ी हैं। लेकिन दर्शक जिस तरह की टिप्पणी कर रहे थे वह कहीं से सही नहीं था। मैंने खुद भी इसका सामना किया है। वे अपशब्दों का इस्तेमाल करते है। मुझे नहीं पता वे ऐसा क्यों करते हैं।' आस्ट्रेलियाई कोच जस्टिन लैंगर ने इस घटना पर निराशा व्यक्त करते हुए ऐसे व्यवहार को शर्मनाक करार दिया।

किसान नेता राकेश टिकैत बोले- वो हम पर लाठी चलाएंगे और हम राष्ट्रगान गाएंगे

आस्ट्रेलिया में ऐसा होते हुए देखना दुखद
उन्होंने कहा, 'मेरे कहने का मतलब है कि एक खिलाड़ी के रूप में मैं इससे नफरत करता था, एक कोच के रूप में इससे नफरत करता हूं, हमने दुनिया के विभिन्न हिस्सों में ऐसा देखा है और आस्ट्रेलिया में ऐसा होते हुए देखना दुखद है।' नस्ली टिप्पणी की घटनाओं ने 2007-08 के मंकीगेट कांड की यादों को भी ताजा कर दिया। मंकीगेट प्रकरण भी सिडनी टेस्ट के दौरान हुआ था जब एंड्रयू साइमंड्स ने दावा किया था कि हरभजन सिंह ने कई बार उनके प्रति नस्ली टिप्पणी की। भारतीय आफ स्पिनर को हालांकि सुनवाई के दौरान इस मामले में पाक साफ करार दिया गया।

ट्रंप के ट्विटर अकाउंट बंद करने में इस भारतवंशी की रही अहम भूमिका, कानून के तहत लिया गया फैसला

विराट कोहली ने दी कड़ी प्रतिक्रिया
भारत के नियमित कप्तान और पितृत्व अवकाश पर चल रहे विराट कोहली ने भी भारतीय टीम का समर्थन किया। कोहली ने ट्विटर पर लिखा, 'नस्ली दुर्व्यवहार पूरी तरह से अस्वीकार्य है। सीमा रेखा पर क्षेत्ररक्षण करते समय मुझे भी घटिया बातें सुननी पड़ी है और यह अभद्र व्यवहार की चरम सीमा है। मैदान पर इस तरह की घटनाएं देखना दुखद है।'

भारतीय क्रिकेटरों के खिलाफ नस्ली टिप्पणियां, BCCI सचिव जय शाह नाराज

नस्लीय कमेंट बिल्कुल भी बर्दाशत नहीं- कोहली
बता दें कि इससे पहले भारतीय कफ्तान विराट कोहली ने भी इस बार मैदान में खिलाड़ियों के साथ होने वाली नस्लीय टिप्पणी को लेकर कड़ी प्रतिक्रिया दी है। विराट ने कहा है कि कहा था कि नस्लीय कमेंट बिल्कुल भी बर्दाशत नहीं किए जाएंगे। वह कहते हैं कि बाउंड्री लाइन पर वास्तव में उपद्रवी बर्ताव की सारी हदें पार कर दी है। मैदान पर ऐसा होते देखना दुखद है। इस पर विराट कोहली ने कहा है कि इस मामले को पूरी गंभीरता से लेना चाहिए और ऐसे लोगों के खिलाफ कार्यवाही की जानी चाहिए। 

गांगुली की जगह ICC की अगली अहम बोर्ड बैठक में भाग लेंगे जय शाह

मैदान में की गई नस्लीय टिप्पणी
गौरतलब है कि टीम इंडिया के कई खिलाड़ियों की हाल में मैदान में नस्लीय टिप्पणियों का सामना करना पड़ा था। नस्लीय टिप्पणी के दौरान कई खिलाड़ियों को ऑस्ट्रेलिया के लोगों ने ब्राउन डॉग कहा था। वह लगातार कई मैचों में खिलाड़ियों के साथ इस तरह का बर्ताव किया गया था। वह तरह-तरह की नस्लीय टिप्पणियों के सहारे टीम इंडिया के खिलाड़ियों को परेशान करने की कोशिश कर रहे थे। बता दें मोहम्मद सिराज को नस्लीय टिप्पणियों का सामना करना पड़ा था। चार टेस्ट मैचों की श्रृंखला अभी 1-1 से बराबरी पर है। चौथा और अंतिम टेस्ट मैच 15 जनवरी से ब्रिस्बेन में खेला जाएगा।

comments

.
.
.
.
.