Wednesday, Jan 19, 2022
-->
radha swami covid 19 center arvind kejriwal say thanks on amit shah response rkdsnt

राधा स्वामी कोविड सेंटर : अमित शाह के जवाब पर केजरीवाल बोले- मदद के लिए शुक्रिया

  • Updated on 6/23/2020

 

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने आज केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह को पत्र लिखकर दक्षिण दिल्ली में स्थापित की जा रही 10,000 बेड वाली कोविड-19 देखभाल इकाई को संचालित करने के लिए भारत तिब्बत सीमा पुलिस (आईटीबीपी) और सेना से डॉक्टरों और नर्सों की मांग की थी। 

राधा स्वामी कोविड सेंटर : केजरीवाल की मांग पर अमित शाह ने दिया कुछ ऐसा जवाब

इसको लेकर अमित शाह ने कुछ ऐसा जवाब दिया, 'प्रिय केजरीवाल जी, इसका फैसला तीन दिन पहले हमारी बैठक में लिया जा चुका है और गृहमंत्रालय 10,000 बिस्तरों वाले दिल्ली के राधा स्वामी व्यास में कोविड केयर सेंटर के संचालन का जिम्मा आईटीबीपी को सौंप चुका है। काम पूरे जोरों पर है और 26 जून तक ज्यादातर सुविधाएं शुरु हो जाएंगी।' 

अमित शाह की सक्रियता के बावजूद दिल्ली में नहीं थम रहे हैं कोरोना मामले, जानिए 24 घंटों का हाल

‘कोरोनिल’ का परीक्षण ICU में भर्ती हुए कोरोना मरीजों पर भी करेंगी पतंजलि : बाबा रामदेव

अब केजरीवाल ने अपने ट्वीट में शाह को शुक्रिया करते हुए लिखा है, 'देश की सेना, डाक्टर्ज़, सामाजिक संस्थाएँ, केंद्र सरकार और दिल्ली सरकार - सभी दिल्ली के लिए एकजुट होकर काम कर रहे है। मुझे पूरा यक़ीन है हम सब मिल कर कोरोना को हराएँगे। इन कठिन परिस्थितियों में दिल्ली सरकार और दिल्ली के लोगों की मदद करने के लिए शुक्रिया।'

डोनाल्ड ट्रंप ने H-1B वीजा पर रोक लगाई, सुंदर पिचाई ने जताई नाराजगी

इससे पहले मुख्यमंत्री केजरीवाल ने शाह को आध्यात्मिक संगठन राधा स्वामी सत्संग व्यास के विशाल परिसर में स्थापित की जा रही इकाई का दौरा करने के लिए भी आमंत्रित किया। सूत्रों ने कहा कि केजरीवाल ने कोविड-19 देखभाल इकाई को संचालित करने के लिए भारत-तिब्बत सीमा पुलिस (आईटीबीपी) और सेना से डॉक्टरों और नर्सों की मांग की है। राधा स्वामी सत्संग व्यास का परिसर दिल्ली-हरियाणा सीमा पर स्थित है। 

योगी आदित्यनाथ के एक करोड़ रोजगार दावे पर अखिलेश यादव ने उठाए सवाल

कोविड-19 की यह इकाई 1700 फुट लंबी और 700 फुट चौड़ी होगी। इसमें 200 प्रकोष्ठ होंगे और प्रत्येक प्रकोष्ठ में 50 बिस्तर होंगे। गत सप्ताह दिल्ली सरकार ने कहा था कि दिल्ली में कोविड-19 के बढ़ते मामलों से निटपने के लिए राधा स्वामी सत्संग व्यास परिसर को विश्व के सबसे बड़े अस्थायी कोविड-19 देखभाल इकाई में परिर्वितत किया जा रहा है। 

शिवसेना की नसीहत- चीन को जवाब देने के लिए भारत को ट्रंप पर निर्भर रहने के बजाय....

इस महीने के शुरू में केजरीवाल ने कहा था कि इसका इस्तेमाल कोविड-19 के बिना लक्षण वाले या हल्के लक्षण वाले उन मरीजों को पृथकवास में रखने के लिए किया जाएगा जिन्हें घर पर पृथकवास में रहने में परेशानी है। केजरीवाल ने कहा था कि दिल्ली की स्वास्थ्य देखभाल इकाइयों में 31 जुलाई तक 1.5 लाख बेड की जरूरत होगी जब दूसरे राज्यों से लोग इलाज के लिए दिल्ली शहर में आने शुरू हो जाएंगे। 

अहमदाबाद में जगन्नाथ रथ यात्रा पर जारी रहेगी रोक, गुजरात हाई कोर्ट अपने फैसले पर अडिग

उन्होंने कहा था कि उनकी सरकार के सामने आने वाले समय में ‘‘अभूतपूर्व चुनौतियां’’ हैं क्योंकि आंकडों से पता चलता है कि आने वाले दिनों में दिल्ली में कोविड-19 के मामलों में तेज बढ़ोतरी होगी। सोमवार को दिल्ली में कोविड-19 के 2909 नये मामले सामने आये जिससे यहां इसके कुल मामले बढ़कर 62 हजार से अधिक हो गए। वहीं मृतक संख्या बढ़कर 2233 हो गई।

 

 

यहां पढ़ें कोरोना से जुड़ी महत्वपूर्ण खबरें...

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।

comments

.
.
.
.
.