Tuesday, Aug 21, 2018

राफेल डील की स्वतंत्र जांच के लिए कांग्रेस ने सुप्रीम कोर्ट में दायर की जनहित याचिका

  • Updated on 3/13/2018

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। सुप्रीम कोर्ट में आज एक याचिका दायर कर फ्रांस से 36 राफेल विमानों की खरीद के केंद्र की मोदी सरकार के फैसले की स्वतंत्र जांच कराने और सौदे पर आने वाली लागत का संसद के समक्ष खुलासा करने की मांग की गई है।

भाजपा की ओर से नारायण राणे की राज्यसभा उम्मीदवारी पर शिवसेना ने फंसाया पेंच

इस याचिका पर इसी हफ्ते सुनवाई हो सकती है। याचिका में आरोप लगाया गया है कि यह रक्षा मंत्रालय की जिम्मेदारी है कि वह समूचे सौदे पर आने वाली लागत का खुलासा संसद और जनता के समक्ष करे।   

Twiplomacy का दावा- पीएम मोदी के ज्यादातर ट्विटर फॉलोअर्स हैं फर्जी!           

कांग्रेस नेता तहसीन पूनावाला ने यह याचिक दायर की है। याचिका में कहा गया है, 'प्रतिवादियों (केंद्र और रक्षा मंत्रालय) को निर्देश दिया जाए कि वे 36 राफेल लड़ाकू विमानों की खरीद में आने वाली कुल लागत का खुलासा करें।'

सोनिया गांधी के सियासी डिनर में खुद नहीं पहुंचे मायावती, ममता, अखिलेश

याचिका में केंद्र को यह बताने का निर्देश दिए जाने की मांग की गई है कि क्यों 23 सितंबर 2016 को फ्रांस के साथ इन लड़ाकू विमानों की खरीद के लिए करार पर दस्तखत करने से पहले रक्षा खरीद प्रक्रिया ( डीपीपी) के तहत इस बाबत मंत्रिमंडल की मंजूरी नहीं ली गई। 

अमिताभ की बीमारी के बारे में उनकी धर्म पत्नी जया बच्चन ने किया खुलासा

याचिका में दावा किया गया है कि कंपनी डसॉल्ट से 36 राफेल विमानों की खरीद के लिए रक्षा सौदे की घोषणा प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की फ्रांस की राजकीय यात्रा के दौरान की गई।

अरविंद केजरीवाल ने दिल्ली में सीलिंग मुद्दे पर राहुल गांधी को दिया बड़ा चैलेंज

याचिका में कहा गया है, 'यह प्रधानमंत्री की पेरिस यात्रा को चमक-दमक प्रदान करने का एक प्रयास था। यह घोषणा सौदे के बारे में जल्दबाजी में की गई घोषणा थी। इसकी घोषणा सामान्य प्रक्रिया, औपचारिक प्रक्रिया का पालन किए बिना की गई।'

INX मीडिया मामले में कार्ति चिदंबरम के सीए को मिली कोर्ट से बड़ी राहत

राफेल सौदे के तहत 36 राफेल लड़ाकू विमानों की खरीद के लिए भारत और फ्रांस की सरकारों ने एक समझौते पर हस्ताक्षर किए थे। राफेल लड़ाकू विमान दोहरे इंजन वाला अनेक भूमिकाएं निभाने वाला मध्यम लड़ाकू विमान है। इसका निर्माण फ्रांसीसी एयरोस्पेस कंपनी डसॉल्ट एविएशन करती है।

जया के समर्थन में अखिलेश ने नरेश अग्रवाल को लिया आड़े हाथ, मुलायम सिंह भी सख्त

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.