Wednesday, Dec 01, 2021
-->
rahul gandhi accusation goi vaccine policy is compounding the problem pragnt

Vaccination: राहुल गांधी का आरोप- भारत सरकार की वैक्सीन नीति बढ़ा रही है समस्या

  • Updated on 5/14/2021

नई दिल्ली/ टीम डिजिटल। कोरोना टीकाकरण नीति को लेकर कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी लागतार केंद्र सरकार पर निशाना साध रहे हैं। इस बार उन्होंने ट्वीट कर आरोप लगाया कि भारत सरकार की वैक्सीन नीति समस्या को बढ़ा रही है। राहुल गांधी ने सुझाव दिया कि केंद्र को टीकों की खरीदी कर उसके वितरण की जिम्मेदारी राज्यों पर छोड़नी चाहिए।

PM नरेंद्र मोदी ने आज जारी की PM-KISAN की आठवीं किश्त, लाभार्थियों के बैंक खातों में जाएगी रकम

राहुल गांधी का आरोप
कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने ट्वीट कर लिखा, 'भारत सरकार की वैक्सीन नीति समस्या को और बिगाड़ रही है, जो भारत झेल नहीं सकता। वैक्सीन की खरीद केंद्र को करनी चाहिए और वितरण की ज़िम्मेदारी राज्यों को दी जानी चाहिए।' बता दें कि कांग्रेस मुफ्त टीकाकरण कर मांग कर रही है और केंद्र की टीकाकरण नीति को भेदभावपूर्ण बताती रही है। इससे पहले राहुल गांधी ने पीएम मोदी पर निशाना साधते हुए कहा कि ऐसे समय में जब देश कोरोना महामारी का सामना कर रहा है, टीके, ऑक्सीजन और दवाओं के साथ वह खुद भी गायब हैं। 

कोविशील्ड की डोज में 12 हफ्ते से ज्यादा का अंतराल कारगर? जानें क्या बोले AIIMS डायरेक्टर

वैक्सीन, ऑक्सीजन और दवाओं के साथ PM भी गायब- राहुल 
गुरुवार को राहुल गांधी ने एक ट्वीट कर कहा, 'वैक्सीन, ऑक्सीजन और दवाओं के साथ साथ प्रधानमंत्री भी गायब हैं। बचे हैं तो बस सेंट्रल विस्टा, दवाओं पर जीएसटी और यहां-वहां प्रधानमंत्री की फोटो।' बता दें कि कोरोना वायरस के प्रबंधन को लेकर राहुल गांधी प्रधानमंत्री पर लगातार हमले बोल रहे हैं और देश में संक्रमण के बढ़ते मामलों के मद्देनजर ऑक्सीजन, दवाओं और टीकों की हो रही कमी के लिए सरकार की आलोचना कर रहे हैं।

ऑक्सीजन संकट से गुजर रहा गोवा! चार घंटे में कोरोना के 15 और मरीजों की हुई मौत

सरकार ने दी वैक्सीन के बीच समय बढ़ाने को मंजूरी
आपको बता दें कि भारत सरकार ने कोविशील्ड टीके की दो डोज लगवाने के बीच के समयांतर को 6-8 सप्ताह से बढ़ाकर 12-16 सप्ताह करने की कोविड-19 कार्य समूह की सफारिश को स्वीकार कर लिया है। केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने बृहस्पतिवार को दो डोज के बीच समयांतर की घोषणा करते हुए उक्त बात बतायी। मंत्रालय ने कहा, लेकिन कोवैक्सीन के दो डोज के समयांतर (पहला और दूसरा डोज लगने के बीच का समय) में कोई बदलाव नहीं किया गया है।

कोरोना मामले में आई मामूली गिरावट, 24 घंटे में 3,42,896 नए केस और 3,997 की मौत

उसने कहा, ‘‘वास्तविक समय के साक्ष्यों, विशेष रूप से ब्रिटेन से प्राप्त, के आधार पर कोविड-19 कार्य समूह कोविशील्ड टीके के दो डोज के बीच समयांतर को बढ़ाकर 12 से 16 सप्ताह करने पर राजी हो गया है। कोवैक्सीन के दो डोज के बीच समयांतर में बदलाव की कोई सिफारिश नहीं की गयी है।’’ 

 

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।

comments

.
.
.
.
.