Monday, Mar 01, 2021
-->
rahul gandhi attack bjp govt asked how many times hathras incident will be repeated pragnt

BJP सरकार पर भड़के राहुल गांधी, पूछा- हाथरस जैसी घटना कितनी बार दोहरायी जाएगी?

  • Updated on 1/22/2021

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) में भी उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) की तरह गैंगरेप का शिकार हुई पीड़िता का अंतिम संस्कार किया गया। भोपाल (Bhopal) में नाबालिग रेप पीड़िता की सरकारी हमीदिया अस्पताल में मौत हो गई। पीड़िता की मां ने आरोप लगाया कि वह घर बेटी का इंतजार कर रही थी लेकिन पुलिस शव को सीधे श्मशान ले गई। बाद में परिवार वालों को ले जाकर अंतिम संस्कार करवा दिया गया। इस मामले में कांग्रेस (Congress) के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी (Rahul Gandhi) ने एक बार फिर बीजेपी सरकार पर निशाना साधा है। राहुल गांधी ने ट्वीट कर पूछा कि हाथरस जैसी अमानवीयता कितनी बार दोहरायी जाएगी?

कांग्रेस CWC की बैठक जारी, नए अध्यक्ष के चुनाव को लेकर स्थिति स्पष्ट होने की संभावना

राहुल गांधी ने किया ट्वीट
कांग्रेस नेता ने ट्वीट कर लिखा, 'हाथरस जैसी अमानवीयता कितनी बार दोहरायी जाएगी? भाजपा सरकार महिला सुरक्षा में तो फेल है ही, पीड़िताओं और उनके परिवार से मानवीय व्यवहार करने में असमर्थ भी है।'

विधानसभा चुनावों से पहले ममता को लगा एक और झटका, अब इस मंत्री ने दिया इस्तीफा

कमलनाथ ने घटना को बताया- शर्मनाक
मध्य प्रदेश के पूर्व सीएम कमलनाथ ने कहा, 'यह घटना बेहद निंदनीय, बेहद शर्मनाक.... शिवराज सरकार में भांजियां कही भी सुरक्षित नहीं? प्रदेश की राजधानी में यौन शोषण की शिकार मासूम बच्चियां बालिका गृह में भी सुरक्षित नहीं? कितनी अमानवीयता, मृत पीडिता को उसके घर तक नहीं जाने दिया, उससे अपराधियों जैसा व्यवहार ?

कमलनाथ ने की कड़ी कार्रवाही की मांग
 उन्होंने कहा, ' उसके परिवार को अंतिम रीति-रिवाजों से भी वंचित किया गया, यह कैसी निष्ठुर व्यवस्था, कहां है जिम्मेदार, प्रदेश को कितना शर्मशार करेंगे? मामला बेहद गंभीर, मामले की सीबीआई जांच हो, बाकी बालिकाओं को भी पूर्ण सुरक्षा प्रदान की जावे और उनके इलाज की भी समुचित व्यवस्था हो। दोषियों पर कड़ी से कड़ी कार्यवाही हो।'

नीतीश सरकार के खिलाफ Social Media पर लिखना पड़ेगा भारी, ADG से विभागों को लिखा पत्र

कांग्रेस का शिवराज सरकार पर हमला
कांग्रेस के राष्ट्रीय प्रवक्ता रणदीप सिंह सुरजेवाला ने भी शिवराज सरकार पर हमला किया है। उन्होंने ट्वीट कर लिखा, 'अपराध और उसका सरकारी सबूत... हे शिवराज सरकार... दोषी हो तुम। हे भाजपाई सरकार, तुमने हमेशा देश की बेटियों को बगैर सबूत जलाने का काम किया, हाथरास हो या फिर भोपाल। हम लड़ेंगे तुम्हारे इस अन्याय के खिलाफ। समर शेष है, नहीं पाप का भागी केवल व्याध जो तटस्थ हैं, समय लिखेगा उनके भी अपराध।'

सुप्रीम कोर्ट की ओर से गठित कमेटी ने किसान संगठनों से शुरू की बातचीत

रेप पीड़िता की अस्पताल में मौत
भोपाल में 17 वर्षीय एक कथित दुष्कर्म पीड़िता की बुधवार रात को एक अस्पताल में मौत हो गई। दुष्कर्म के इस मामले में एक अखबार का मालिक आरोपी है। एक अधिकारी ने बताया कि किशोरी ने यहां सरकारी बालिका आश्रय गृह में नींद की गोलियां खा ली थीं, इसके बाद उसे सोमवार रात को गंभीर हालत में सरकारी हमीदिया अस्पताल में भर्ती कराया गया था। जिला प्रशासन ने बुधवार को ही इस मामले में न्यायिक जांच के आदेश दिए हैं।

विधान परिषद चुनावों के परिणाम घोषित, पूर्व IAS ऑफिसर अरविंद शर्मा भी निर्वाचित

डॉ आई डी चौरसिया ने कहा ये
हमीदिया अस्पताल के अधीक्षक डॉ आई डी चौरसिया ने गुरुवार को बताया कि किशोरी को सोमवार रात को गंभीर हालत में अस्पताल में भर्ती कराया गया था, बुधवार रात को उसकी मौत हो गयी। शव का पोस्टमार्टम कराया जा रहा है। गौरतलब है कि पिछले साल जुलाई में स्थानीय अखबार चलाने वाले प्यारे मियां (68) के खिलाफ पांच नाबालिग लड़कियों के साथ बलात्कार करने के आरोप में मामला दर्ज किया गया था। पुलिस महानिरीक्षक (आईजी) उपेन्द्र जैन ने बताया कि जिस लड़की ने सोमवार रात को नींद की गोलियां खाई थीं, वह इन पांच पीड़ित बालिकाओं में से एक थी।

राम मंदिर के लिए चंदा न देने पर दी गैर हाजिर करने की धमकी : सफाईकर्मियों ने किया प्रदर्शन

यहां है पीड़ित लड़कियां
उन्होंने बताया कि पीड़ित लड़कियों को सुरक्षा के मद्देनजर सरकारी बालिका आश्रय गृह में रखा गया था, इनमें से दो बालिकाओं की तबीयत सोमवार रात को बिगड़ गई और उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया। उन्होंने बताया कि इनमें से एक लड़की की हालत बेहद नाज़ुक होने पर सोमवार रात को ही उसे हमीदिया अस्पताल रेफर किया गया था। आईजी ने बताया कि घटना के बाद जिलाधिकारी ने मामले की न्यायिक जांच के आदेश दिए हैं। जांच रिपोर्ट आने के बाद ही असली तस्वीर सामने आएगी।

अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी को मोदी सरकार ने दिया आर्थिक पैकेज

थाना प्रभारी का मानना है ये
इस बीच, कमला नगर थाना प्रभारी विजय सिसोदिया ने गुरुवार को बताया कि अत्यधिक मात्रा में नींद की गोलियों का सेवन करने वाली दुष्कर्म पीड़िता का हमीदिया अस्पताल में उपचार किया जा रहा था लेकिन बुधवार रात को अस्पताल में उसकी मौत हो गयी। उन्होंने कहा कि यह पता लगाया जा रहा है कि आश्रय गृह में उसे नींद की गोलियां कैसे मिलीं । गौरतलब है कि पिछले साल जुलाई में भोपाल के रातिबाड़ इलाके में पांच लड़कियों के नशे की हालत में घूमने के बाद प्यारे मियां और उसकी साथी स्वीटी विश्वकर्मा (21) के खिलाफ मामला दर्ज किया गया था। मियां पर आरोप है कि उसने नाबालिग लड़कियों का यौन शोषण किया। पुलिस ने बाद में उसे जम्मू-कश्मीर से गिरफ्तार किया था।

वाराणसी: देश में वैक्सीनेशन का काम जारी, PM मोदी वैक्सीन लगावा चुके लोगों से करेंगे सवांद

क्या है हाथरस केस?
सितंबर माह में हाथरस जिले के चंदपा इलाके के एक गांव में 20 साल की एक दलित युवती से कथित सामूहिक बलात्कार की घटना ने प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार के लिए असहज स्थितियां पैदा कर दीं। गत 14 सितंबर को हुई इस घटना की शिकार लड़की ने करीब 14 दिन बाद दिल्ली के एक अस्पताल में दम तोड़ दिया। जिला प्रशासन ने कथित रूप से परिवार की मर्जी के बगैर देर रात लड़की का अंतिम संस्कार कर दिया। इस घटना को लेकर व्यापक प्रतिक्रिया हुई। पूरे देश में जगह-जगह इसके खिलाफ प्रदर्शन हुए।

यहां पढ़ें अन्य बड़ी खबरें...

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।

comments

.
.
.
.
.